बीए के बाद 14+ बेस्‍ट कोर्स,जॉब और फायदे

B.A एक स्नातक डिग्री है जिसको 12वीं पास करने के बाद किया जाता है. कई स्टूडेंट के मन में यह बात जरूर आती है कि BA ke baad kya kare बीए करने के बाद क्या करें बीए के बाद कौन-कौन से कोर्स है कौन सी सरकारी नौकरी किया जा सकता है कौन से प्राइवेट नौकरी किए जा सकते हैं. 

अक्सर मन में इस तरह के सवाल आता है और इंटरनेट पर इसके बारे में सर्च भी करते रहते हैं तो इस लेख में बीए के बाद क्या करना चाहिए सभी जानकारी मिलेगी. यह एक ग्रेजुएशन कोर्स है जिसको करने के बाद व्‍यक्ति को ग्रेजुएट कहा जाता है. 

किसी भी सरकारी नौकरी के लिए या किसी भी प्राइवेट कंपनी में अधिकतर बीए किए हुए ही एंप्लॉई को हायर किया जाता है. यह एक ऐसा कोर्स है जिसको करने के बाद ही किसी भी सरकारी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं या आगे के किसी रोजगार के बारे में या अपने कैरियर को आगे बढ़ाने में विकल्प को चुनने के बारे में सोच सकते हैं लेकिन और क्‍या क्‍या कर सकते हैं आइए नीचे विस्‍तार से जानते हैं.बीकॉम के बाद क्या करें

बीए के बाद क्‍या करें

बीए एक अंडर ग्रेजुएट कोर्स है जोकि 3 साल में पूरा किया जाता है. b.a. का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ आर्ट्स होता है. इसे हिंदी में स्नातक कहा जाता है. यह बहुत ही पॉपुलर कोर्स है और बहुत ही पुराना कोर्स भी है.

यह कोर्स इतिहास, हिंदी, संस्कृत, अंग्रेजी, मनोविज्ञान, समाजशास्त्र, राजनीतिक विज्ञान, होम साइंस आदि सब्जेक्ट से किया जाता है.

इस कोर्स को करने के बाद कई तरह के रोजगार के रास्ते खुल जाते हैं. कई कोर्स हैं जैसे कि एमए, एलएलबी, एमसीए, b.ed m.ed आदि कर सकते हैं.

अगर चाहे तो सरकारी नौकरी में यूपीएससी, बीपीएससी आदि परीक्षा पास करके नौकरी कर सकते हैं. प्राइवेट क्षेत्र में कई बेहतरीन ऑप्शन है उसका भी चुनाव कर सकते हैं बीए का फुल फॉर्म क्या होता हैं

BA ke baad kya kare

साथ ही कई डिप्लोमा कोर्स है उसको भी ग्रेजुएशन करने के बाद कर सकते हैं. बीए के बाद और भी क्या क्या कर सकते हैं उसके बारे में और भी जानकारी प्राप्‍त करते हैं.

BA ke baad kya course kare

ग्रेजुएशन करने के बाद कई मास्टर डिग्री कोर्स है जिसको करने के बाद किसी भी मल्टीनेशनल कंपनी में अच्छे पद पर नौकरी कर सकते हैं या अगर चाहे तो अपना खुद का बिजनेस शुरू कर सकते हैं. बीए के बाद पपुलर कोर्स हैं.बीबीए का फुल फॉर्म क्या होता हैं

M.A.

एमए का फुल फॉर्म मास्टर ऑफ आर्ट्स होता है. जिसे हिंदी में स्नातकोत्तर कहा जाता है. इसे पोस्ट ग्रेजुएशन भी कहा जाता है. इस कोर्स की अवधि 2 साल होती है और इसे ग्रेजुएशन पास करने के बाद किया जाता है. 

भारत में लगभग हर शहर में कॉलेज है जहां से m.a. कर सकते हैं. इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए कई कालेजों में एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता है या कई ऐसे भी कॉलेज हैं जहां डायरेक्ट ऐडमिशन मिल सकता है. 

m.a. करने के बाद कई क्षेत्र में नौकरी भी कर सकते हैं जैसे कि बैंक, मेडिकल, मीडिया, पब्लिक सेक्टर, टीचिंग लाइन आदि. इस कोर्स को साइकोलॉजी, इंग्लिश, हिस्ट्री, पॉलिटिकल साइंस, संस्कृत, इकोनॉमिक्स, सोशियोलॉजी, ज्योग्राफी आदि सब्जेक्ट से कर सकते हैं.एमए का फुल फॉर्म क्या होता हैं

LLB

कई लोगों को वकील बनने का सपना होता है. तो उनके लिए एलएलबी एक बहुत ही बेहतर कोर्स होता है. एलएलबी का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लाॅ होता है. यह एक अंडरग्रैजुएट कोर्स है जिसको बीए करने के बाद किया जाता है. एलएलबी को हिंदी में कानून से स्नातक कहा जाता है. इस कोर्स में कानून से जुड़े हर तरह के जानकारी दिए जाता है.

किस अपराध के लिए कौन सा कानून लगाया जाता है कौन सजा दिया जा सकता हैं के बारे में एलएलबी में बताया जाता है. एलएलबी एक 3 साल का कोर्स होता है जिसको करने के बाद अन्य भी कई क्षेत्रों में भी कार्य कर सकते हैं. जैसे कि लेक्चरर, लीगल एडवाइजर . आगे पीएचडी जैसे कोर्स कर सकते हैं. एलएलबी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

MCA

यह एक मास्टर डिग्री कोर्स है जिसको ग्रेजुएशन के बाद किया जाता है. एमसीए कोर्स 3 साल का होता है जिसमें 6 सेमेस्टर होते हैं. इसका फुल फॉर्म मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन होता है और हिंदी में कंप्यूटर एप्लीकेशन में स्नातकोत्तर कहते हैं.

एमसीए करने के बाद कंप्यूटर का एक्‍सपर्ट बन जाते हैं. कंप्यूटर के हर एक पार्ट्स या उस हर एक के फंक्शन बारे में पूरी तरह से जानकारी हो जाती है. ताकि किसी भी गवर्नमेंट या प्राइवेट सेक्टर में आसानी से जॉब पा सकते हैं.

B.ed

इस कोर्स को b.a. करने के बाद किया जाता है. यह एक दो साल का कोर्स होता है जिसको करने के बाद ज्यादातर टीचिंग लाइन में कैरियर बनाया जा सकता है. b.ed का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ एजुकेशन होता है. 

वर्तमान समय में टीचर के लिए कई बहाली निकल रहे हैं जिसमें टीईटी एसटीईटी आदि एग्जाम के पास करने के बाद किसी भी मिडिल स्कूल प्राइमरी स्कूल हाई स्कूल में टीचर की नौकरी कर सकते हैं तो अगर b.ed की डिग्री आपके पास है तो आसानी से टीचर बन सकते हैं.

MBA

यह एक मास्टर डिग्री है कोर्स हैं. यह बीए के बाद किया जाता है एमबीए का फुल फॉर्म मास्टर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन होता है. जिसे हिंदी में व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर कहा जाता है. एमबीए की डिग्री प्राप्त करने के बाद अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं या किसी भी मल्टीनैशनल कंपनी या गवर्नमेंट सेक्टर में भी अच्छे पद पर नौकरी कर सकते हैं. 

एमबीए 2 साल का कोर्स होता है इस कोर्स में बिजनेस व्यापार को कैसे हैंडल किया जाता है कैसे मैनेज किया जाता है मार्केटिंग मैनेजमेंट कैसे कर सकते हैं सेल्‍स एंप्लॉई को कैसे मैनेज कर सकते हैं आदि की पढ़ाई की जाती है. आईटीआई का फूल फॉर्म क्‍या होता हैं

M.ed

मास्टर ऑफ एजुकेशन का शॉर्ट फॉर्म m.ed है. ग्रेजुएशन कोर्स करने के बाद m.ed कोर्स किया जाता है इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता है. यह डिग्री प्राप्त करने के बाद रोजगार के कई अवसर मिलते हैं इस कोर्स की अवधि 2 वर्ष की होती है.

MSC

एमएससी एक मास्टर डिग्री कोर्स है जिसको b.a. करने के बाद किया जाता है. इसका फुल फॉर्म मास्टर ऑफ साइंस होता है. जिसे हिंदी में साइंस में स्नातकोत्तर कहा जाता है. इसे पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स भी कहा जाता है. एमएससी कोर्स 2 वर्ष में पूरा किया जाता है. इस कोर्स को करने के बाद प्राइवेट सेक्टर गवर्नमेंट सेक्टर में अच्छे पोजीशन पर जॉब प्राप्त कर सकते हैं. स्टूडेंट का फुल फॉर्म क्या होता हैं

BPED 

बीपीईडी एक ऐसा कोर्स है जिसे 12वीं के बाद या बीए करने के बाद किया जाता है. इसका फुल फॉर्म बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन होता है. जिसे हिंदी में शारीरिक शिक्षा में स्नातक कहा जाता है. इस कोर्स का ड्यूरेशन 1 साल से लेकर 4 साल तक का होता है. इसको करने के बाद किसी भी स्कूल में फिजिकल टीचर के रूप में कार्य कर सकते हैं. 

किसी भी स्टूडेंट को फिटनेस ट्रेनर,फिजिकल ट्रेनर, जिम ट्रेनर, योगा ट्रेनर के रूप में ट्रेनिंग दे सकते हैं. इसको करने के बाद अधिकतर स्पोर्ट्स में जिन्हें रूचि है उनको ट्रेंड कर सकते हैं. जो स्टूडेंट ग्रेजुएशन के बाद इस कोर्स को करते हैं वह 1 से 2 साल के समय में पूरा करते हैं. इस कोर्स को करने के बाद स्पोर्ट्स में भी हिस्सा ले सकते हैं.

जर्नलिज्म

b.a. करने के बाद अगर मीडिया में अपना करियर बनाना चाहते हैं एक सफल पत्रकार बनना चाहते हैं न्यूज़ रिपोर्टर या प्रिंट मीडिया में कैरियर बनाने के लिए जर्नलिज्‍म कोर्स कर सकते है जिसको करने के बाद टीवी न्यूज़ चैनल पर एक बहुत ही बेहतरीन न्यूज़ रिपोर्टर बन सकते हैं. जर्नलिज्‍म के कई मास्टर डिग्री है जैसे कि मास्टर ऑफ आर्ट जर्नलिज्म, मास्टर इन कम्युनिकेशन, मास्टर ऑफ आर्ट, मास कम्युनिकेशन आदि.जॉर्नलिस्‍ट कैसे बनें/ न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बनें

फैशन डिजाइनर कोर्स

ग्रेजुएशन करने के बाद अगर चाहते हैं कि फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में अपना करियर बनाएं तो कई कोर्स है जिनको करने के बाद एक सफल फैशन डिजाइनर बनकर अपना कैरियर उज्जवल बना सकते हैं.फैशन डिजाइनर का कोर्स 3 साल का होता है. इसको करने के लिए कई एंट्रेंस एग्जाम है 

जिसको पास करने के बाद फैशन डिजाइनिंग कोर्स किया जा सकता है. फैशन डिजाइनर बनने के लिए कई मास्टर कोर्स है जैसे कि मास्टर एंड फैशन ब्रांड मैनेजमेंट, मास्टर इन फैशन डिजाइन, मास्टर एंड फैशन कलेक्शन मैनेजमेंट, मास्टर ऑफ फैशन मैनेजमेंट, मास्टर इन स्टाइलिश इमेज एंड फैशन कम्युनिकेशन आदि. Education क्या हैं

म्यूजिक कोर्स

कई लोग ऐसे होते हैं जिन्हें सिंगिंग पसंद होता है म्यूजिक पसंद होता है. वह गाना गाना पसंद करते हैं म्यूजिक क्षेत्र में अपना कैरियर बनाने के लिए कई सिंगिंग कोर्स .जिसको ग्रेजुएशन के बाद कर सकते हैं जैसे कि एमफिल म्यूजिक, मास्टर ऑफ म्यूजिक इन म्यूजिक आदि.

एक्टिंग कोर्स

ग्रेजुएशन करने के बाद अगर एक्टिंग में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो उसके लिए कई एक्टिंग कोर्स है इसमें भी अगर कोई डिप्लोमा कोर्स और पीजी कोर्स करता है तो वह 2 साल का या 3 साल का होता है. ग्रेजुएशन के बाद एक्टर बनने के लिए एमए इन एक्टिंग कोर्स कर सकते हैं.

होटल मैनेजमेंट कोर्स

जिस तरह से लोगों के शौक बढ़ रहे हैं हर कोई फैशन में रहना चाहते हैं ज्यादातर लोग होटल में खाना खाना पसंद करते हैं. कई नए-नए होटल भी खुल रहे हैं. जिसमें कई अच्छी पोस्ट पर नौकरी भी दी जाती है तो होटल में एक बेहतर पोस्ट पर नौकरी करने के लिए होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया जाता है.

यह कोर्स बहुत ही ज्यादा ट्रेंड में है क्योंकि इस कोर्स को करने के बाद किसी होटल में तो नौकरी कर ही सकते हैं साथ ही अगर चाहे तो खुद का भी होटल खोलकर बहुत ही ज्यादा पैसे कमा सकते हैं.एमबीए का फुल फॉर्म क्या होता हैं

पेंटिंग और ड्राइंग

कई लोगों को ड्राइंग पेंटिंग आदि का शौक होता है आजकल तरह-तरह के पेंटिंग बनाकर भी बहुत सारा पैसा कमा सकते हैं तो उनके लिए अपने इस शौक को पूरा करने के लिए अपने इस आर्ट को और भी निखारने के लिए ड्राइंग और पेंटिंग के कई कोर्स है जिसको बीए करने के बाद भी कर सकते हैं.

BA ke baad kya kare 2

बीए के बाद सरकारी नौकरी

अगर गवर्नमेंट सेक्टर में जाना चाहते हैं गवर्नमेंट नौकरी करके अपना लाइफ सेटल करना चाहते हैं तो बीए के बाद कई सरकारी नौकरी है जिसको एग्जाम पास करने के बाद कर सकते हैं.

यूपीएससी

ग्रेजुएशन के बाद अगर किसी सिविल सेवा में जाना चाहते हैं तो यूपीएससी एक बहुत ही अच्छा ऑप्शन है. यूपीएससी का फुल फॉर्म यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन होता है. जिसे हिंदी में संघ लोक सेवा आयोग कहा जाता है. इस परीक्षा को पास करने के बाद आईएएस, आईपीएस, आईएफएस, भारतीय राजस्व सेवा, ग्रुप ए, ग्रुप बी आदि की नौकरी कर सकते हैं. आईएएस का फुल फॉर्म क्या होता हैं

बीपीएससी

यह एक राज्य स्तरीय परीक्षा है. बीपीएससी का फुल फॉर्म बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन होता है. जिसे हिंदी में बिहार लोक सेवा आयोग कहा जाता है. इस परीक्षा को पास करने के बाद कई सरकारी नौकरी के द्वार खुल जाते हैं जैसे कि ब्लॉक विकास अधिकारी, सहायक कमिश्नर खाद्य आपूर्ति निरीक्षक, अपर जिला परिवहन अधिकारी, जेल सुपरिटेंडेंट, सहायक पुलिस अधिकारी, डिप्टी कलेक्टर आदि.

एसएससी

एसएससी का स्थापना भारत सरकार के द्वारा 1975 में किया गया था. इसका फुल फॉर्म स्टाफ सिलेक्शन कमीशन होता है. जिसे हिंदी में कर्मचारी चयन आयोग कहा जाता है.

इस परीक्षा को पास करने के बाद कई विभिन्न पदों पर नियुक्ति होता है. एसएससी के द्वारा कई परीक्षा कराए जाते हैं जैसे कि सीजीएल, सेंटर पुलिस ऑर्गेनाइजेशन और एसएससी वैज्ञानिक सहायक, एसएससी जीडी कांस्टेबल, सीएचएसएल आदि. SSC ka Full Form का फुल फॉर्म क्या होता हैं

बैंकिंग

बैंकिंग सेक्टर में जाने के लिए सबसे पहले ग्रेजुएशन पास करना पड़ता है. b.a. करने के बाद बैंक में नौकरी कर सकते हैं बैंक पीओ की नौकरी करने के लिए आईबीपीएस परीक्षा पास करने पड़ता है. इस परीक्षा पास करने के बाद पीओ की नौकरी प्राप्त कर सकते हैं जिसके बाद कई प्रमोशन होते हैं ब्रांच मैनेजर मैनेजर आदि भी बन सकते हैं.

टीचिंग लाइन

बीए के बाद अगर b.ed का कोर्स करते हैं तो टीचिंग लाइन में भी अपना कैरियर बना सकते हैं. टीचर बनने के लिए कई एग्जाम हर साल निकलते हैं जैसे कि टीईटी एसटीईटी आदि परीक्षा पास करके एक टीचर की नौकरी किसी भी सरकारी स्कूल में कर सकते हैं.

रेलवे

ग्रेजुएशन के बाद रेलवे की नौकरी कर सकते हैं सरकार के द्वारा हर साल रेलवे के कई एग्जाम होते हैं उसका फॉर्म भर के परीक्षा पास करके रेलवे की नौकरी कर सकते हैं.

फोर्स

अगर आपका सपना फोर्स में जाना है अपने देश की सेवा करना है तो बीए के बाद फोर्स में भी अपना कैरियर बना सकते हैं जैसे कि इंडियन आर्मी इंडियन नेवी इंडियन एयर फोर्स आदि की नौकरी कर सकते हैं. आई एफ एस का फुल फॉर्म क्या होता हैं

बीए के बाद प्राइवेट नौकरी

बीए कोर्स करने के बाद किसी भी मल्टीनैशनल कंपनी में अच्छे पदों पर नौकरी कर सकते हैं आज के समय में हर कंपनी चाहती है कि उनकी कंपनी में ग्रेजुएट एंप्लॉई ही रहे ताकि किसी भी कार्य को बहुत ही आसानी से और समझदारी से कर सकें.किसी प्राइवेट कोचिंग सेंटर में एक शिक्षक कि नौकरी कर सकते हैं प्राइवेट स्कूल में पढ़ा सकते हैं.एमसीए क्‍या हैं एमसीए के लिए योग्‍यता,सिलेबस,फायदे एवं 10 कॉलेज

बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स

ग्रेजुएशन करने के बाद अगर चाहे तो डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं जिसको करने के बाद अच्छी कंपनी में अच्छे पदों पर नौकरी कर सकते हैं. डिप्लोमा कोर्स में किसी भी विषय के बारे में बहुत ही अच्छे से सिखाया जाता है. इसमें कई क्षेत्र हैं जैसे कि फैशन डिजाइनिंग, फोटोग्राफी, बिजनेस मैनेजमेंट, इंजीनियरिंग, इंटीरियर डिजाइनिंग, आदि. इसके लिए कई डिप्लोमा कोर्स है जैसे के

  • पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट 
  • पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा इन पब्लिक रिलेशन
  • पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन गाइडेंस एंड काउंसलिंग कोर्स
  • पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट 
  • पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन इवेंट मैनेजमेंट 
  • पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन सोशल वर्क 
  • पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन इंटीरियर डिजाइनिंग 
  • पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग

बीए के बाद जॉब क्षेत्र

इस कोर्स को करने के बाद कैरियर में आगे बढ़ने के एक अवसर मिल जाते हैं. नौकरियों का द्वार खुल जाता है अच्छे सेक्टर में नौकरी करने पर कई तरह की सुविधाएं मिलती है तो बीए करने के बाद और भी कई क्षेत्र में नौकरी कर सकते हैं. नीट का फुल फॉर्म क्या होता हैं

एलआईसी एजेंट

एलआईसी एजेंट बनकर अपनी इच्छा से कार्य कर सकते हैं लोगों को जीवन बीमा, वाहन बीमा, घर का बीमा, दुकान का बीमा आदि करके बहुत ही अच्छे कमीशन प्राप्त कर सकते हैं.

डिजिटल मार्केटिंग

वर्तमान समय में लगभग हर कोई डिजिटल मार्केटिंग के द्वारा बहुत सारा पैसा कमा रहा है. डिजिटल मार्केटिंग के लिए घर बैठे ही ऑनलाइन कार्य करके पैसा कमा सकते हैं. इसके लिए कंप्यूटर की जानकारी इंटरनेट की जानकारी रखनी आवश्यक है.

कैरियर काउंसलर

लोगों को उनके कैरियर के बारे में बताना एक बहुत ही बड़ा कार्य होता है तो ग्रेजुएशन करने के बाद एक कैरियर काउंसलर के रूप में कार्य करके बहुत सारा पैसा कमा सकते हैं.

जिन छात्रों को यह समझ में नहीं आता है कि 10th पास करने के बाद इंटर पास करने के बाद या ग्रेजुएशन करने के बाद कौन सा कैरियर ऑप्शन चुने उन्हें क्या करना चाहिए उनको काउंसलिंग के द्वारा उनके कैरियर के चुनाव में मदद कर सकते हैं.

ब्यूटी पार्लर खोल सकते हैं

अगर आप महिला हैं तो ब्यूटीशियन का कोर्स करके खुद का ब्यूटी पार्लर खोल कर बहुत सारा पैसा कमा सकते हैं. आजकल हर त्यौहार ने ज्यादातर लेडीज पार्लर में मेहंदी लगवाने, आइब्रो बनवाने, फेशियल करवाने, ब्लीचिंग करवाने के लिए जाती है. बीएसइबी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

बीए करने के फायदे

ग्रेजुएशन एक ऐसा कोर्स है जिसको करने के बाद कहा जाता है कि कैरियर बनाने के अवसर का द्वार खुल जाता है इस कोर्स को करने के कई फायदे होते हैं.

  • इसके बाद अगर आगे की पढ़ाई जारी रखना चाहता है तो कई मास्टर डिग्री है उसको कर सकते हैं.
  • ग्रेजुएशन पास व्यक्ति को सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है उसे एक समझदार पढ़े लिखे व्यक्ति माना जाता है.
  • ग्रेजुएशन के बाद किसी भी गवर्नमेंट सेक्टर या प्राइवेट सेक्टर में अच्छे पदों पर नौकरी कर सकते हैं.
  • टीचिंग लाइन, पुलिस, बैंकिंग, सिविल परीक्षा के साथ-साथ राजनीति में भी अपना भविष्य बना सकते हैं.
  • सरकारी या प्राइवेट स्कूल में कोचिंग सेंटर में नौकरी कर सकते हैं.
  • घर बैठे ऑनलाइन कोचिंग करा कर पैसे कमा सकते हैं.
  • कई डिप्लोमा कोर्स करके अच्छे कंपनी में अच्छे पदों पर नौकरी कर सकते हैं.
  • सबसे फायदा तो यह है यह कोर्स बहुत ही कम पैसों में और कहीं भी गांव हो या शहर हो रह कर कर सकते हैं.

बीए करने के लिए टॉप कॉलेज

  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय
  • एमएमसी पटना
  • पटना वूमेंस कॉलेज
  • महारानी लक्ष्मी बाई गर्ल्स पीजी कॉलेज
  • पीजी कॉलेज हिमाचल प्रदेश
  • जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी दिल्ली
  • मौलाना आजाद कॉलेज कोलकता
  • लोयला कॉलेज चेन्नई
  • हिंदू कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय
  • इलाहाबाद विश्वविद्यालय 
  • श्री वेंकटेश्वर कॉलेज दिल्ली 
  • लखनऊ विश्वविद्यालय 
  • पुणे विश्वविद्यालय 
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय 
  • मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज
  • देवभूमि उत्तराखंड यूनिवर्सिटी 
  • प्रेसीडेंसी कॉलेज चेन्नई 
  • रामजस कॉलेज न्यू दिल्ली 
  • जय हिंद कॉलेज मुंबई

निष्कर्ष

ग्रेजुएशन करने के बाद लगभग 90 परसेंट स्टूडेंट अपना भविष्य उज्जवल बना सकते हैं वह किसी भी सरकारी या प्राइवेट क्षेत्र में अपना कैरियर बहुत ही उज्जवल बना सकते हैं.

b.a. करने के बाद क्या कर सकते हैं कौन सा कोर्स है प्राइवेट सरकारी क्षेत्र में कौन-कौन सी नौकरी है के बारे में इस लेख में पूरी जानकारी दी गई है. अगर इस लेख से संबंधित कुछ सवाल या सुझाव है तो कृपया कमेंट करके जरूर पूछें.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment