बीबीए का फुल फॉर्म क्या होता हैं योग्‍यता,व सेमेस्‍टर

बीबीए का फुल फॉर्म क्या होता हैं Bba ka full form kya hai in hindi बीबीए को हिंदी में क्या कहते हैं इसके लिए क्या योग्यता होनी चाहिए.  BBA करने के क्या फायदे हैं. यह करने के बाद कौन-कौन सी नौकरी की जा सकती हैं यह सारी जानकारी हम लोग इस लेख में जानेंगे.

10th करने के बाद बहुत से छात्रों के मन में यह सवाल रहता हैं कि कौन सा ऐसा कोर्स करें जिससे कि आगे चलकर अच्छी नौकरी मिल जाए. आगे चलकर अपना भविष्य किसी भी नौकरी या बिजनेस में अच्छा बना सके.

अगर आप बिजनेस से जुड़े कोर्स करना चाहते हैं. तो आपके लिए BBA का कोर्स एकदम सही हैं इस कोर्स से जुड़े सारी जानकारी आइए नीचे विस्तार से जानते हैं.एलएलबी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

BBA ka full form kya hota hai

जिसे बिजनेस और व्यापार में अपना कैरियर बनाना हैं और उसे ऊंचाइयों तक ले जाना हैं. तो उन लोगों के लिए BBA एक बहुत ही अच्छा चॉइस हैं. यह एक ग्रेजुएशन का डिग्री हैं. जोकि बिजनेस और व्यापार के तरीके और नियम के बारे में पढ़ाया जाता हैं. बीबीए का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन होता हैं.

बीबीए का फुल फॉर्म

  • B:-bachelor of
  • B:-business
  • A:-administration

Bba ka full form kya hai in hindi

बीबीए के द्वारा उधमिता विकास और कौशल का बहुत ही अच्छे और बढ़िया तरीके से अध्ययन कराया जाता हैं. ताकि आगे चलकर जिसको बिजनेस में अपना कैरियर बनाना हैं. वह बिजनेस से संबंधित सभी नियम और तरीकों को जान जाए.

BBA kya hai

बीबीए ग्रेजुएशन कोर्स हैं जिसे इंटर करने के बाद कोई भी छात्र जिसे बिजनेस में रुचि हो वह कर सकता हैं. इसमें व्यापार और प्रबंधन से जुड़े हुए पढ़ाई छात्रों को पढ़ाया जाता हैं.

इस कोर्स को करने के बाद किसी भी छात्र को व्यापार के क्षेत्र में अच्छा शिक्षा प्राप्त हो जाता हैं. और वह अगर आगे चलकर बिजनेस करना चाहता हैं व्यापार करना चाहता हैं

तो इसमें वह एक बहुत ही अच्छा इंसान साबित हो सकता हैं. यह डिग्री एक बहुत ही प्रचलित और लोकप्रिय स्नातक डिग्री माना जाता हैं. इसमें विशेष बिजनेस संबंधित मूल कर्तव्यों का ज्ञान दिया जाता हैं.

यह कोर्स अधिकतर वही लोग करते हैं जिसे के व्यापार और प्रबंधन में आगे चलकर अपना कैरियर बनाना हैं. जैसे बीए बीएससी बी कॉम एक ग्रेजुएशन डिग्री होता हैं.

वैसे ही यह भी एक ग्रेजुएशन डिग्री हैं. अगर कोई इसके बाद मास्टर डिग्री प्राप्त करना चाहता हैं तो उसके लिए एमबीए एक बहुत अच्छा ऑप्शन रहता हैं. क्योंकि एमबीए में भी बिजनेस और प्रबंधन से जुड़े शिक्षा दिए जाते हैं. BBA करने के बाद कोई भी इंसान चाहे तो बिजनेस बहुत अच्छे से प्लान कर सकता हैं.

बीबीए का शुरुआत कब हुआ

आजकल तो BBA का बहुत सारे कॉलेज और यूनिवर्सिटी हैं बहुत सारे कॉलेजों में बिजनेस से जुड़े पढ़ाई होते हैं. उसका शिक्षा प्राप्त करने के लिए एडमिशन लिया जा सकता हैं.

लेकिन सबसे पहले इसका पढ़ाई 1908 में हावर्ड यूनिवर्सिटी में शुरू किया गया था. इसी यूनिवर्सिटी से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन से ग्रेजुएशन शुरू हुआ था. और इसके बाद दुनिया में हर देश में बिजनेस से जुड़े शिक्षा के लिए कई कॉलेज और यूनिवर्सिटी बनाया जाने लगा.

BBA full form in hindi

बीबीए के एक स्नातक कोर्स हैं. जिसको ट्वेल्थ पास करने के बाद कोई भी कर सकता हैं. बीबीए का फुल फॉर्म इंग्लिश में bachelor of business administration होता हैं. और इसे हिंदी में व्यवसायिक प्रबंधन में स्नातक कहा जाता हैं. क्यूंकि इस में व्यवसाय से जुड़े ही पढ़ाई होते हैं.एमबीए का फुल फॉर्म क्या होता हैं

बीबीए करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए

बीबीए कोर्स करने के लिए सबसे पहले 10th पास करना चाहिए. 10th में 50 परसेंट मार्क्स होना चाहिए और उसके बाद ट्वेल्थ किसी भी सब्जेक्ट से पास होना सबसे जरूरी हैं.

यह किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज से पास होना जरूरी हैं. और ट्वेल्थ में 50  परसेंट कम से कम मार्क्स होना चाहिए. इसके बाद ही इसमें किसी भी छात्र का एडमिशन हो सकता हैं.

यह 3 साल का एक ग्रेजुएशन डिग्री होता हैं. इस कोर्स को करने के लिए 17 से 25 साल तक का उम्र होना चाहिए. बीबीए में एडमिशन लेने के बाद आप रेगुलर या प्राइवेट दोनों ही तरह से पढ़ाई कर सकते हैं ‌.

इसमें एडमिशन के लिए पहले एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता हैं. एंट्रेंस एग्जाम पास करने के बाद ही आप इसमें एडमिशन ले सकते हैं.इसके लिए जो एंट्रेंस एग्जाम दिया जाता हैं. उस प्रवेश परिक्षा को कई नामों से जाना जाता हैं जैसे कि

  • NPAT
  • SET
  • DU JET
  • UGAT
  • AIMA
  • IPMAT

इन्हीं प्रवेश परीक्षा के माध्यम से इसमें एडमिशन लिया जाता हैं. आप एडमिशन लेने के लिए किसी भी अच्छे कॉलेज के बारे में जानकारी लेकर उसका चुनाव कर सकते हैं.

यह कोर्स करने के लिए कई प्राइवेट कॉलेज और कई सरकारी कॉलेज भी हैं. प्राइवेट कॉलेज में तो डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता हैं. लेकिन इसमें पैसा बहुत ज्यादा लगता हैं और सरकारी कॉलेज में कुछ पैसा कम लगता हैं.

बीबीए में कौन कौन सा सब्जेक्ट होता हैं

बीबीए की पढ़ाई 6 सेमेस्टर में पूरा किया जाता हैं.वह आगे चलकर बिजनेस और व्यापार में एक बहुत ही अच्छा इंसान साबित हो सकता हैं. इन सारे विषयों में व्यवसाय और व्यापार का ही पढ़ाई होता हैं. जो कि बहुत ही महत्वपूर्ण होता हैं.इसके जो 6 सेमेस्टर पढ़ाए जाते हैं.वह निम्न प्रकार से

First semester

  • Computer application
  • Business communication
  • Financial accounting
  • Business economics
  • Business law

Second semester

  • Business mathematics
  • Environmental management
  • Management accounting
  • Organisational behaviour
  • Profit planning and  control
  • Business environment

Third semester

  • Business finance 1
  • Marketing concept
  • Business statistics
  • Production method
  • Computer application
  • Manpower management

4th semester

  • Office management
  • Operation research
  • Sales and distribution management
  • Research methodology
  • Industrial law
  • Business finance 2

5 semester

  • Management information system
  • Summer training report
  • Banking law and practice
  • Human research development
  • Indian economy
  • Advertising and public relation

Sixth semester

  • Corporate planning and strategic management
  • International marketing
  • Enterpreneurial development
  • Financial institutions and markets
  • Marketing services
  • comprehensive viva voice

बीबीए में क्या सिखाया जाता हैं

बीबीए में विशेषकर बिजनेस और व्यापार से संबंधित पढ़ाई होता हैं. लेकिन इसमें मानव संसाधन, लेखांकन, मानव कौशल, अभियान प्रबंधन आदि सिखाया जाता हैं.

इसमें बिजनेस करने के लिए वह हर तरीके सिखाए जाते हैं. जिससे कि कोई भी इंसान एक अच्छा बिजनेसमैन बन सके जो आगे चलकर बिजनेस के दुनिया में एक प्रचलित इंसान बन सके.पीएचडी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

बीबीए करने का क्या फायदा हैं

बीबीए कोर्स करने का बहुत ही फायदा हैं. जैसे कि कोई भी एक अच्छा बिजनेसमैन बन सकता हैं. किसी भी चीज का अगर बिजनेस व्यापार करना हैं तो उसमें वह एकदम निपुण हो जाएगा.

इस कोर्स को करने के बाद कई नौकरियां जैसे कि प्राइवेट या सरकारी आसानी से मिल सकता हैं. BBA करने के बाद कई ऐसे नौकरी हैं जोकि करके अपना भविष्य उज्जवल बनाया जा सकता हैं

  • ह्यूमन रिसर्च
  • मार्केटिंग मैनेजर
  • फाइनेंशियल एनालिस्ट
  • इंफॉर्मेशन सिस्टम मैनेजर
  • मार्केटिंग एक्सक्यूटिव
  • किसी भी बैंक के लिए अप्लाई कर सकते हैं
  • सेल्स और मार्केटिंग में भी अपना कैरियर बना सकते हैं.

इस कोर्स से किसी के भी अंदर बिजनेस और व्यापार के गुण बहुत अच्छे से आ जाता हैं.इस कोर्स करने के बाद आप बिजनेस और व्यापार की दुनिया में एक अलग पहचान बना सकते हैं.

अगर BBA करने के बाद आपको बिजनेस से संबंधित मास्टर डिग्री करना हैं तो एमबीए आपके लिए बहुत ही बेहतर विकल्प हो सकता हैं.

सारांश 

एक बिजनेस से जुड़े बहुत ही अच्छा और स्नातक लेवल का कोर्स हैं. इसको करने के बाद कोई भी व्यक्ति बिजनेस व्यापार में पूरी तरह से निपुण हो जाएगा और आगे चलकर अगर चाहे तो अपना खुद का बिजनेस बहुत अच्छे तरीके से कर सकता हैं और अगर चाहे तो गवर्नमेंट जॉब या प्राइवेट जॉब भी कर सकता हैं.

इस लेख में BBA में एडमिशन के लिए क्या योग्यता होना चाहिए. यह करने के बाद कौन-कौन सी नौकरी मिल सकता हैं. BBA में कौन कौन सा सेमेस्टर होता हैं और उसमें कितने सब्जेक्ट और क्या-क्या सब्जेक्ट होते हैं. BBA से जुड़ी सारी जानकारी दी गई हैं.

आप लोगों को इस लेख से जुड़े कोई सवाल मन में हैं तो कमेंट करके जरूर पूछें.इस लेख में BBA का फुल फॉर्म क्या होता हैं और BBA से जुड़े और भी जानकारी दी गई हैं यह जानकारी कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्त मित्रों रिश्तेदारों को शेयर जरूर करें.जीएसटी क्या हैं

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment