CAA Ka Full Form – सीएए का फुल फॉर्म क्या होता हैं

सीएए का फुल फॉर्म क्या होता हैं Caa ka full form kya hai in hindi सीएए क्या हैं सीएबी का फुल फॉर्म क्या होता हैं सीएबी और CAA में क्या अंतर हैं सीएए कब बना था यह सारी जानकारी हम लोग इस लेख में प्राप्त करेंगे। सीएए के बारे में हमारे देश के लगभग बच्चे बच्चे को पता होगा क्योंकि कुछ ही दिनों पहले CAA का चर्चा बहुत जोरों से हो रहा था

लगभग सभी के जुबान पर CAA का नाम रहता था।इसके खिलाफ कई विरोध प्रदर्शन भी हुए थे। कितने लोग सीएए के खिलाफ बोल रहे थे और कितने लोग सीएए के पक्ष में भी बोल रहे थे

इसका प्रदर्शन भी कर रहे थे तो आज हम लोग इस लेख में सीएए क्या हैं के बारे में विस्तार से जानेंगे आइए नीचे जानते हैं सीएए का फुल फॉर्म क्या होता हैं।

Caa ka full form kya hai in hindi

सीएए कुछ दिन पहले तक एक बहुत ही प्रचलित और पॉपुलर मुद्दा था दिल्ली में इस नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में कई महीनों तक हिंसा और विरोध प्रदर्शन करते रहे थे कई जगहों पर इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई थी उत्तर प्रदेश में 144 धारा लागू कर दिया गया था हिंसा भड़काने का आरोप कई छात्र और नेताओं पर भी लगा था

इससे लोगों के आने जाने में अपने ऑफिस में स्कूल में हर तरह के कार्य करने के लिए जाने में बहुत परेशानी हो रहा था क्योंकि कई दिनों तक CAA का विरोध में कई लोग रास्ता जाम कर के रखे थे

Caa ka full form kya hai in hindi

इस कानून के खिलाफ पूरे भारत में कई जगहों पर हिंसक विरोध प्रदर्शन लोग करने लगे थे दिल्ली में मेट्रो तक प्रभावित हो गया था देश में कई जगहों पर इस कानून के लिए विवाद चलने लगा था

तो CAA का फुल फॉर्म कई लोगों को पता भी नहीं रहता है बिना जाने ही सीएए का मतलब बिना समझे ही कई लोग इस में विरोध प्रदर्शन में हिस्सा बन रहे थे।

लाखों लोग इसका विरोध कर रहे थे लोगों को यह लगने लगा था कि यह एक भेदभाव वाला कानून है।CAA एक नागरिक संशोधन कानून हैं यह कानून हमारे देश के प्रधानमंत्री के नेतृत्‍व में बनाया गया था।

CAA लोकसभा और राज्यसभा में पास किया गया एक कानून हैं इसे दूसरे देश से आए हुए गैर भारतीय नागरिकों के लिए बनाया गया हैं। यह कानून बनने के बाद बहुत लोग इसके पक्ष में भी थे और बहुत लोग इसके विरोध में भी थे

जिस वजह से हमारे देश में बहुत ही विरोध प्रदर्शन हुए थे। CAA का फुल फॉर्म  सिटीजनशिप अमेंडमेंट एक्ट होता हैं। जिसे हिंदी में नागरिक संशोधन अधिनियम कहा जाता हैं।

  • C:-citizenship
  • A:-amendment
  • A:-act

CAA full form in hindi

CAA एक कानून हैं जिसे हमारे देश के प्रधानमंत्री जी के नेतृत्‍व  में यह कानून बनाया गया था। सीएए को इंग्लिश में citizenship अमेंडमेंट एक्ट कहा जाता हैं सीएए का फुल फॉर्म  हिंदी में नागरिकता  संशोधन अधिनियम के नाम से जाना जाता हैं।

  • C:-citizenship:-नागरिकता
  • A:-amendment:-संशोधन
  • A:-act:-अधिनियम

सीएए क्या हैं

CAA नागरिकता संशोधन अधिनियम हैं जिसको दूसरे देश से आए हुए गैर भारतीय नागरिकों के लिए बनाया गया हैं। CAA 2019 में लोकसभा और राज्यसभा में पूरा मत मिलने के बाद ही और हमारे राष्ट्रपति का उस पर मुहर लगने के बाद ही इसे कानून बनाया गया।

यह कानून हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में 2019 में बनाया गया था पहले यह कानून सिटीजन अमेंडमेंट बिल यानी की नागरिकता संशोधन विधेयक के नाम से बना था

जिसे सीएबी कहा जाता था। लेकिन जब उस पर लोकसभा और राज्यसभा में पूरा मत मिलने के बाद राष्ट्रपति का मुहर लग गया उसके बाद से सीएए यानी कि सिटीजनशिप अमेंडमेंट एक्ट नागरिकता संशोधन अधिनियम बनाया गया।

CAA एक कानून हैं जिसके अनुसार दूसरे देश जैसे कि पाकिस्तान बांग्लादेश अफगानिस्तान इन देशों से आए हुए नागरिक हिंदू सिख बौद्ध धर्म पारसी ईसाई को नागरिकता प्रदान करने के संबंधित बनाया गया हैं।

कई बार ऐसा होता हैं कि पाकिस्तान बांग्लादेश में कुछ लोग जब धार्मिक प्रताड़ित होने लगते हैं तो इंडिया में आकर बस जाते हैं उन्हीं के संबंध में एक्ट बनाया गया।

इन देशों में मुस्लिमों को छोड़कर हिंदू बौद्ध सिख पारसी जैन ईसाई यह सारे धर्म के लोग अगर अपने देश में धार्मिक उत्पीड़न से डरकर अगर भारत में 31 दिसंबर 2014 में या उससे पहले तक आए हैं

उन्हें भारत का नागरिकता प्रदान किया जाएगा। यह कानून पहले था कि जो 11 साल तक भारत में रहा होगा उसे ही भारत का नागरिकता मिलेगा। लेकिन 11 साल से कम करके इसको 5 साल तक का बना दिया गया।

CAA के विरोध में कई नेता राजनेता आम नागरिक ने विरोध प्रदर्शन भी किया था।लेकिन कई नेता इसके पक्ष में भी थे। सीएए 2019-20 में बहुत ही चर्चित एक बात था

जिसे कि हर किसी के जुबान पर सुनने को मिलता था। कितने लोग इस कानून के पक्ष में भी थे और जो दूसरे देश से आए हुए शरणार्थी थे जिन्हें नागरिकता मिलने वाला था वह खुश भी थे।

सीएबी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

CAB पहले एक बिल बना था लेकिन कुछ ही दिनों बाद इसे एक कानून के तौर पर लोगों के सामने रखा गया। सीएबी का फुल फॉर्म सिटीजन अमेंडमेंट बिल होता हैं इसे हिंदी में नागरिकता संशोधन विधेयक कहा जाता हैं।

  • C:-citizen:-नागरिकता
  • A:-amendment:-संशोधन
  • B:- Bill:-विधेयक

सीएबी और सीएए में क्या अंतर हैं

CAB मतलब सिटिजन अमेंडमेंट बिल जिसे हिंदी में नागरिकता संशोधन विधेयक कहा जाता हैं सीएबी जब बना तब वह विधेयक था वह किसी के द्वारा अभी पारित नहीं किया गया था

लेकिन लोकसभा और राज्यसभा में मत मिलने के बाद और हमारे देश के राष्ट्रपति का उस पर मुहर लगने के बाद यह सीएए यानी कि सिटीजनशिप अमेंडमेंट एक्ट जिसे हिंदी में नागरिकता संशोधन अधिनियम बनाया गया।

सीएबी को भारत के संसद में 11 दिसंबर 2019 को पारित किया गया था और 125 लोगों के मत मिलने के बाद इसे इस बिल को पास किया गया और उसके बाद यह CAA यानी कि सिटीजनशिप अमेंडमेंट एक्ट बन गया

इस पर राष्ट्रपति का भी मंजूरी मिल गया था हालांकि 105 मत इस एक्ट के विरोध में भी थे लेकिन इसके पक्ष में ज्यादा मत होने की वजह से यह बिल पास होकर एक कानून बन गया। इसके विरोध में कई प्रदर्शन हुए दिल्ली में कितने दिनों तक मुस्लिमों ने प्रदर्शन किया था।

सीएए से फायदा

जब CAA का कानून बनाया गया तो उसके खिलाफ कई लोगों ने बिना कुछ सोचे बिना कुछ समझे ही धरना प्रदर्शन करने लगे विरोध प्रदर्शन करने लगे इसके खिलाफ आगजनी करके अपना विरोध प्रदर्शित कर रहे थे

लेकिन CAA कानून को लागू करने का कुछ तो फायदा होगा इसीलिए सरकार ने अपने आम जनता को देखते हुए उनके फायदे के बारे में सोचते हुए इस कानून को लागू किया

इस कानून का मतलब यह है कि जो व्यक्ति अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक प्रताड़ना के कारण वहां से 1 दिसंबर 2014 के पहले तक भारत में आकर बस गए हैं

उन्हें भारत की नागरिकता प्राप्त हो जाएगी दूसरे देशों से आए हुए गैर मुस्लिम शरणार्थी जो भी हैं उन्हें भारत की नागरिकता दी जाएगी जिसमें हिंदू, पारसी, सिख, जैन, बौद्ध, ईसाई समुदाय के लोगों को अगर अपने देश से धार्मिक रूप से प्रताड़ित करके निकाल दिया गया है

उन्हें भारत में रहने का हक भारत की नागरिकता प्राप्त करने का हक मिलता है इसीलिएCAA बिल को राष्ट्रपति ने 12 दिसंबर को हरी झंडी दिखाकर पारित किया और जिन लोगों ने इसके खिलाफ नाराजगी जताई थी

बहुत ही तरीके से उनको बताया गया कि उनकी नागरिकता छिनने के लिए नही बल्कि उनको नागरिकता प्रदान करने का कानून है कई लोग ऐसे होते हैं जो कि बिना पूरी जानकारी के विरोध प्रदर्शन में हिस्‍सा बन जाते हैं।

नागरिकता संशोधन कानून पास होने के बाद कई मुस्लिम शरणार्थियों थे उन्हें लगने लगा कि उन्हें भारत की नागरिकता नहीं मिलेगी इस देश से निकाल दिया जाएगा

इसलिए उन्होंने प्रदर्शन और हिंसा करने लगे थे लेकिन इस कानून से किसी भी मुस्लिम समुदाय के लोगों को किसी भी तरह की कोई दिक्कत या परेशानी नहीं मिल सकेगी इस कानून को सभी के हित के लिए सभी की फायदे के लिए लागू किया गया है।

सारांश

CAA यानी कि सिटीजनशिप अमेंडमेंट एक्ट दूसरे देश से आए हुए गैर भारतीय लोगों के लिए बनाया गया था कि जो 5 साल से या उससे अधिक से दिनों से रह रहे थे।

भारत में उन्हें भारत का नागरिकता प्रदान किया जाएगा इसके विरोध में मुस्लिमों ने बहुत ही प्रदर्शन किया था दिल्ली में कितने दिनों तक मुस्लिमों ने प्रदर्शन किया था और कई जगह हिंसा भड़का था

लोग आगजनी करके अपना विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। लेकिन अंत में यह कानून बन गया।इस लेख में हमने सीएए का फुल फॉर्म  और सीएए  क्या हैं के बारे में पूरी जानकारी दी हैं आप लोग इस लेख को जरूर पढ़ें

इस लेख से जुड़े अगर कोई सवाल आपके मन में हैं तो हमें कमेंट करके जरूर पूछें। सीएए का फुल फॉर्म  क्या होता हैं अपने दोस्त मित्रों और रिश्तेदारों को शेयर जरूर करें।

महान महापुरुषों के बायोग्राफी लेखक और कवियों के बायोग्राफी से संबंधित कई महान अविष्कार और उनके अविष्कारको के बारे में जानकारी पाने के लिए और कई जरूरी फुल फॉर्म के बारे में जानने के लिए इस वेबसाइट को विजिट जरूर करें।

Leave a Comment