क्रेडिट कार्ड क्या होता हैं फायदे और 5+ प्रकार

Credit card kya hai in hindi क्रेडिट कार्ड क्या हैं क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं. यह हमें कहां से मिलता हैं और कैसे मिलता हैं. इसके बारे में बहुत लोग जरूर जानना चाहते होंगे.  क्रेडिट कार्ड से हम क्या कर सकते हैं. इसका इस्तेमाल हम लोग कैसे कर सकते हैं. जो क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करते हैं उन्हें क्रेडिट कार्ड से क्या फायदा हैं क्या नुकसान होता हैं. यह सारी बातें जानना बहुत जरूरी हैं.

बहुत लोगों से हम सुनते हैं कि शॉपिंग करने जाना हैं तो पैसा ले जाने की कोई जरूरत नहीं हैं. क्रेडिट कार्ड से हम लोग शॉपिंग कर लेंगे या किसी पेट्रोल पंप पर भी हम देखते हैं किसी किसी को कि अगर गाड़ी में पेट्रोल भरवाना हैं तो, एक कार्ड देते हैं जो कि Credit card होत हैं.

तो बहुत लोग क्रेडिट कार्ड के बारे में जानते भी नहीं होंगे वही कितने लोग आजकल हैं जो कि क्रेडिट कार्ड बहुत ज्यादा इस्तेमाल करते हैं. इसी से ही लगभग हर शॉपिंग करते हैं तो, आज हम लोग इस लेख में क्रेडिट कार्ड क्या हैं,क्रेडिट कार्ड और इससे जुड़े और भी जानकारी विस्तृत रूप से आइए नीचे जानते हैं. डेबिट कार्ड क्या हैं

Credit card kya hai in hindi 

आजकल कहीं भी हम लोग शॉपिंग करने जाते हैं तो बहुत ही कम लोगों को देखते हैं कि वह कैश लेकर जाते हैं. अधिकतर लोग credit card का ही इस्तेमाल करते हैं.

एक तो पैसा ले जाने में कहीं भी ज्यादा परेशानी होती हैं और दूसरे डर लगा रहता हैं कि ज्यादा पैसा होने की वजह से कोई चुरा ना ले. इसलिए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल ही आजकल बहुत लोग करते हैं. क्रेडिट कार्ड एक बैंक के द्वारा दिए जाने वाला प्‍लास्टिक का कार्ड हैं.

Credit card kya hai in hindi

credit card एक तरह से बैंक के द्वारा हमें लोन की तरह मिलता हैं. लेकिन उसका एक समय सीमा निर्धारित रहता हैं कि इतने समय में इस लोन को जमा कर देना हैं. अगर तय समय तक आप उस पैसे को बैंक में जमा नहीं करते हैं तो, बैंक के तरफ से आपको पेनाल्टी भी लग सकता हैं.

जितना आप ने बैंक से लोन लिया हैं. उससे ज्यादा क्रेडिट कार्ड से पैसा खर्च करते हैं तो आप पर बैंक के द्वारा कार्यवाही भी हो सकता हैं.

या उसका ब्याज भी लग सकता हैं. इसलिए जो भी Credit card क्रेडिट कार्ड बैंक से लेता हैं उसको लिमिट समय के अंदर ही पैसा जमा कर देना चाहिए और जितना आप क्रेडिट कार्ड पर पैसा लिए हैं. उतना में ही अपना खर्च करें.

इससे आप पेनाल्टी से बच सकते हैं. क्रेडिट कार्ड के पैसे कई लोग इंस्टॉलमेंट में भी जमा करते हैं और कुछ लोग एक ही बार में पूरा जमा कर देते हैं.पैन कार्ड का फुल फॉर्म क्या होता हैं

क्रेडिट कार्ड कैसा होता हैं

यह एक प्‍लास्टिक का कार्ड होता हैं.क्रेडिट कार्ड एक एटीएम कार्ड या डेबिट कार्ड के जैसा ही कार्ड होता हैं जो कि हमें बैंक के द्वारा मिलता हैं. क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग कर सकते हैं. किसी को पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं. लेकिन इससे डेबिट कार्ड की तरह एटीएम से पैसे नहीं निकाल सकते हैं.

क्योंकि क्रेडिट कार्ड हमें बिना बैंक में अकाउंट खुलवाएं भी मिल सकता हैं. क्रेडिट कार्ड  एक तरह से बैंक से लोन हैं जो कि हमें कुछ इंटरेस्ट पर कुछ समय निर्धारित करके मिलता हैं. पर उस निर्धारित किए हुए समय के अंदर ही हमें उस लोन को चुकाना होता हैं.

क्रेडिट कार्ड कहां से मिलता हैं 

यह कार्ड हमें किसी भी बैंक से मिल सकता हैं. Credit card  पर एक लिमिट करके पैसा मिलता हैं. जैसे कि 1 महीने के लिए 100000 तक के क्रेडिट कार्ड हमें मिल सकता हैं.

वह भी बैंक पहले उस व्यक्ति के बारे में पूरी तरह से पता करके तभी क्रेडिट कर देता हैं. कि उस आदमी का आय कितना हैं. वह यह पैसा 1 महीने में चुकाने में सक्षम हैं कि नहीं.

इसके बारे में पूरी तरह बैंक पता कर लेता हैं तभी क्रेडिट कार्ड मिल सकता हैं. जिसको भी Credit card लेना हैं. वह अपने आए और अपने खर्चे को देखते हुए अपने हिसाब से जितना कि जरूरत हो क्रेडिट कार्ड ले सकते हैं.

उसके लिए किसी भी बैंक से अप्लाई करके ले सकते हैं. कुछ ऐसे बैंक भी हैं जहां पर स्टूडेंट को उनके पढ़ाई करने के लिए भी Credit card देते हैं जैसे कि

  • आईसीआईसीआई क्रेडिट कार्ड
  • एसबीआई क्रेडिट कार्ड
  • बैंक ऑफ बड़ौदा क्रेडिट कार्ड
  • एचडीएफसी बैंक क्रेडिट कार्ड
  • सिटीबैंक क्रेडिट कार्ड
  • सिटी प्रीमीयर माइल्स क्रेडिट कार्ड 

क्रेडिट कार्ड कैसे ले सकते हैं 

Credit कार्ड बहुत ही उपयोगी कार्ड हैं. इसको लेने के लिए किसी भी बैंक में पहले अप्लाई करना पड़ता हैं. उसके बाद ही यह कार्ड मिल सकता हैं.जितने पैसे का क्रेडिट कार्ड बनवाएंगे उतने ही पैसे हम खर्च कर सकते हैं. अगर उससे ज्यादा खर्चा हो जाएगा तो उसके बदले में हमें बैंक को पेनाल्टी भरना पड़ता हैं.

उसके लिए अपने आमदनी और अपनी क्षमता देखकर क्रेडिट कार्ड बनवाना चाहिए कि जितना दिनों के लिए हम ले रहे हैं. उसके अंदर ही उसको जमा कर दें. पैसे समय से नहीं देने पर जितने पैसे आप लिए रहते हैं. उससे कहीं ज्यादा आपको जुर्माना के साथ भरना पड़ता हैं.बैंक का फुल फॉर्म क्या होता हैं

क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कैसे करें

Credit card लेने के लिए किसी भी बैंक का चुनाव करना पड़ेगा. आपको किस बैंक से क्रेडिट कार्ड लेना हैं. उसके बाद ही आप किसी भी बैंक में जाकर क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं

क्योंकि आजकल किसी भी बैंक से आपको बहुत ही आसानी से क्रेडिट कार्ड मिल जाता हैं. उसके लिए यह कुछ प्रोसेस हैं जिसको करना पड़ता हैं.

  • पहले बैंक से Credit card के लिए फॉर्म लेकर के उसमें अपने पर्सनल डिटेल भरना पड़ता हैं.
  • पर्सनल डिटेल में अपना अपना नाम, उम, डेट ऑफ बर्थ अपने घर का पूरा पता, मोबाइल नंबर, अपना ईमेल आईडी, आदि इस तरह से भरना पड़ता हैं.
  • उसके बाद इसमें कुछ डाक्यूमेंट्स का भी जरूरत होता हैं. जो कि उस व्यक्ति के आईडी प्रूफ के लिए लगता हैं. जैसे कि ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट, आधार कार्ड, इनमें से कोई भी एक आईडी प्रूफ लग सकता हैं.
  • जो व्यक्ति Credit card ले रहा हैं उसके ऐड्रेस प्रूफ के लिए पासपोर्ट वोटर आईडी ड्राइविंग लाइसेंस आधार कार्ड इनमें से कोई एक आईडी प्रूफ देना जरूरी होता हैं. केवाईसी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

 

क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई

क्रेडिट कार्ड के लिए कैसे अप्‍लाई किया जा सकता हैं

  • Credit card का फॉर्म भरने के लिए उसमें उस व्यक्ति के सिग्नेचर प्रूफ के लिए भी कोई एक आईडी प्रूफ देना जरूरी हैं जैसे कि ड्राइवरी लाइसेंस पैन कार्ड पासपोर्ट इनमें से कोई भी एक दिया जा सकता हैं.
  • जो व्यक्ति क्रेडिट कार्ड अपने नाम से बनवा रहा हैं उसका एक पासपोर्ट साइज का फोटो भी जरूर देना पड़ता हैं.
  • क्रेडिट कार्ड लेने के लिए अपने बैंक का पता उसका पूरा नाम और अपने खाते का पूरा विवरण देना पड़ता हैं.
  • आप कहां पर नौकरी कर रहे हैं किस तरह का नौकरी कर रहे हैं कितना सैलरी हैं इसके बारे में भी उस फॉर्म में भरना पड़ता हैं. जहां पर आप नौकरी करते हैं वहां का पूरा एड्रेस और फोन नंबर उसमें देना जरूरी होता हैं. क्योंकि जो व्यक्ति क्रेडिट कार्ड ले रहा हैं उसके बारे में बैंक पहले पूरी डिटेल जान लेता हैं. उसके बाद ही Credit card प्रदान करता हैं.
  • अगर कोई व्यक्ति पहले से ही Credit card इस्तेमाल कर रहा हैं तो उसके बारे में भी उस फॉर्म में पूरा बताना पड़ता हैं.

इतना करने के बाद आप अपने फॉर्म को बैंक के पास जमा कर देंगे. अब इसके बाद बैंक आपके बारे में पूरी तरह से वेरीफाई करेगा. बैंक जब पूरी तरह से संतुष्ट हो जाएगा कि जिस व्यक्ति ने क्रेडिट कार्ड एप्लीकेशन फॉर्म भरा हैं. वह Credit card लेने योग्य हैं कि नहीं. तभी Credit card आपको Issue कर सकता हैं.

क्रेडिट कार्ड किसे मिल सकता हैं 

Credit card उसी को मिल सकता हैं जो कि उसको भर पाने में सक्षम हो. जो व्यक्ति कोई अच्छा जॉब कर रहा हैं. पहले से कोई लोन नहीं लिया हो या उसकी आमदनी अच्छी हो. ताकि तय सीमा के अंदर ही वह अपना लोन भर सकता हैं.

उसी को क्रेडिट कार्ड मिल सकता हैं. क्रेडिट कार्ड लेने के लिए उस व्यक्ति में कुछ एलिजिबिलिटी होना भी जरूरी हैं तभी बैंक के तरफ से उसे क्रेडिट कार्ड मिल सकता हैं जैसे कि

  • जो व्यक्ति Credit card लेना चाहते हैं उसका उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक होना चाहिेए. अगर 18 वर्ष से कम उम्र के कोई भी अप्लाई करेगा तो उसे नहीं मिल सकता हैं. क्योंकि क्रेडिट कार्ड वयस्क को ही मिल सकता हैं.
  • इसमें सबसे पहले उस व्यक्ति का आय देखा जाता हैं कि कैसा हो नौकरी करता हैं. उसका सैलरी कैसा हैं. उसके बारे में बैंक पूरी डिटेल लेने के बाद ही क्रेडिट कार्ड मिलता हैं. अगर किसी व्यक्ति का सैलरी कम हैं और उससे कहीं अधिक का वह व्यक्ति क्रेडिट कार्ड बनाता हैं तो उसको बैंक के तरफ से क्रेडिट कार्ड नहीं मिल सकता हैं.
  • क्रेडिट कार्ड देने से पहले बैंक उस व्यक्ति के बारे में या इंफॉर्मेशन पूरी तरह से ले लेता हैं कि वह व्यक्ति पहले से कहीं किसी बैंक से लोन नहीं लिया हो. अगर लोन लिया हैं तो उसको कितने दिनों में चुकाया हैं. अगर आप का क्रेडिट स्कोर अच्छा हैं तो, बैंक के तरफ से क्रेडिट कार्ड बहुत ही आसानी से मिल सकता हैं. लेकिन अगर आपने पहले लोन लिया हैं और उसको चुकाने में सक्षम नहीं हो पाए हैं तो बैंक से आपको लोन नहीं मिल सकता हैं.यूपीआई का फुल फॉर्म क्या हैं

क्रेडिट कार्ड किसे मिल सकता हैं

  • अगर कोई व्यक्ति पहले से ही कोई अलग-अलग लोन लिया हैं जैसे कि होम लोन कार लोन. उसके बाद भी आप क्रेडिट कार्ड बनवाना चाहते हैं तो बैंक यह एप्लीकेशन अस्वीकार भी कर सकता हैं.
  • Credit card लेने के लिए किसी भी व्यक्ति को अपने जॉब के बारे में पूरी जानकारी देना पड़ता हैं. जैसे कि आप कहां पर नौकरी करते हैं. आपका नौकरी परमानेंट हैं या नहीं. अगर आपका नौकरी परमानेंट हैं. तभी आप को बैंक के तरफ से क्रेडिट कार्ड मिल सकता हैं.

वर्तमान समय में तो जितने भी लोग जॉब कर रहे हैं उनका सैलरी किसी न किसी बैंक के अकाउंट में ही आता हैं तो, अगर आपका अकाउंट जिस बैंक में हैं उसी बैंक से आप Credit card लेने की कोशिश करेंगे तो वहां पर क्रेडिट कार्ड लेने में बहुत ही आसानी होता हैं.

क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं 

अगर आप क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर रहे हैं तो उसके बारे में यह भी जरूरी होना चाहिए कि कितने प्रकार का क्रेडिट कार्ड मिलता हैं तो आइए नीचे Credit card  के प्रकार के बारे में जानते हैं.

शॉपिंग क्रेडिट कार्ड :- यह Credit card शॉपिंग करने के लिए लिया जाता हैं. इससे आप ऑनलाइन शॉपिंग भी कर सकते हैं और इस पर आपको बहुत ही अच्छा डिस्काउंट भी मिल सकता हैं.

लाइफ़स्टाइल क्रेडिट कार्ड :- यह Credit card कई कामों में आप यूज कर सकते हैं. इसको ऑल इन वन क्रेडिट कार्ड भी कहा जाता हैं. इससे आप शॉपिंग कर सकते हैं ट्रैवलिंग कर सकते हैं. इस पर आपको रिकॉर्ड भी मिल सकता हैं. शॉपिंग करने पर कई तरह के कैशबैक मिलते हैं. और इससे शॉपिंग करने पर डिस्काउंट भी मिलता.

ट्रैवल क्रेडिट कार्ड :- ट्रैवल Credit card बनवाने का फायदा यह होता हैं. आपको हवाई यात्रा करने के लिए बेनिफिट मिलता हैं. क्योंकि इसमें कहीं भी हवाई यात्रा करने पर रीवार्ड प्वाइंट मिलता हैं. जब आप एयर टिकट बुकिंग करते हैं तो उसमें आपको कई तरह के रिवार्ड्स मिलते हैं फ्री फ्लाइट टिकट भी मिल सकता हैं.

कैशबैक क्रेडिट कार्ड :- कैशबैक Credit card से बहुत ही फायदा हैं क्योंकि इससे जब आप शॉपिंग करते हैं तो, उस पर आपको कैशबैक पॉइंट मिलता हैं. कभी-कभी यह कैशबैक सीधे आपके अकाउंट में भी आ जाता हैं. आप इस कैशबैक को मनी सेविंग भी कर सकते हैं.

रीवार्ड  क्रेडिट कार्ड :- इस क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करने से पर कई तरह के रीवार्ड्स भी मिलते हैं. किसी को आप ट्रांजैक्शन कहते हैं उस पर भी रिवार्ड्स मिलते हैं. इसके साथ ही इसमें और भी कई तरह के ऑफर मिल सकते हैं जैसे कि बोनस रिवार्ड्स .आरबीआई का फुल फॉर्म क्या होता हैं

क्रेडिट कार्ड से फायदा 

Credit card लेने से कई तरह के फायदे मिलते हैं जैसे कि हम शॉपिंग कर सकते हैं वह भी बिना पैसा लेकर गए ही. इससे किसी को पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं. किसी के पास पैसा नहीं हैं और उसे किसी तरह का शॉपिंग करना हैं जो कि बहुत जरूरी हैं तो उसके लिए उसे बैंक से क्रेडिट कार्ड मिल सकता हैं.

जो कि आगे चलकर वह व्यक्ति अपने सैलरी से चुका सकता हैं.  और जितना का Credit card बनाए हैं उतना का खर्चा कर सकते हैं. अगर कहीं गए हैं और पैसा नहीं हैं कोई इमरजेंसी पड़ गया किसी का तबीयत ही खराब हो गया.

वहां हॉस्पिटल में पैसों का भुगतान करना हैं तो वहां पर क्रेडिट कार्ड बहुत ही उपयोगी हो सकता हैं. आपको अगर पैसों का जरूरत हैं

तो बैंक से 21 से 52 दिनों तक की अवधि तय करके क्रेडिट कार्ड पर लोन मिल सकता हैं. क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करने पर कई बार कैशबैक भी मिलता हैं. रिवार्ड्स पॉइंट मिल सकता हैं. और उस रीवार्ड प्वाइंट कैशबैक से आप ऑनलाइन खरीदारी कर सकते हैं या अपने Credit card का बिल भी जमा कर सकते. मोबाइल का आविष्कार किसने किया

Credit card से नुकसान 

इससे जितना ही फायदा हैं जितना ही उपयोगी हैं. कुछ इससे नुकसान भी हैं क्योंकि कई बार लोग शॉपिंग करने जाते हैं तो भूल जाते हैं कि क्रेडिट कार्ड पर कितना पैसा हैं. उससे कहीं ज्यादा भी खर्चा कर देते हैं. ऐसे समय में आप उस व्यक्ति को जितना का क्रेडिट कार्ड बनाया हैं.

 उससे अधिक पैसा खर्चा हो जाने से उसका ब्याज भी देना पड़ता हैं. कभी-कभी बैंक के तरफ से उस व्यक्ति पर कार्यवाही भी हो सकता हैं. इसलिए जब भी Credit card का इस्तेमाल करें तो यह देखकर करें कि आप को कितना खर्चा करना हैं अपनी लिमिट के अनुसार ही करना चाहिए.

सारांश

क्रेडिट कार्ड एक ऐसा कार्ड हैं जिससे हम लोग ऑनलाइन या ऑफलाइन भी शॉपिंग कर सकते हैं. पेट्रोल पंप पर पेट्रोल भरवा सकते हैं. एयरलाइन टिकट बुक कर सकते हैं. किसी को अगर पैसा ट्रांसफर करना हैं तो भी कर सकते हैं इससे कभी-कभी शॉपिंग करने पर कई तरह के डिस्काउंट भी मिलता हैं.

कैशबैक भी मिल जाता हैं. ध्यान देना जरूरी हैं कि क्रेडिट कार्ड जितना ही उपयोगी हैं. उसने कुछ नुकसान भी हैं. इसलिए क्रेडिट कार्ड बनवाएं तो जितना दिन का समय लिए हैं तय सीमा के अंदर ही राशि जमा कर दें.

इस लेख में   क्रेडिट कार्ड क्या हैं और क्रेडिट कार्ड  से जुड़े और भी जानकारी हमने साझा की हैं. आप लोगों को यह जानकारी कैसा लगा. हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अपनी दोस्त मित्रों को शेयर जरूर करें.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment