CRPF ka Full Form – सीआरपीएफ का फुल फॉर्म क्या होता हैं

CRPF ka full form kya hai in hindi इसकी स्थापना कब हुई। सीआरपीएफ किसके दिशानिर्देशों के द्वारा काम करती हैं। यह सारी जानकारी हम लोग इस आर्टिकल में प्राप्त करेंगे।

हमारे देश में कई ऐसे पुलिस फोर्स और सेना हैं, जो हमारी रक्षा करती हैं। हम लोग आराम से अपने घर में रह सके इसके लिए सेना के जवान बॉर्डर पर या जहां पर आतंकवाद नक्सलवाद ज्यादा हैं, वहां पर दिन रात अपने ड्यूटी पर लगे रहते हैं।

वह अपनी जान की भी परवाह नहीं करते हैं। वैसे ही एक पुलिस बल CRPF हैं। जिसके बारे में हम लोग इस लेख में विस्तार से जानेंगे कि सीआरपीएफ के जवान अपना कार्य कैसे करते हैं सीआरपीएफ का फुल फॉर्म क्‍या होता हैं कहां-कहां वह कार्य करते हैं। आइए नीचे पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं।

CRPF ka full form kya hai in hindi

सीआरपीएफ हमारे भारत देश का एक अर्ध सैनिक बल हैं। इसे भारत का सबसे बड़ा केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल कहा जाता हैं। सीआरपीएफ का फुल फॉर्म सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स होता हैं।

  • C:-Central
  • R:-reserve
  • P:-police
  • F:-force

CRPF ka full form kya hai in hindi

हमारे देश के नागरिक आराम से और सुखी से अपने घर में अपने समाज में रह सके इसके लिए CRPF जवान खुशी-खुशी अपने प्राणों का बलिदान दे देते हैं। आज हम लोग आतंकवादियों और नक्सलवादियों से सुरक्षित अपने घरों में इन्हीं के बदौलत रह पाते हैं।

CRPF kya hai

CRPF इंडिया का एक रक्षा बल हैं भारत में किसी भी शहर में या कहीं भी अगर कोई हमला होता हैं तो, सबसे पहले वहां पर सीआरपीएफ के जवानों को तैनात किया जाता हैं।

आतंकवादियों के गतिविधियों को पर निगरानी रखने के लिए और उन्हें रोकने के लिए सीआरपीएफ के जवानों को बुलाया जाता हैं।

सीआरपीएफ को भारत का सबसे बड़ा केंद्रीय पुलिस बल कहा जाता हैं। सीआरपीएफ गृह मंत्रालय के दिशा निर्देशों के अनुसार ही अपना कार्य करते हैं। जिस तरह का गृह मंत्रालय के तरफ से आदेश होता हैं। उसी के अनुसार सीआरपीएफ अपने कामों में कार्यरत रहते हैं।

हमारे देश के किसी भी राज्य और किसी भी केंद्र शासित प्रदेश के सरकार को उस राज्य में कानून व्यवस्था को सही ढंग से बनाए रखने के लिए, सीआरपीएफ उनकी मदद करती हैं। सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स को पैरामिलिट्री फोर्स के नाम से भी लोग जानते हैं। यह केंद्रीय अर्धसैनिक बल हैं।

इसका मतलब यह होगा कि CRPF केंद्र सरकार के आदेश के अनुसार ही अपना कार्य कर सकते हैं। CRPF जवानों के लिए किसी भी एक राज्य में रहना लिमिट नहीं हैं इ

नका भारत में किसी भी राज्य में कहीं भी ट्रांसफर हो सकता हैं। जहां पर आतंकवादी हमला या नक्सलियों के हमलों का ज्यादा डर रहता हैं वहां पर इनका कभी भी स्थानांतरण हो जाता हैं।

सीआरपीएफ की स्थापना कब हुई

CRPF पारा मिलिट्री फोर्स हैं इसका स्थापना 27 जुलाई 1939 में हुई थी। सबसे पहली बार सीआरपीएफ को क्राउन रिप्रेजेंटेटिव पुलिस के रूप में देखा गया था। लेकिन जब भारत आजाद हुआ तो 28 दिसंबर 1949 में सीआरपीएफ एक्ट के तहत इसमें बदलाव किया गया और सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स में परिवर्तित कर दिया गया।

उसी के बाद इसे केंद्रीय अर्धसैनिक बल के रूप में जाना जाने लगा। CRPF का हेड क्वार्टर नई दिल्ली में हैं। सीआरपीएफ में जो भर्ती होते हैं उन उम्मीदवारों को और भी अच्छे तरीके से प्रशिक्षित करने के लिए CRPR अकैडमी भारत सरकार ने बनाया हैं ताकि यह और भी अच्छे तरीके से ट्रेंड हो सके।

Crpf full form in hindi

सीआरपीएफ को इंग्लिश में सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स कहां जाता हैं।सीआरपीएफ का फुल फॉर्म हिंदी में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल कहते हैं। यह भारत का सबसे बड़ा केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल होते हैं।

सीआरपीएफ कहीं भी भारत में किसी भी राज्य में तैनात किया जा सकते हैं। यह एक ऐसे रक्षा बल होते हैं। जिनको किसी भी राज्य में जहां की हमला का  ज्यादा डर रहता हैं भेजा जा सकता हैं।

सीआरपीएफ का क्या क्या कार्य हैं

  • CRPF का सबसे जो महत्वपूर्ण कार्य और लक्ष्य हैं। वह भारत में किसी भी राज्य और केंद्र शासित राज्य में कानून व्यवस्था को सही ढंग से बनाना और उसकी देखरेख करते हैं।
  • वहां के पुलिस की सहायता करना इनका सबसे महत्वपूर्ण कार्य होता हैं।
  • किसी भी राज्य में आतंकवाद नक्सलवाद और किसी भी तरह के हमले को रोकना सीआरपीएफ जवानों का लक्ष्य होता हैं।
  • सीआरपीएफ अर्धसैनिक बालों में सबसे बड़ा बल कहा जाता हैं। इनका कार्य हमारे इंडिया में जितने भी वीआईपी पर्सनालिटी हैं उनका सुरक्षा करना हैं।
  • इंडिया में कहीं भी जब कोई इलेक्शन होता हैं। वहां पर कई तरह के दंगे फसाद का डर रहता हैं तो, उसको रोकने के लिए सीआरपीएफ जवानों को उस जगह पर तैनात किया जाता हैं। ताकि इलेक्शन सही तरीके से हो सके।
  • किसी भी एयरपोर्ट पर CRPF जवान सुरक्षा में लगे रहते हैं।
  • भारत के गवर्नर और चीफ मिनिस्टर के निवास का सुरक्षा करना सीआरपीएफ जवानों का ही कार्य होता हैं।
  • जब बॉर्डर पर युद्ध होता हैं। उस समय सहस्त्र बल की सहायता करने के लिए सीआरपीएफ के जवान को वहां पर भेजा जाता हैं।
  • इंडिया में कहीं भी किसी भी तरह के प्राकृतिक आपदा जब आती हैं। उस समय भी सीआरपीएफ जवान लोगों की बहुत मदद करते हैं। लोगों के बीच राहत कार्य का पहुँचाने का कार्य करते हैं।
  • प्राकृतिक वनस्पतियों का संरक्षण करना और वहां के जीवों की रक्षा करते हैं।

कहीं पर अगर किसी भी तरह का बहुत भीड़ हो जाता हैं और उस वजह से दंगा हो जाता हैं तो उसको सीआरपीएफ जवान नियंत्रित करते हैं।

सीआरपीएफ के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए

हमारे भारत देश में कई ऐसे युवा हैं जो कि CRPF में भर्ती होना चाहते हैं। सीआरपीएफ जवानों को हम सम्मान के नजर से देखते हैं।

इसमें भर्ती होने के लिए सबसे पहली बात जो हैं वह किसी भी मान्यता प्राप्त केंद्रीय या राज्य सरकार द्वारा बोर्ड विश्वविद्यालय से 10th और ट्वेल्थ पास होना चाहिए। इसके साथ ही किसी संबंधित विषय में डिप्लोमा आईटीआई होना चाहिए।

सीआरपीएफ में भर्ती होने के लिए क्या उम्र होना चाहिए

  • CRPF में भर्ती होने के लिए कम से कम 20 साल और ज्यादा से ज्यादा 25 साल तक का उम्र होना चाहिए।
  • लेकिन इसमें भी एससी एसटी और ओबीसी के लिए कुछ छूट रहता हैं। एससी एसटी के लिए 5 वर्ष तक के उम्र का छूट रहता हैं और ओबीसी के लिए 3 साल के उम्र का छूट दिया जाता हैं।

 

  • अगर किसी पुरुष को इस में भर्ती होना हैं तो उसके लिए हाइट 153 सेंटीमीटर होना जरूरी हैं।
  • किसी महिला को अगर इस में भर्ती होना हैं तो, उसके लिए हाइट 5 हाइट होना जरूरी होता हैं।

इसके बाद इसमें दौड़ होता हैं। फिजिकल टेस्ट होता हैं। मेडिकल टेस्ट होता हैं। यह सारा प्रोसेस अगर कोई भी लड़का या लड़की पूरा कर लेते हैं। उसके बाद ही उन्‍हें सीआरपीएफ में भर्ती होने का मौका मिल जाता हैं।

सारांश 

सीआरपीएफ जवान भारत के अर्धसैनिक बलों में सबसे बड़ा बल माना जाता हैं। इन्हें आतंकवाद और नक्सलवाद को रोकने के लिए भारत में किसी भी राज्य में या केंद्र शासित प्रदेश में न्याय व्यवस्था बनाने के लिए तैनात किया जाता हैं।

इस लेख में सीआरपीएफ का फुल फॉर्म क्या होता हैं के बारे में हमने पूरी जानकारी दी हैं। आप लोगों को यह जनकारी कैसा लगा। हमें कमेंट करके जरूर बताएं और शेयर जरूर करें।

Leave a Comment