एफडी का फुल फॉर्म क्या होता हैं फायदे और नुकसान

FD ka full form आज की महंगाई के दौर में हर कोई अपने पैसे का बचत करना चाहता है ताकि आगे चलकर अगर कोई जरूरत पड़े तो आसानी से कर सकें. हर कोई भविष्य में किसी खास जरूरत के लिए किसी जरूरी कार्य के लिए पैसों का सेविंग करता है. 

लेकिन हर व्यक्ति का पैसा सेविंग करने का अलग अलग तरीका होता है. कोई सोना बनाकर अपने घर में या बैंक में रखते है. कोई बैंक में अपने अकाउंट में पैसा जमा करके रखते है.

कोई एफडी करा कर पैसे को सुरक्षित भविष्य के लिए रखते हैं तो इस लेख में एफडी का फुल फॉर्म क्या होता है एफडी क्या होता है के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी.

किसी भी व्यक्ति के लिए एफडी कराने का सही मतलब अपने पैसों का सुरक्षित किसी जगह पर सेव करके रखना होता है. जिससे कि आगे चलकर अपने बच्चों की पढ़ाई के लिए,

अपनी लड़की के विवाह के लिए या अगर कभी ऐसा मौका आ जाएगा कि किसी को कोई बड़ी बीमारी भी हो जाए तो उसमें भी ज्यादा पैसों की जरूरत होती है तो उसके लिए भी एफडी करके अपने पैसों को बैंक में सुरक्षित रखा जा सकता है.इएमआई का फुल फॉर्म क्या होता हैं

एफडी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

बैंक में कई प्रकार से पैसों को सेव किया जाता है. कोई सेविंग अकाउंट खुलवा कर पैसे सुरक्षित रखता है.

कोई करंट अकाउंट के माध्यम से पैसे जमा करता है. कोई व्यक्ति FD के माध्यम से अपने फ्यूचर के लिए पैसे जमा करता है. एफडी का फुल फॉर्म फिक्स डिपॉजिट होता है. 

FD full form :- Fix Deposit

फिक्स डिपॉजिट का मतलब किसी समय अवधि तक बैंक में अपने पैसों को जमा करके रखना होता है. इसमें करंट अकाउंट या सेविंग अकाउंट में जमा किए गए पैसों से ज्यादा ब्याज मिलता है.

FD ka full form

अगर किसी व्यक्ति को किसी जरूरी काम के लिए पैसों को समय अवधि से पहले निकालना पड़ता है 

तो जितना ब्याज पर Fix deposit किया गया रहता है उससे कम ही पैसे मिलते हैं. समय अवधि से पहले पैसे निकालने से कुछ जुर्माना भी देना पड़ता है.केवाईसी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

FD full form in Hindi

FD full form :- Fix Deposit :- सावधि खाता

एफडी का पूरा मतलब इंग्लिश में Fix deposit होता है इसे हिंदी में सावधि खाता के नाम से जाना जाता है. आज के समय में किसी भी व्यक्ति के लिए पैसों का बचत करना पैसों का सेविंग करना एक महत्वपूर्ण बात है. 

यह किसी किसी के लिए बहुत ही कठिन भी हो जाता है. क्योंकि आज के दौर में हर चीज बहुत महंगा हो गया है जिससे कि जिसकी सैलरी कम है उस व्यक्ति को पैसे बचत करने में परेशानी हो जाती है.

लेकिन कई व्यक्ति पैसे बचत करने के कई तरीकों के बारे में जानकारी रखते हैं. उसी के अनुसार अपने पैसे सेविंग करते हैं तो फिक्स डिपॉजिट एक पैसों का सेविंग करने का बहुत ही महत्वपूर्ण और भरोसेमंद माध्यम है.यूपीआई का फुल फॉर्म क्या हैं

फिक्स डिपॉजिट क्या है

किसी भी सरकारी या प्राइवेट बैंक में अपने पैसों को कुछ समय अवधि तक सुरक्षित जमा करते हैं उसी को फिक्स डिपॉजिट कहा जाता है. इसमें सेविंग अकाउंट या करंट अकाउंट से ज्यादा ब्याज में पैसा फिक्स किया जाता है.

अपने पैसों को किसी महत्वपूर्ण समय के लिए या फ्यूचर में किसी खास जरूरतों को पूरा करने के लिए फिक्स डिपॉजिट बहुत ही फायदेमंद और सरल तरीका है. 

क्योंकि इसमें पैसा जमा करने के समय ही यह निश्चित कर दिया जाता है कि समय अवधि खत्म होने के समय आपको कितना पैसा दिया जाएगा. कितने ब्याज पर दिया जाएगा.

अगर Fix deposit किसी एक निश्चित ब्याज दर के द्वारा करते हैं और उसके बाद ब्याज दर बढ़ाया जाता है 

तो उसे निवेशक को बैंक के तरफ से कोई भी लाभ नहीं मिलता है. तथा बैंक के तरफ से ब्याज दर कम भी होता है तो जिस समय में जिस ब्याज दर के द्वारा पैसा जमा किए हैं उसी के अनुसार पैसा मिलता हैं.

अगर किसी पोस्ट ऑफिस में या किसी भी प्राइवेट या सरकारी बैंक में फिक्स डिपॉजिट जिस समय अवधि पर किया जाता है उस समय से पहले अगर किसी जरूरत के लिए FD तोड़ना पड़ता है, तो बैंक की तरफ से जुर्माना भी लिया जाता है.

साथ ही अपना Fix deposit तोड़ने का कारण भी बताना पड़ता है. डिपॉजिट को समय से पहले निकालने के लिए बैंक को या पोस्ट ऑफिस को पहले से सूचना भी देना पड़ता है. तभी समय अवधि से पहले अपने जमा पैसे को निकाल सकते हैं.आरबीआई का फुल फॉर्म क्या होता हैं

फिक्स डिपॉजिट करने का तरीका

एफडी कराने के लिए 2 तरीके है एक ऑफलाइन तरीका और एक ऑनलाइन तरीका.

ऑनलाइन तरीका

आज के समय में इंटरनेट के माध्यम से हर तरह के कार्य अपने घर बैठे ही आसानी से किया जा रहा है. किसी भी तरह का शॉपिंग करना है तो घर से ही कर लेते हैं.

पढ़ाई करना है, नौकरी ढूंढना है आदि हर तरह के कार्य के लिए इंटरनेट पर सुविधा उपलब्ध है. वैसे ही बैंक के कार्यों के लिए भी ऑनलाइन बैंक की अपनी वेबसाइट है. 

जिससे घर से ही बैंक के हर तरह के स्टेटमेंट को अपने मोबाइल या लैपटॉप कंप्यूटर पर देख सकते हैं. अपने अकाउंट से किसी को पैसे भी ऑनलाइन ट्रांसफर कर सकते हैं.

अगर Fix deposit करना है तो ऑनलाइन बैंक के वेबसाइट पर जाकर घर बैठे ही आसानी से कर सकते हैं. बैंक वेबसाइट से या एप्लीकेशन के माध्यम से अगर ऑनलाइन पैसे फिक्स करते हैं तो यह एक आसान और सुरक्षित तरीका होता है.

ऑफलाइन तरीका

ऑफलाइन अपने पैसों को बैंक या पोस्ट ऑफिस में फिक्स करने के लिए पहले बैंक में जाकर Fix deposit के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना पड़ता है.

कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट बैंक के तरफ से मांगा जाता हैं उसे जमा करके, फिक्स डिपॉजिट का फॉर्म बैंक के द्वारा मिलता है उसको अच्छे से फिलअप करके पैसे कुछ समय अवधि तक डिपॉजिट कर सकते हैं.बैंक का फुल फॉर्म क्या होता हैं

एफडी कराने के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट

बैंक में या पोस्ट ऑफिस में FD कराने के लिए बैंक के द्वारा या पोस्ट ऑफिस के द्वारा कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट की मांग की जाती है. ताकि बैंक उस निवेशक के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सके.

कहीं वह निवेशक कोई फ्रॉड व्यक्ति तो नहीं है या कोई गलत कार्य करके पैसे जमा तो नहीं कर रहा है.

इसके बारे में निगरानी रखना बैंक का या पोस्ट ऑफिस का जरूरी कार्य होता है. तो उसके लिए कुछ महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट आवश्यक होती है जिससे निवेशक का अच्छे से वेरीफाई किया जा सके

  • Aadhar card
  • PAN card
  • Proof of identification
  • Passport size photo
  • Fix deposit form
  • Check the amount of FD

एफडी कितने ब्याज दर पर किया जाता है

अगर किसी प्राइवेट या सरकारी बैंक में सेविंग अकाउंट खोलते हैं या करंट अकाउंट खोलते हैं और उसमें पैसे जितने ब्याज दर पर जमा करते हैं उस ब्याज दर से ज्यादा पर फिक्स डिपॉजिट किया जाता है.

वैसे अगर पैसे जिस बैंक या पोस्‍ट ऑफिस में Fix deposit करना हैं वहां पर जाकर पूरी तरह से ब्‍याज के बारे पता कर लेना आवश्‍यक होता हैं.उसके बाद ही एफडी कराना चाहिए. बैंक में जॉब कैसे पाए 10+ तरीकें 

एफडी करने के फायदे

अपने पैसों को अपने घर खर्च में या अपने जरूरी खर्चों में से बचाकर के बैंक में फिक्स डिपॉजिट कराया जाता है इससे कई तरह के फायदे मिलते हैं.

निश्चित ब्याज दर

एफडी कराने से एक निश्चित ब्याज दर पर एक निश्चित समय अवधि पर पैसे मिलते हैं. जिस निश्चित ब्याज पर बैंक के द्वारा पैसे जमा किया जाता है उसी के अनुसार Fix deposit पूरा होने पर पैसे मिलते हैं. उसमें न ही कम होता है और न ही ज्यादा होता है.

जरूरी कार्य के लिए उपयोगी

बैंक में पैसे किसी निश्चित समय तक के लिए फिक्स करने से सबसे बड़ा फायदा यह है कि अगर किसी समय कोई जरूरी कार्य आ जाए और उस समय कोई दूसरा माध्यम पैसा मिलने का न हो तो अपने Fix deposit से पैसे निकाल सकते हैं. लेकिन उसके लिए कुछ जुर्माना भी बैंक को देना पड़ता है.

ज्यादा ब्याज दर

जितने ब्याज दर पर सेविंग अकाउंट या करंट अकाउंट में पैसे जमा करते हैं उससे कहीं ज्यादा फिक्स डिपॉजिट में पैसे जमा करने से मिलता है.

लोन का फायदा

अगर कोई व्यक्ति अपने FD पर किसी खास कार्य के लिए लोन लेना चाहता है तो आसानी से मिल जाता है और उसमें अपने एफडी को तुड़वाना भी नहीं पड़ता है.

रिन्यू करा सकते हैं

अगर कोई चाहे कि Fix deposit के समयअवधि पूरा करने के बाद भी पैसे नहीं निकालें तो उस एफडी को फिर से रिन्यू करा कर ज्यादा से ज्यादा फायदा प्राप्त कर सकते हैं.पैन कार्ड का फुल फॉर्म क्या होता हैं

एफडी से नुकसान

वैसे तो एफडी कराने से सिर्फ फायदा ही फायदा है साथ ही यह एक risk-free निवेश माना जाता है. क्योंकि आरबीआई के द्वारा हर बैंक पर पूरी तरह से निगरानी रखा जाता है.

ताकि निवेशक को किसी भी बैंक में पैसे फिक्स करने के बाद किसी भी तरह का नुकसान नहीं मिल सके है. लेकिन कभी-कभी ऐसा समय आता है कि इससे कुछ नुकसान भी हो सकता है.

अगर कभी पैसों की ज्यादा जरूरत है, किसी को कोई बीमारी है, बच्चे को पढ़ाना है और उस समय पैसे आने का कोई दूसरा माध्यम नहीं है, तो उस समय FD तोड़ना पड़ जाता है.

जिससे यह नुकसान होता है कि जितना ब्याज दर पर पैसा फिक्स किया गया रहता है उससे कम ही पैसा मिलता है.पैसे कम मिलने के साथ ही बैंक को कुछ जुर्माना भी देना पड़ता है.

इसीलिए अगर इमरजेंसी न हो ज्यादा जरूरत न हो तो अपने एफडी को न तोड़वाएं. अपने समय अवधि को पूरा होने के बाद ही पैसे निकाले जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके.

निष्कर्ष

एफडी बैंक के तरफ से बहुत ही सुरक्षित और सरल सेवा निवेशकों को दिया जाता है. जिसके माध्यम से अपने पैसों को फ्यूचर के लिए सुरक्षित रखा जा सके.

उस समय ज्यादा से ज्यादा पैसे ज्यादा ब्याज दर पर मिल जाता है. एफडी रिस्क फ्री पैसे निवेश करने का एक माध्यम के रूप में जाना जाता है.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment