ICICI ka full form आईसीआईसीआई का फुल फॉर्म क्या होता हैं

ICICI ka full form kya hai in hindi आईसीआईसीआई का फुल फॉर्म क्‍या होता हैं इसकी स्थापना कब हुई। इसका स्थान भारत में क्या हैं। इसका हिंदी में क्या नाम हैं इन सारे सवालों का जवाब अगर आप लोगों को जानना हैं तो इस लेख में इसके बारे में पूरी जानकारी मिलेगी।

हमारी निजी जिंदगी में बैंक का बहुत बड़ा महत्व हैं, क्योंकि हम लोग अपना जो भी जमा पूंजी होता हैं  जैसे कि पैसा कोई भी ज्वैलरी यह सारी चीजें अगर सुरक्षित रखना हो तो, बैंक हमारे लिए बहुत ही अच्छा और सुरक्षित ऑप्शन  भारत में कई सारे सरकारी और प्राइवेट बैंक हैं

तो आइए हम लोग इस लेख में नीचे जानते हैं की आईसीआईसीआई हमें कौन कौन सा सर्विस प्रदान करता हैं। आईसीआईसीआई का फुल फॉर्म क्‍या होता हैं इसकी कौन-कौन सी सहायक कंपनियां हैं। 

ICICI ka full form kya hai in hindi

वर्तमान समय में लगभग हर किसी का बैंक में अकाउंट जरूर होगा। अपने पैसों को सुरक्षित रखने के लिए बैंक में रखते हैं। ताकि आगे चलकर पैसों का अगर जरूरत हो तो आसानी से बैंक से लेकर अपना कार्य कर सकते हैं।

कई सारे प्राइवेट बैंक हैं और कई सारे सरकारी बैंक भी हैं।आईसीआईसीआई बैंक भारत का प्रमुख बैंक है जोकि बैंकिंग और वित्तीय सेवा संस्थान के रूप में एक प्रमुख बैंक जाना जाता है भारत का सबसे तीसरा बड़ा बैंक आईसीआईसीआई है

ICICI ka full form kya hai in hindi

मार्केट कैपिटलाइजेशन की दृष्टि से भारत के जो भी निजी क्षेत्र के बैंक है उसमें सबसे बड़ा बैंक आईसीआईसीआई को माना गया है आईसीआईसीआई बैंक का 2883 शाखाएं भारत में स्थित है और 10021 एटीएम भारत में स्थित है

भारत के साथ-साथ अन्य 19 देशों में भी आईसीआईसीआई बैंक स्थित है आईसीआईसीआई बैंक के द्वारा ग्राहकों को कई प्रकार के सेवाएं मिलती है बैंक कारपोरेट रिटेल ग्राहकों को निवेश बैंकिंग साधारण बीमा जीवन बीमा वेंचर कैपिटल आईसीआईसीआई बैंक के सहायक संस्थाओं के माध्यम से बैंकिंग उत्पाद और वित्तीय सेवाएं प्राप्त होती है

आईसीआईसी बैंक के कई सहायक संस्थान भी है जोकि लोगों को कई तरह की सेवाएं उपलब्ध कराती है। आईसीआईसीआई का फुल फॉर्म इंडस्ट्रियल क्रेडिट एंड इन्वेस्टमेंट कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया होता हैं।

  • I:-Industrial
  • C:-Credit
  • I:-Investment
  • C:Corporation
  • I:-India

ICICI Bank full form in Hindi

आईसीआईसीआई भारत का सबसे बड़ा तीसरा बैंक हैं। इसका पूरा नाम इंग्लिश में industrial credit and investment corporation of India कहा जाता हैं आईसीआईसीआई का फुल फॉर्म हिंदी में  भारतीय औद्योगिक और निवेश निगम होता हैं।

आईसीआईसीआई क्या हैं

ICICI एक प्राइवेट बैंक हैं। यह भारत में सबसे बड़ी तीसरी बैंक हैं। यह भारत की सबसे बड़ी निजी बैंक हैं आईसीआईसीआई एक लिमिटेड और बहुराष्ट्रीय बैंक और वित्तीय कंपनी भी कहा जाता हैं।

यह बैंक बैंकिंग और वित्तीय संस्थान हैं जो कि भारत में इसका बहुत ही प्रमुख स्थान हैं। यह बैंक सबसे पहले इंटरनेट बैंकिंग शुरू करने वाला पहला बैंक हैं। एटीएम के साथ मोबाइल शाखा शुरू करने वाला महाराष्ट्र में सबसे पहला निजी क्षेत्र का बैंक माना जाता हैं।

वर्तमान समय में हर किसी का बैंक में अकाउंट जरूर रहता है आजकल हर काम डिजिटली होने की वजह से बैंक का लगभग आधा काम घर बैठे ही लोग कर लेते हैं इंटरनेट के माध्यम से घर बैठे बैंक अकाउंट का स्टेटस आसानी से देख लेते हैं

अगर किसी को मनी ट्रांसफर करना है तो बहुत ही आसानी से कर लिया जाता है आईसीआईसीआई बैंक में इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा 1998 से शुरू की गई थी आईसीआईसीआई बैंक कई लोगों को बैंकिंग क्षेत्र से जोड़कर कैरियर उज्जवल भी बनाता है

अगर किसी को छोटा व्यवसाय करना हो उसके लिए उसे लोन की जरूरत है तो यह बैंक सहायता करता है आईसीआईसीआई बैंक में कई तरह की सुविधाएं ग्राहकों को मिलती है जैसे की बचत खाता और चालू खाता हाउस लोन, शिक्षा ऋण, व्यक्तिगत ऋण, गोल्ड लोन, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, वाहन ऋण, क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग, फोन बैंकिंग, शाखा सेवाएं आदि।

केंद्र सरकार और राज्य सरकार को किसी भी तरह के नीतिगत मुद्दों के बारे में सलाह लेना होता है तो आईसीआईसीआई बैंक के द्वारा सही और उचित सलाह दिए जाते हैं

आईसीआईसीआई की स्थापना कब हुई 

इस बैंक का स्थापना 1955 में किया गया था। इस बैंक का हेड क्वार्टर महाराष्ट्र के मुंबई में स्थित हैं। आईसीआईसीआई बैंक का रजिस्टर ऑफिस गुजरात के वडोदरा में स्थित हैं। ऐसा कहा जाता हैं कि 1955 में जब इस बैंक की स्थापना हुई थी

उस समय यह एक लिमिटेड कंपनी के रूप में स्थापित किया गया था। यह कंपनी सीमेंट और कपड़ा के क्षेत्र में काम किया करती थी। इस कंपनी में बहुत मुनाफा  होने लगा उसके बाद इस कंपनी के मालिक ने इसे बैंक का रूप देने के बारे में सोचा।

1993 में इसमें एक कमेटी बनाकर इस कंपनी को एक रिटेल बैंक के रूप में स्थापित करने के लिए सुझाव दिया गया। 1994 में यह कंपनी एक बैंक के रूप में फाइनली स्थापित हो गई। ICICI बैंक को एक बहुराष्ट्रीय बैंक और वित्तीय कंपनी माना जाता हैं। 2001 में आईसीआईसीआई बैंक में बैंक ऑफ़ मदुरा का विलय किया गया।

आईसीआईसीआई बैंक का मालिक कौन हैं 

ICICI बैंक की स्थापना 5 जनवरी 1955 में हुई थी। इस बैंक की स्थापना कई देशों के सरकार ने मिलकर की थी जैसे कि भारत सरकार अमेरिकी सरकार और इंग्लैंड सरकार ।

यह बैंक कई देशों में अपने वित्तीय सेवाएं प्रदान करती हैं आईसीआईसीआई बैंक के अध्यक्ष वर्तमान समय में गिरीश चंद्र चतुर्वेदी हैं और संदीप बख्शी इस बैंक के सीईओ हैं।जब इस बैंक की स्‍थापना हुई उस समय इसके अध्‍यक्ष  Mr.A.Ramaswami Mudaliar चुने गये थे।

आईसीआईसीआई बैंक के द्वारा कौन-कौन से सर्विस प्रदान की जाती हैं 

ICICI बैंक एक प्रमुख बैंकिंग वित्तीय संस्थान कहा जाता हैं। बैंक हमें कई तरह के सर्विस से प्रदान करती हैं जो कि हम लोग अपने फायदे के अनुसार उसे यूज करते हैं। यह बैंक भारत के अलावा भी कई देशों में अपनी सेवाएं प्रदान करती हैं। आईसीआईसीआई बैंक के भारत में 2883 शाखाएं हैं।

10021 एटीएम पूरे भारत में इस बैंक के हैं और दूसरे 19 देशों में भी इस तरह की सेवाएं आईसीआईसी बैंक के द्वारा लोगों को दिया जाता हैं। ICICI के द्वारा लोगों के बीच जो सर्विसेज दी जाती हैं वह निम्न प्रकार से हैं

  • पर्सनल लोोन
  • क्रेडिट कार्ड्स
  • कंज्यूमर बैंकिंग
  • प्राइवेट बैंकिंग
  • इन्वेस्टमेंट बैंकिंग
  • ट्रेड एंड रिटेल फॉरेक्स
  • Payment solution
  • फाइनेंस और इंश्योरेंस
  • Mortgage loans
  • वेल्थ मैनेजमेंट
  • कॉरपोरेट बैंकिंग

इस तरह बैंक हमें कई सारे सुविधाएं प्रदान करती हैं ताकि हम अपना जीवन यापन बैंक के सहयोग से आसानी से कर सके। किसी भी तरह का लोन अगर हमें लेना हैं तो, बैंक से हम लोग आसानी से प्रदान कर सकते हैं। बैंक हमें कई तरह के वित्तीय सेवाएं प्रदान करती हैं।

आईसीआईसी बैंक की अपनी वेबसाइट भी हैं। जिस पर हम लोगों को अगर इस बैंक के बारे में कोई जानकारी पाना हैं तो बहुत ही आसानी से जान सकते हैं।

आईसीआईसीआई बैंक के सहायक कंपनियां कौन-कौन सी हैं 

किसी भी बैंक या बड़ी-बड़ी कंपनियों के सहायक कंपनियां भी होती हैं, जो कि हमें कई तरह की सेवाएं भी प्रदान करती हैं। इसी तरह ICICI बैंक के भी कई सहायक कंपनियां हैं जो कई अलग-अलग देशों में लोगों को वित्तीय सेवाएं प्रदान कर रही हैं।

आईसीआईसीआई बैंक की कई शाखाएं विदेशों में भी सक्रिय रूप से कार्य कर रही हैं आईसीआईसीआई का मुख्‍यालय गुजरात के बडोदरा में स्थित हैं जिस तरह हर बैंक की कई सहायक संस्‍थाएं हैं उसी तरह आईसीआईसीआई बैंक के भी कई सहायक संस्‍थाएं हैं जो कि अपने ग्राहकों को बई जरह केी सेवाएं प्रदान करती हैं

भारत में तो आईसीआईसी बैंक की कई शाखाएं कई एटीएम हैं बहुत सारे कर्मचारी भी इस में काम करते हैं। लेकिन दूसरे देशों में भी इसकी सहायक कंपनियां हैं आइए उसके बारे में भी जान लेते हैं।

ICICI Bank subsidiaries

  • रूस
  • यूनाइटेड किंगडम
  • श्रीलंका
  • यूएसए
  • बहरीन
  • दुबई
  • हॉंग कांग
  • कतार
  • सिंगापुर

आदि देशों में इस बैंक का सहायक कंपनियां हैं। आईसीआईसीआई बैंक की कई देशों में प्रधान कार्यालय भी हैं। जैसे कि

  • दक्षिण अफ्रीका
  • यूनाइटेड अरब अमीरात
  • थाईलैंड
  • चीन
  • मलेशिया
  • बांग्लादेश
  • इंडोनेशिया आदि।

सारांश

हमें अगर किसी भी चीज के लिए पैसों का जरूरत रहता हैं हमारे पास नहीं रहता हैं तो एक बैंक हमारा सहारा रहता हैं जिससे कि हम लोन लेकर अपना काम कर सकते हैं।

किसी को अपने पैसों को ज्वेलरी को सुरक्षित रखना हैं। बैंक बहुत अच्छा ऑप्शन हैं। बैंक हमारे निजी जीवन यापन के लिए एक बहुत ही अच्छा संस्थान हैं।

इस लेख में हमने आईसीआईसीआई का फुल फॉर्म क्‍या होता हैं आईसीआईसीआई बैंक के बारे में पूरी जानकारी दी हैं आप लोगों को आईसीआईसीआई का फुल फॉर्म क्‍या होता हैं कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

और अपने दोस्त मित्रों रिश्तेदारों को और अन्य सोशल साइट पर भी शेयर जरूर करें। और भी कई फुल फॉर्म से जुड़े जानकारी के लिए कई महत्वपूर्ण आविष्कार की जानकारी प्राप्त करने के लिए और महान व्यक्तियों के बायोग्राफी जानने के लिए इस वेबसाइट को विजिट करते रहे।

Leave a Comment