India ka Full Form – इंडिया का फुल फॉर्म क्या होता हैं

India का फुल फॉर्म क्या होता हैं India ka full form kya hai in hindi इंडिया क्या हैं इंडिया के कितने नाम हैं इंडिया के बारे में यह सारी जानकारी हम लोग इस लेख में जानेंगे। भारत देश को सिंधु घाटी की सभ्यता के नाम से जाना जाता था प्राचीन समय में भारत में एक बहुत ही प्रचलित और प्रसिद्ध नदी सिंधु बहती थी सिंधु का नाम इंडस भी था

इसी सिंधु नदी के नाम पर भारत का नाम हिंदुस्तान पड़ा भारत की सभ्यता को सिंधु सभ्यता के नाम से भी जाना जाता है विश्व में कई ऐसे देश हैं जिनका हिंदी नाम हो या इंग्लिश नाम हो एक ही होता है लेकिन India देश एक ऐसा देश है जिसका एक नहीं बल्कि कई नाम है भारत में कई समुदाय के लोग रहते हैं कई तरह के रीति-रिवाज धर्म संस्कृति सभ्यता के लोग एक साथ मिलजुल कर रहते हैं।

भारत देश में हम लोग रहते हैं यह बखूबी जानते हैं कि भारत के कितने नाम हैं और क्या-क्या नाम हैं लेकिन कम ही लोगों को यह पता होगा कि भारत यानी कि India का फुल फॉर्म क्या होता हैं India नाम के हर वर्ड से एक वाक्य बनता हैं लेकिन इंडिया का यानी भारत का फुल फॉर्म क्या होता है के बारे में इस लेख में विस्तार से जानेंगे।

India ka full form kya hai in hindi

India एक देश हैं जिसमें हम लोग रहते हैं इंडिया का हिंदी में भारत नाम हैं भारत देश एशिया महाद्वीप का एक बहुत बड़ा राज्य हैं भारत को सभ्यताओं का देश कहा जाता है ऐसा माना जाता है कि विश्व में सबसे पहले सभ्यता का जन्म हमारे देश भारत में ही हुआ था भारत देश की सभ्यता को सिंधु सभ्यता के नाम से जाना जाता है

भारत का नाम हिंदुस्तान आर्यावर्त हैं लेकिन जब भारत पर ब्रिटिश सरकार का शासन था तो उन्होंने ही भारत को इंडिया नाम से पुकार करके भारत का नाम India प्रचलित कर दिया ब्रिटिश अधिकारी को हिंदुस्तान बोलने में परेशानी होती थी दिक्कत होती थी इसीलिए उन्होंने इंडिया नाम से पुकारना शुरू किया और इंडिया नाम इंग्लिश में भी वह लिखते थे प्रयोग करते थे।

India ka full form kya hai in hindi

क्षेत्रफल की दृष्टि से विश्व में भारत सातवां सबसे बड़ा देश माना जाता है और विश्व में जनसंख्या के दृष्टि से दूसरा सबसे बड़ा देश भारत है सबसे ज्यादा आबादी वाला लोकतंत्र देश भारत है

जहां पर समय के अनुसार कई तरह के आर्थिक सुधार हुए हैं तेजी से विकास हो रहा है अर्थव्यवस्था की दृष्टि से भारत देश एक विकसित देश के रूप में विश्व में माना जाता है

भारत नव औद्योगिककृत देश के रूप में पूरे विश्व में उभर कर आ रहा है। इंडिया नाम का फुल फॉर्म कई हैं इसके हर वर्ड से एक अलग मतलब निकलता हैं।

  • I:-Independent
  • N:-National
  • D:-Democratic
  • I:-lntelligent
  • A:-Area

कुछ लोगों के मतानुसार India का और भी फुल फॉर्म हैं यानी कि इंडिया नाम का और भी कई मतलब जैसे कि

  • I:-independent
  • N:-national
  • D:-declared
  • I:-in
  • A:-August 15
  • I:-independent
  • N:-nuclear
  • D:-development
  • I:-international
  • A:-association

इंडिया क्या हैं 

India एक देश हैं जिसे हिंदी में भारत कहा जाता हैं भारत का इतिहास बहुत ही पुराना हैं भारत की सभ्यता सिंधु घाटी सभ्यता के नाम से जाना जाता हैं भारत इंडिया का सबसे पुराना नाम हैं

उससे भी पहले भारत का नाम आर्यावर्त था लेकिन बाद में अंग्रेजों ने जब भारत पर शासन किया उसके बाद उन्होंने भारत का नाम India रख दिया। भारत एशिया महाद्वीप का एक बहुत बड़ा देश हैं

जनसंख्या के हिसाब से भारत विश्व का सबसे बड़ा दूसरा देश हैं और क्षेत्रफल के हिसाब से भारत विश्व का सातवां सबसे बड़ा देश हैं भारत देश कई महासागरों से घिरा हुआ हैं

जैसे कि दक्षिण में हिंद महासागर हैं भारत के दक्षिण पश्चिम में अरब सागर हैं और भारत के दक्षिण पूर्व में बंगाल की खाड़ी हैं। भारत का एक अधिकारी का नाम भी हैं जैसे कि रिपब्लिक ऑफ इंडिया हिंदी में भारत गणराज्य कहा जाता हैं।

India देश को पहले सोने की चिड़िया कहा जाता था क्योंकि भारत में सोने का खान हुआ करता था लेकिन कई देशों से व्यापारी आकर के भारत से व्यापार करते थे

और यहां से सोना खरीद करके अपने देश ले जाते थे कई व्यापारी तो ऐसे आए जिन्होंने कितना ही सोना चुराकर के यहां से ले गए भारत की संस्कृति समृद्धि आदि बहुत ही लोकप्रिय है

कई लुटेरे व्यापारी मुस्लिम व्यापारी ईरानी व्यापारी तुर्किस्तान आदि भारत में आए और वह भारत का खजाना लूट कर अपने देश ले गए

इंडिया शब्द की उत्पत्ति कब और कैसे हुई

भारत देश का नाम इंग्लिश में इंडिया कहा जाता है भारत का नाम इंडिया अंग्रेजों के भारत से जाने के बाद भारत आजाद होने के बाद ज्यादा प्रसिद्ध हो गया

India शब्द की उत्पत्ति यूनानीयों के द्वारा हुआ प्राचीन समय में भारत में सिंधु नदी बहती थी जो कि बहुत ही प्रचलित नदी थी सिंधु नदी का नाम इंडस वैली भी था तो जब यूनानी भारत में आए

तो उन्होंने इंडस शब्द से हैं India का नाम कर दिया क्योंकि यूनानी इंडो या इंडस सिंधु नदी को बोलते थे और इंडस शब्द लैटिन भाषा में जब गया वहां से इंडिया हो गया

India  पर जब अंग्रेजों का शासन हुआ उससे पहले भारत को हिंदुस्तान नाम से जाना जाता था लेकिन उन्होंने ही भारत का नाम इंडिया सबसे ज्यादा प्रचलित किया

कहा जाता है कि जब यूनानी भारत में आए तो उन्होंने सिंधु नाम को हिंदू कहने लगे क्योंकि इस शब्द को वह उच्चारित करते थे इसीलिए भारत का नाम सिंधु की जगह Hudush हो गया और इसी Hudush से हिंदुस्तान नाम पड़ गया।

इंडिया के कितने नाम हैं 

India यानी कि भारत देश ही एक ऐसा देश हैं जिसके कई नाम हैं भारत कई नामों से पुकारा जाता हैं भारत देश का सभ्यता सबसे पुरानी सभ्यता हैं भारत देश में समय के अनुसार कई विकास और कई अर्थव्यवस्था सही हुआ हैं

और भारत विश्व का एक बेहतरीन देश बन गया हैं भारत के कई नाम हैं जैसे कि आर्यावर्त भारतवर्ष भारत आदि। यह सारे नाम भारत के बहुत ही पुराने हैं भारत नाम हिंदुस्तान भी हैं।

भारत का नाम भारत के एक राजा भरत के नाम पर रखा गया। भारत का नाम पहले सिंध था। ऐसा कहा जाता हैं की भारत की सभ्यता सिंधु घाटी की सभ्यता से जाना जाता हैं

इसलिए पहले  फारसी लोग एस का उच्चारण एच करते थे जिस वजह से सिंध को हिंद कहने लगे। उसके बाद भारत का नाम एक हिंद भी पड़ गया।

इंडिया के बारे में

भारत एक देश हैं जो कि एशिया महाद्वीप का एक बहुत बड़ा देश हैं भारत देश विश्व में क्षेत्रफल के हिसाब से दूसरा सबसे बड़ा देश हैं भारत देश की राजधानी  दिल्ली  हैं।

भारत में 28 राज्य हैं और 9 केंद्र शासित प्रदेश हैं भारत देश में कई भाषाएं बोली जाती हैं कई तरह के संस्कृति हैं कई तरह के सभ्यता हैं भारत में कई तरह के पर्व त्योहार मनाए जाते हैं

भारत में कई धर्म के लोग निवास करते हैं। भारत एक ऐसा देश हैं जहां कई धर्म के लोग एक साथ रहते हैं। भारत एक लोकतांत्रिक देश है यहां पर किसी भी व्यक्ति को अपने अनुसार जीने का पूरी आजादी है

यहां पर कई तरह की भाषा हिंदी उर्दू फारसी अरबी शब्द भी बोले जाते हैं भारत में जितने भी राज्‍य है वहां की सरकार एक केंद्रीय सरकार का नेतृत्व करती है

India में प्राचीन काल से ही कई विदेशी लोग आकर के शासन किये कई बरसों तक मुगल साम्राज्य का शासन रहा कई वर्ष तक ब्रिटिस सरकार का शासन रहा लेकिन 15 अगस्त 1947 में भारत देश स्वतंत्र हुआ

एक गणराज्य देश बना भारत का अपना संविधान बना भारत के वासियों के लिए कई तरह के कानून बनाए गए नियम बनाए गए जिससे कि भारत देश में अर्थव्यवस्था सही हो

विकास हो पहले के अनुसार भारत की राजनीति को बदला गया अंग्रेजों ने भारत में कई तरह के गलत नियम लगा कर के लोगों का जीना मुश्किल कर दिया था।

सारांश 

 इंडिया एक देश हैं और यह एक बहुत ही उन्नत और विकसित देश हैं देश में कई तरह के लोग कई धर्म के लोग और कई अलग-अलग सभ्यता और संस्कृति के लोग एक साथ हंसी-खुशी रहते हैं इस लेख में हमने इंडिया का फुल फॉर्म India के कितने नाम हैं

India क्या हैं के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त की हैं आप लोगों को इस लेख से जुड़े कोई सवाल मन में हैं तो हमें कमेंट करके जरूर पूछें। इस लेख में इंडिया का फुल फॉर्म  के बारे में जाना हैं आप लोगों को यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्‍त मित्रों  को शेयर भी जरूर करें।

Leave a Comment