इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते हैं इंश्योरेंस के 10 प्रकार

इंश्योरेंस क्या हैं Insurance kitne prakar ke hote hai इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते हैंके बारे में अगर आप लोग जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल में बीमा के प्रकार के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी मिलेगी.

बीमा लगभग हर कोई जरूर करवाता हैं चाहे वह अपने जीवन के लिए घर गाड़ी हर चीज के लिए करवाता हैं.

लेकिन असल में इंश्‍योरेंस कितने प्रकार के होते हैं किन किन चीजों के लिए बीमा कराया जा सकता हैं. इससे क्या फायदा हो सकता हैं के बारे में भी जानकारी रखना बहुत ही जरूरी हैं कि इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते हैं क्योंकि बीमा हमारे लिए बहुत ही जरूरी हैं. इंश्योरेंस क्या हैं

Insurance kitne prakar ke hote hai 

बीमा कराने से भविष्य में अगर किसी भी तरह का नुकसान या दुर्घटना होता हैं तो उसका भरपाई बीमा कंपनी मुआवजा के रूप में बीमा करने वाले व्यक्ति को देती हैं. उस व्यक्ति को जो भी आर्थिक नुकसान होता हैं वह बीमा कंपनी के तरफ से जिस तरह का भी इंश्योरेंस कराया गया होगा उसके अनुसार मिल जाता हैं तो आइए जानते हैं कि बीमा कितने प्रकार के कराए जा सकते हैं.

बीमा दो तरह के होते हैं

  • जीवन बीमा
  • साधारण बीमा

insurance kitne prakar ke hote hai

जीवन बीमा क्या हैं

Jeevan में किसी भी व्यक्ति के जीवन के लिए बीमा कराया जाता हैं. ताकि अगर आगे चलकर किसी भी तरह के दुर्घटना की वजह से व्यक्ति का मौत हो जाए तो उसके परिवार को बीमा कंपनी के तरफ से मुआवजा के रूप में पैसे मिलते हैं जिसे की जीवन बीमा पॉलिसी कहा जाता हैं.क्रेडिट कार्ड क्या होता हैं

लाईफ इंश्‍योरेंस कितने प्रकार के होते हैं 

जीवन बीमा में भी कई तरह का बीमा कराया जाता हैं.

  • संपूर्ण जीवन बीमा
  • बंदोबस्ती की योजना
  • टर्म जीवन बीमा
  • यूनिट लिंक्ड बीमा योजना
  • मनी बैक पॉलिसी.

संपूर्ण जीवन बीमा :- संपूर्ण जीवन बीमा में जो बीमा कराया जाता हैं वह पूरे जीवन को कवरेज करने के लिए कराया जाता हैं. यानी उस बीमा की अवधि 100 साल तक रहती हैं.

बंदोबस्ती की योजना :- इसमें जो बीमा कराया जाता हैं उसका लाभ बीमाकर्ता के जो भी नॉमिनी होते हैं उसको मिलता हैं. मान लिजिए कि जितने दिनों का बीमा हैं अगर उसी अवधि में उस व्यक्ति का मृत्यु हो जाता हैं तो उसके जो नॉमिनी होते हैं उसको बीमा का जो भी राशि हैं मिलता हैं.

टर्म जीवन बीमा :- यह एक बहुत ही सस्ता और आसान जीवन बीमा होता हैं. यह जीवन बीमा एक निश्चित समय के लिए होता हैं जैसे कि इसका निश्चित समय 15 से 20 साल तक का होता हैं.

टर्म insurance के फायदे यह हैं कि अगर इंश्योरेंस करने वाला व्यक्ति नहीं रहेगा तो उसके परिवार को एक राशि मिल जाएगी. जिससे कि उनकी जीवन बसर करने में आसानी होगी. लेकिन अगर वह व्यक्ति का निधन बीमा के अवधि में नहीं हुआ तो उसको कोई राशि नहीं मिलती हैं. 

जनरल बीमा या जनरल इंश्योरेंस क्या है

General बीमा उसे कहते हैं जो कि जीवन बीमा के अंतर्गत नहीं आते हैं. जिसमें कि Heath बीमा किसी भी वाहन का बीमा घर के लिए दुकान के लिए यात्रा के लिए बीमा कराया जाता हैं.

इसमें भी जीवन बीमा की तरह ही प्रीमियम का भुगतान किया जाता हैं. इसमें अगर किसी भी गाड़ी का नुकसान होता हैं या घर का नुकसान हैं तो होता हैं तो बीमा कंपनी के तरफ से उसका मुआवजा मिलता हैं.एलआईसी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

जनरल इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते हैं 

जनरल बीमा कई तरह के होते हैं जैसे कि

  • Vehicle insurance or Moter Insurance
  • Health insurance
  • Home insurance
  • Travel insurance
  • Education insurance

मोटर इंश्योरेंस :- इसमें हर तरह के गाड़ी जैसे कि फोर व्हीलर टू व्हीलर या जितने भी सड़क पर चलते हुए हम लोग गाड़ी देखते हैं उसका बीमा होता हैं. अगर दुर्भाग्य से किसी भी गाड़ी का दुर्घटना हो जाता हैं या चोरी हो जाता हैं.

अगर उस समय उस गाड़ी का insurance कराया गया होता है तो बीमा कंपनी के तरफ से जिस तरह का भी पॉलिसी कराया गया होता हैं. उसके अनुसार मुआवजा के रूप में पैसा मिलता हैं ताकि जो भी क्षति उस व्यक्ति को हुआ हैं उसका हर्जाना हो सके.

हेल्थ इंश्योरेंस :- आजकल कई ऐसे रोग हो जाते हैं जिससे कि लोगों का कितना पैसा उस बीमारी को ठीक करा में लग जाता हैं. कई बार तो ऐसा होता हैं कि जिनके पास पैसा नहीं रहता हैं वह बड़ी-बड़ी बीमारी हैं और उस व्‍यक्ति के पास पैसा नहीं होने की वजह से मृत्यु भी हो जाती हैं.

लेकिन अगर कोई स्वास्थ्य बीमा कराता हैं तो उसको अगर किसी भी तरह का बीमारी होता हैं तो उस बीमारी में जितने भी पैसे लगते हैं उसका खर्चा बीमा कंपनी के तरफ से मिल जाता हैं. जिस वजह से की बीमारी का इलाज हो जाता हैं.

होम इंश्योरेंस :- होम insurance यानी कि घर का बीमा कराने से घर के लिए लाभ होता हैं. अगर किसी भी तरह का प्राकृतिक आपदा के वजह से घर गिर जाता हैं या उसे कुछ नुकसान हो जाता हैं. चाहे आग ही लग जाता हैं चोरी हो जाता हैं तो उसका जो भी खर्चा आता हैं उसका भरपाई बीमा कंपनी के तरफ से किया जाता हैं.

ट्रैवेल इंश्योरेंस :- यात्रा बीमा यानी कि ट्रैवल insurance कहीं भी अगर यात्रा में ट्रेन से या हवाई जहाज से जाना हैं तो कराया जाता हैं. यह बीमा जितने अवधि का यात्रा होता हैं उतने तक ही मान्य रहता हैं.

मान लिजिए कि अगर किसी ने यात्रा बीमा कराया हैं और यात्रा के दौरान किसी भी तरह का दुर्घटना हो जाता हैं या सामान का चोरी हो गया किसी भी तरह का नुकसान होता हैं तो बीमा कंपनी के तरफ से उस व्यक्ति को जो भी नुकसान हुआ हैं उसका भरपाई किया जाता हैं.

एजुकेशन इंश्योरेंस :- एजुकेशन insurance यानी कि शिक्षा बीमा कई लोग ऐसे होते हैं जो कि अपने बच्चों को पढ़ाने के लिए उसके पढ़ाई के लिए पैसे इकट्ठे करते हैं. लेकिन जो शिक्षा के लिए बीमा कराता हैं उसे जब बच्चा पढ़ने लायक होता हैं और पैसों का जरूरत होता हैं तो कंपनी के तरफ से मिल जाता हैं.डेबिट कार्ड क्या हैं

बीमा क्यों जरूरी हैं

बीमार व्यक्ति के लिए बहुत ही जरूरी हैं क्योंकि अगर insurance नहीं कराया जाएगा तो कई बार रोड पर चलते हुए हम लोग देखते हैं कि कई गाड़ी को पुलिस पकड़ लेती हैं और उस व्‍यक्ति को जुर्माना भरना पड़ता हैं तो इससे बचने के लिए कम से कम बीमा जरूर कराएं.

बीमा कराने से अगर गाड़ी में किसी भी तरह का दुर्घटना से नुकसान होता हैं तो उसके जो भी पैसे हैं कंपनी के तरफ से मिल जाता हैं. कई लोगों को बड़ी बड़ी बीमारी होने की वजह से जो पैसों के चलते परेशानी होती हैं वह परेशानी बीमा कराने से कम हो जाती हैं.

क्योंकि बीमा कराने से बीमा कंपनी के तरफ से बीमारी के लिए पैसे भी मिल जाते हैं. इसलिए हर व्यक्ति को हर चीज के लिए बीमा भी कराना बहुत ही जरूरी हैं.लाईफ इंश्योरेन्स क्या हैं

 

सारांश

इंश्‍योरेंस कितने प्रकार के होते हैं के बारे में लोगों को शायद कम ही जानकारी होगा.  साधारण बीमा और जीवन बीमा क्या हैं इसके बारे में पूरी जानकारी और बीमा के जो भी प्रकार हैं के बारे में पूरी तरह से इस लेख में बताया गया हैं.

इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते हैं से संबंधित अगर आप लोगों के मन में कोई सवाल हैं तो हमें कमेंट करके जरूर पूछें और insurance kitne prakar ke hote hai कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्त मित्रों को शेयर जरूर करें.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

1 thought on “इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते हैं इंश्योरेंस के 10 प्रकार”

  1. Thank You so much for this useful and informative article which is easy to read. I like your articles a lot because your all articles are amazing and informative for each reader. Keep it up.
    Please if you want to know more about insurance plans, Visit our site too.

    Reply

Leave a Comment