IPS ka Full Form – आईपीएस का फुल फॉर्म क्या होता हैं

आईपीएस का फुल फॉर्म क्या होता हैं IPS ka full form kya hai in hindi आईपीएस क्या हैं आईपीएस कैसे बनते हैं आईपीएस का फुल फॉर्म आईपीएस बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए।यह सारी जानकारी हम लोग इस लेख में प्राप्त करेंगे।आजकल हर कोई सरकारी नौकरी करना चाहता हैं

क्योंकि सरकारी नौकरी में पैसों के साथ-साथ प्रतिष्ठा सम्मान अधिकार सुख सुविधा यह सारी चीजें मिलने लगती हैं इसीलिए सभी छात्र टेंथ ट्वेल्थ पास करने के बाद कड़ी मेहनत करते हैं बहुत ही परिश्रम करते हैं कि सरकारी नौकरी में किसी बड़े पद पर वह जा सके IPS ऑफिसर एक प्रशासनिक पद होता हैं

जोकि आईपीएस बनने के बाद कई सारे अधिकार व्यक्ति को मिल जाता हैं कई तरह के सपने साकार हो जाते हैं।आईपीएस बनना लगभग हर युवा वर्ग के लोगों का एक सपना होता हैं। बहुत युवाओं का यह एक सपना होता हैं कि आईपीएस अधिकारी बन कर समाज में लोगों की सेवा करें

IPS ka full form kya hai in hindi

IPS  एक परीक्षा हैं जिसको पास करके पुलिस अधिकारी बनते हैं आईपीएस अधिकारी बनने के लिए यूपीएससी की परीक्षा दी जाती है जो कि 3 चरणों में होता है पहले प्रारंभिक परीक्षा मेंस और उसके बाद इंटरव्यू होता है

आईपीएस अधिकारी का पद बहुत ही सम्मानित और प्रतिष्ठित होता है पुलिस अधिकारी में सबसे प्रमुख आईपीएस होते हैं भारत में पुलिस सेवा में तीन नागरिक सेवा होता है आईएएस आईपीएस और आईएफएस जिसमें आईपीएस इन तीनों नागरिक सेवाओं में से एक होता है

IPS ka full form kya hai in hindi

1948 में भारतीय पुलिस सेवा का स्थापना किया गया था आईपीएस अधिकारियों की देखरेख गृह मंत्रालय के अंतर्गत आता हैआईपीएस का फुल फॉर्म इंडियन पुलिस सर्विस होता हैं। आईपीएस को हिंदी में भारतीय पुलिस सेवा कहा जाता हैं आईपीएस की परीक्षा UPSC संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा होता हैं।

IPS ka full form:- Indian police service.

आईपीएस परीक्षा के बाद पुलिस अधिकारी बनते हैं पुलिस अधिकारी का काम समाज में हो रहे अन्याय अत्याचार और बहुत ही तेजी से बढ़ रहे अपराधों को कम करना और कानून व्यवस्था को अच्छे से बनाए रखना होता हैं।

आईपीएस एक प्रशासनिक पदों में सबसे ऊंचा पद होता हैं IPS में जो भी पास करता हैं  उसके पास पुलिस डिपार्टमेंट का पूरा पावर भी मिल जाता हैं।

IPS अधिकारी को हमारे समाज में बहुत ही सम्‍मान की दृष्टि से देखा जाता हैं IPS हिन्‍दी में भारतीय पुलिस सेवा होता हैं आईपीएस का फुल फॉर्म इंग्‍लिस में इंडियन पुलिस सर्विस होता हैं।

आईपीएस का स्थापना कब हुआ

IPS का का शुरुआत अंग्रेजों के शासनकाल में 1861 में हुआ था उस समय आईपीएस का नाम भारतीय इंपीरियल पुलिस (Indian Imperial police)था।

लेकिन जब 1947 में हमारा भारत देश आजाद हुआ इसके बाद भारतीय इंपीरियल पुलिस का नाम बदलकर भारतीय पुलिस सेवा कर दिया गया जिसे इंग्लिश में इंडियन पुलिस सर्विस कहा जाता हैं।

तब से लेकर आज तक यूपीएससी के द्वारा IPS परीक्षा होता हैं और उसमें बहुत सारे युवा अपनी योग्यता के अनुसार पास करके अलग-अलग रैंक के अनुसार उन्हें अलग अलग पद मिलता हैं।

IPS kya hai

जो भी आईपीएस अधिकारी बनता हैं वह व्यक्ति कानून और समाज के लोगों में अपना विश्वास लेकर के बहुत ही सजग रहने की आवश्यकता होती हैंभारत में तीन नागरिक सेवाएं हैं आईएएस IPS और आईएफएस। इसलिए आईपीएस अधिकारी का पद बहुत ही सम्मानित प्रतिष्ठित माना जाता हैं

IPS  एक पुलिस अधिकारी का सबसे महत्वपूर्ण और प्रमुख पद होता हैं जोकि यूपीएससी यानी कि संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा आईपीएस का परीक्षा होता हैं आईपीएस अधिकारी बनने के लिए बहुत ही लगन मेहनत और धैर्य की जरूरत होती है क्योंकि यूपीएससी का एग्जाम बहुत हाई लेवल का एक परीक्षा होता है

बहुत कम ही छात्र सफल हो पाते हैं इनको कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सही तरीके से कार्य करने के लिए बहुत ही कड़ी ट्रेनिंग दी जाती है देश के विकास में एक आईपीएस अधिकारी का बहुत ही बड़ा योगदान होता है क्योंकि किसी भी तरह के अपराधिक मामले की रोकथाम करना किसी भी तरह के तस्करी को रोकना आईपीएस अधिकारी का कार्य होता है।

आईपीएस परीक्षा पास करने के बाद पुलिस डिपार्टमेंट में उनके रैंक के अनुसार पद मिलता हैं। आईपीएस का पद पूरे पुलिस डिपार्टमेंट में सबसे ऊंचा होता हैं और आईपीएस अधिकारी के पास पुलिस डिपार्टमेंट का सारा पावर होता हैं पुलिस डिपार्टमेंट का तीन नागरिक सेवा

जैसे कि आईएएस आईपीएस और आईएएस होता है जिसमें आईपीएस इन्हीं तीन मुख्य नागरिक सेवाओं में से एक हैं और यह प्रमुख नागरिक सेवा हैं।

आईपीएस कैसे बनते हैं

IPS बनने के लिए संघ लोक सेवा आयोग जिसका शर्ट फॉर्म यूपीएससी हैं के द्वारा हर साल सिविल सर्विस के लिए परीक्षा कराई जाती हैं उसमें पास होना पड़ता हैं।

आईपीएस की परीक्षा बहुत ही हार्ड परीक्षा होता हैं आईपीएस बनाने के लिए यूपीएससी जैसा मुश्किल एग्जाम पास करना पड़ता हैं

उसमें जो भी छात्र जैसा रैंक लाते हैं उसी के अनुसार उन्हें उन्हें पुलिस डिपार्टमेंट में पद मिलता हैं। आईपीएस अधिकारी का काम समाज में फैल रहे भ्रष्टाचार और अपराध का रोकथाम करना होता हैं

समाज में के लोगों का सुरक्षा और संरक्षण करना IPS अधिकारी का प्रमुख कार्य होता है। आईपीएस अधिकारी बनने के लिए पहले परीक्षा देना पड़ता हैं

अगर परीक्षा में पास हो गए तो उसके बाद कंपटीशन एग्जाम करके अच्छे रैंक हासिल करके बना जा सकता हैं आईपीएस एग्जाम देने के लिए बहुत ही खड़ा मेहनत करना पड़ता हैं

क्योंकि यह एक पुलिस डिपार्टमेंट का बहुत ही अच्छी पोस्ट मानी जाती हैं आईपीएस अफसर किसी भी राज्य के और केंद्र के सरकार के लिए काम करते हैं

इनका जॉब या इनका तैनाती किसी भी राज्य में पूरे भारत में किया जा सकता हैं आईपीएस अधिकारी गृह मंत्रालय के अधीन कार्य करते हैं इसलिए IPS अधिकारी बनने के लिए बहुत ही हार्ड वर्क के साथ बहुत ही धैर्य की जरूरत होती हैं

आंखों की दृष्टि शारीरिक योग्यता सूझ बुझ समाज में किस तरह से क्‍या करना हैं देख कर ही आईपीएस अधिकारी बनाया जाता हैं

आईपीएस बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए

यूपीएससी के द्वारा परीक्षा पास करके आईपीएस अधिकारी बनते हैं

आईपीएस अधिकारी बनने के लिए प्रमुख योग्यता होना चाहिए।

  • IPS बनने के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन होना चाहिए।
  • IPS बनने के लिए भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • आईपीएस परीक्षा में उम्र कम से कम 21 वर्ष और ज्यादा से ज्यादा 32 वर्ष होना चाहिए। इसमें भी आरक्षण के अनुसार ओबीसी को 3 साल का छूट रहता हैं और एससी एसटी का 5 साल का छूट रहता हैं।
  • आईपीएस अधिकारी का काम कानून व्यवस्था को अपने क्षेत्र में अच्छे से बनाए रखना और समाज में अपराध को कम करने की जिम्मेदारी रहती हैं।

आईपीएस अधिकारी का क्‍या कार्य होता हैं

जो व्यक्ति आईपीएस एग्जाम पास करता हैं उसे IPS अधिकारी कहा जाता हैं देश में जो कानून व्यवस्था हैं उसको सही बनाए रखना कानून व्यवस्था का कोई गलत इस्तेमाल न करें इसका देखरेख करना आईपीएस अधिकारी का कार्य होता हैं

जितने भी अपराध समाज में देश में राज्य में होते हैं उन अपराधों पर कंट्रोल करना उन अपराधों को रोकना इन अपराधों को करने वाले अपराधियों को पकड़ना एक आईपीएस अधिकारी का जिम्मेदारी होता हैं यातायात प्रबंधन का देखरेख करना आईपीएस अधिकारी का ही कार्य होता हैं

आईपीएस अफसर जितने भी देश में कानून व्यवस्था हैं उनका एक अभिन्न अंग होते हैं  एक पार्ट होते हैं जिन्हें क्राइम को कंट्रोल करना क्राइम को रोकना क्राइम पर किस तरह से कब कैसे एक्शन लेना हैं इसके बारे में आईपीएस अधिकारी को पता होता हैं

जब देश में कहीं मानव तस्करी होता है नशीली दवाओं का कोई तस्करी करता है सीमा पर सुरक्षा का देखरेख करना होता है आतंकवाद को रोकने के लिए कार्यवाही करना है रेलवे में किसी भी तरह के साइबर अपराधी या पुलिस को अधिकारियों की देखरेख करनी है

उस पर नजर बनाए रखने का कार्य आईपीएस अधिकारी करते हैं अगर कोई कुख्यात अपराधी है वह पकड़ में नहीं आ रहा है तो उसको पकड़ने के लिए योजना बनाना तैयारी करना अपराधियों से अपराध को रोकथाम करने से संबंधित किसी भी तरह का देखरेख करना है तो एक आईपीएस अधिकारी का हीं यह जिम्मेदारी होता है देश में जो कानून व्यवस्था है उसमें आईपीएस ऑफिसर एक महत्वपूर्ण अंग होते हैं।

आईपीएस को कौन सी सुविधाएं मिलती हैं

किसी भी गवर्नमेंट जॉब में या प्राइवेट जॉब में किसी अच्छी पोस्ट पर कोई जॉब करता है तो उसे कई तरह की सुविधाएं भी मिलती है इसी तरह एक आईपीएस अधिकारी को एक अच्छी सैलरी के साथ-साथ और भी कई तरह के सुविधाएं सरकार की तरफ से दिया जाता है

आईपीएस अधिकारी के लिए और उनके फैमिली के लिए रहने के लिए घर सरकार की तरफ से मिलता है कहीं भी आने जाने के लिए गाड़ी मिलता है कहीं भी आते जाते समय साथ जाने के लिए सुरक्षा के लिए सिक्योरिटी गार्ड भी मिलते हैं

किसी भी तरह के चिकित्सा करवाना है तो उसके लिए भी फ्री होता है जिस घर में रहते हैं उसमें बिजली पानी फोन फ्री होता है अगर किसी आईपीएस अधिकारी की ड्यूटी के दौरान जान चली जाती है तो उसके फैमिली से एक सदस्य को सरकार की तरफ से गवर्नमेंट जॉब दिया जाता है।

सारांश

आईपीएस अधिकारी पुलिस डिपार्टमेंट का सबसे प्रमुख पद होता हैं। आईपीएस अधिकारी के पास पुलिस डिपार्टमेंट का सबसे महत्वपूर्ण पावर होता हैं आईपीएस बनना हर युवा वर्ग का एक ड्रीम होता हैं।

इस लेख में हम लोगों ने आईपीएस का फुल फॉर्म के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त की हैं।इस लेख से जुड़े कोई सवाल आपके मन में है तो हमें कमेंट करके जरूर पूछें।

इस लेख में आईपीएस का फुल फॉर्म क्‍या होता हैं के बारे में पूरी जानकारी दी गई हैं आप लोगों को यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्त मित्रों को शेयर जरूर करें।

Leave a Comment