लाईफ इंश्योरेंस क्या है लाभ 8 प्रकार

जीवन बीमा क्या हैं Life insurance in hindi जीवन बीमा क्यों कराना चाहिए जीवन बीमा यानी कि लाईफ इंश्योरेन्स कितने प्रकार का कराया जाता हैं जीवन बीमा तो सभी लोग कराते हैं लेकिन उसका फायदा लाभ जानना भी बहुत ही जरूरी हैं.

अगर आप लोगों को लाईफ इंश्योरेन्स और जीवन बीमा से क्या फायदा हैं के बारे में जानना हैं तो इस लेख में जीवन बीमा से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त होगी.

बीमा कई तरह के होते हैं जैसे कि हेल्थ इंश्योरेन्स मोटर इंश्योरेन्स लाईफ इंश्योरेन्स होम इंश्योरेन्स ट्रैवल इंश्योरेन्स आदि कई तरह के Insurance कराया जाता हैं लेकिन जीवन बीमा किसी भी व्यक्ति के लिए कितना आवश्यक हैं यह क्‍यों कराना चाहिए क्यों जरूरी हैं इसके बारे में इस लेख में पूरी जानकारी जरूर मिलेगी. इंश्योरेंस क्या हैं

What is Life Insurance in hindi 

लाईफ इंश्योरेन्स किसी भी व्यक्ति और किसी भी बीमा कंपनी के बीच में एक संविदा के रूप में यह तय किया जाता हैं की अगर उस व्यक्ति का मृत्यु हो गया किसी भी तरह का दुर्घटना हो गया तो उस व्यक्ति ने जितना भी रुपए का पॉलिसी यानी कि बीमा कराया हैं.

उसके बदले उस व्यक्ति को बीमा कंपनी के तरफ से एक निश्चित राशि मिलेगा या लाईफ इंश्योरेन्स में एक निश्चित समय तक का भी बीमा कराया जाता हैं इतना समय पूरा होने के बाद जितने भी रुपए का उसने बीमा कराया हैं उसका एक मुश्त रकम बीमा कंपनी के तरफ से मिलता हैं.

life insurance in hindi

जो व्यक्ति बीमा कराता हैं उसको बीमा धारक कहा जाता हैं. इस तरह Life Insurance यानी कि जीवन बीमा कई तरह के होते हैं किसी Life Insurance में समय निर्धारित होता हैं कि इतने समय तक प्रीमियम जमा करने के बाद जिस व्यक्ति के नाम से बीमा कराया गया हैं.

उसे जब चाहे प्राप्त कर सकता हैं कई Life Insurance ऐसे होते हैं जोकि किस व्यक्ति के मृत्यु के बाद उसके परिवार जनों को ही मिलता हैं जीवन बीमा के किसी भी व्यक्ति के पूरे जीवन को कवर करने के लिए ही कराया जाता हैं.एलआईसी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

जीवन बीमा कितने प्रकार के होता हैं 

जीवन बीमा तो कई प्रकार के होते हैं जिसको जिस तरह का Life Insurance प्लान का चुनाव करना होता हैं. कोई अपने खुद के जीवन के लिए बीमा कराता हैं तो कोई अपने परिवार के लिए निवेश करने के लिए उसका रिटर्न पाने के लिए कराता हैं तो आईए नीचे जानते हैं कि जीवन बीमा कितने प्रकार का होता हैं.

सेविंग एंड इन्वेस्टमेंट प्लांस :- सेविंग और इन्वेस्टमेंट Life Insurance प्लान में बीमा कंपनी के तरफ से उस व्यक्ति को और उसके परिवार को भविष्य में होने वाले खर्चों के लिए एक फंड देने का भरोसा दिलाया जाता हैं. सेविंग एंड इन्वेस्टमेंट लाईफ इंश्योरेन्सe बीमा धारक के पूरे परिवार को एक धनराशि के रूप में उसके जीवन को कवर करता हैं.

टर्म इंश्योरेन्स प्लांस :- टर्म इंश्योरेन्स प्लान कुछ निश्चित समय के लिए कराया जाता हैं इसमें एक निश्चित समय रहता हैं कि इतने दिनों में बीमा धारक को और उसके परिवार को कवर करेगा.

जैसे कि 10 साल 20 साल 30 साल तक का समय इस टर्म Insurance प्लान में निश्चित रहता हैं और अगर बीमा के निश्चित समय से पहले ही उस व्यक्ति का मृत्यु हो जाता हैं तो बीमा कंपनी के तरफ से कुछ तय की हुई रकम बीमा धारक के फैमिली को मिलता हैं.

एंडोमेंट पॉलिसी :- एंडोमेंट पॉलिसी के तहत कुछ निश्चित समय के लिए बीमा धारक रिस्क कवर की तरह होता हैं इस पॉलिसी में पॉलिसी धारक को अगर जितना दिन का पॉलिसी कराया गया हैं अवधि खत्म हो जाता हैं.

तो उसे बोनस के साथ रकम मिलते हैं लेकिन अगर निश्चित अवधि से पहले उसका मृत्यु हो जाता हैं या किसी भी तरह का गंभीर बीमारी हो जाता हैं तो बीमा कंपनी के तरफ से बीमा धारक को पूरा राशि मिलता हैं.

मनी बैक इंश्योरेन्स पॉलिसी :- मनी बैंक Insurance पॉलिसी अन्‍य पॉलिसी प्रीमियम से ज्यादा लगता हैं क्‍योंकि इसमें प्रीमियम जमा करने के बाद किस्तों में बीमा धारक को पैसा मिलता हैं लेकिन अगर लास्ट किस्त खत्म होने से पहले उस व्यक्ति का मृत्यु हो जाता हैं तो बीमा कंपनी के तरफ से पूरा पैसा मिलता हैं.

आजीवन लाईफ इंश्योरेन्स :- Whole life insurance plan यानी कि अजीवन लाईफ इंश्योरेन्स कराने पर बीमा धारक को जीवन भर बीमा कंपनी के तरफ से प्रोटेक्शन मिलता रहता हैं इसमें बीमा धारक जब तक जीवित रहेगा तब तक बीमा कंपनी की तरफ से उसे प्रोटेक्शन मिलता रहेगा.

लेकिन जब उस व्यक्ति का मृत्यु हो जाएगा तो उसके बाद उसके परिवार को या जो नॉमिनी हैं उसके क्लेम करने पर उसको क्लेम के रूप में एक राशि मिलता हैं अजीवन लाईफ इंश्योरेन्स प्लान में प्रीमियम बहुत ही ज्यादा लगता हैं लेकिन यह बीमा धारक को जीवन भर प्रोटेक्ट करते रहता हैं चाहे वह 95 साल तक की उम्र तक ही क्यों न जीवित हो.

यूलिप लाईफ इंश्योरेन्स प्लान :- यूलिप Life Insurance प्लांट में रिटर्न होने की कोई भी गारंटी बीमा कंपनी के तरफ से नहीं मिलती हैं लेकिन ज्यादा आशा रिटर्न होने का ही इसमें होता हैं.

चाइल्ड इंश्योरेन्स पॉलिसी :- चाइल्ड Insurance पॉलिसी कोई भी व्यक्ति अपने बच्चों के अच्छे भविष्य के लिए उसके पढ़ाई के खर्चे के लिए करा सकता हैं चाइल्ड प्लान एक ऐसा Life Insurance हैं जिसके तहत अगर पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाती हैं.

और अगर वह पॉलिसी का प्रीमियम नहीं भरता हैं तो भी वह पॉलिसी खत्म नहीं होता हैं और जब बीमा धारक के बच्चे बड़े हो जाते हैं या एक निश्चित अवधि के बाद बीमा धारक के बच्चों को वह पॉलिसी के जितने भी पैसे होते हैं कंपनी के तरफ से दिए जाते हैं.

रिटायरमेंट प्लान :- रिटायरमेंट प्लान Life Insurance कई लोग अपने आगे के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए कराते हैं. इस प्लान के तहत व्यक्ति को जो अवधि निश्चित की होती हैं उसके बाद एक पेंशन की तरह महीने में 6 महीने या साल के आधार पर बीमा कंपनी के तरफ से मिलता हैं.डेबिट कार्ड क्या हैं

लाईफ इंश्योरेन्स क्यों जरूरी हैं

लाईफ इंश्योरेन्स हर व्यक्ति के लिए बहुत ही जरूरी  हैं यह बीमा किसी भी व्यक्ति को इमरजेंसी में या उसके बुरे वक्त में सुरक्षा प्रदान करता हैं. जीवन बीमा करके एक तरह से पैसों का सेविंग या इन्वेस्टमेंट भी किया जाता हैं. जीवन बीमा कराने से कोई भी व्यक्ति अपने आप का जीवन या अपने परिवार के जीवन को सुरक्षा प्रदान करता हैं.

जीवन बीमा 1 तरह के कमाई की तरह हैं जोकि प्रीमियम जमा करने के बाद व्यक्ति जब चाहे अपना पैसा निकाल सकता हैं. जिस वजह से उस व्यक्ति को किसी दूसरे से पर निर्भर होने का कोई जरूरत नहीं रह जाता हैं.

लाईफ इंश्योरेन्स से क्या लाभ हैं 

लाईफ इंश्योरेन्स जो भी व्यक्ति कराता हैं वह उस बीमा धारक के साथ-साथ उसके परिवार वालों को भी पूरी तरह से उसके जीवन को कवरेज करता हैं.

क्योंकि बीमा कराने पर बीमा कंपनी के तरफ से एक निश्चित समय तक सुरक्षा के साथ-साथ बहुत ही अच्छे रिटर्न का सुविधा भी मिल जाता हैं. अगर कोई व्यक्ति लोन लेना भी चाहता हैं तो वह अपने बीमा पर बहुत ही आसानी से लोन ले सकता हैं.

लेकिन 3 साल तक उस बीमा का प्रीमियम भरा होना चाहिए उसके बाद ही उस बीमा पर लोन मिल सकता हैं. अगर कोई व्यक्ति Life Insurance करवाता हैं तो उसके जीवन को तो जरूर कवर होता ही हैं लेकिन अगर किसी दुर्घटना बस उसकी मृत्यु हो जाती हैं तो उसके परिवार को भी बीमा कंपनी के तरफ से बहुत ही अच्छी राशि मिल जाती हैं.हेल्‍थ इंश्योरेंस क्या हैं

 

सारांश

बीमा तो कई तरह से कराया जाता हैं लेकिन लाईफ इंश्योरेन्स यानी कि जीवन बीमा जो कि किसी भी व्यक्ति के पूरे जीवन को कवरेज करता हैं साथ ही अगर उस व्यक्ति का मृत्यु हो जाता हैं तो उसके परिवार को किसी के भी आगे हाथ फैलाना नहीं पड़ता हैं.

क्योंकि उस बीमा के तहत बीमा कंपनी के तरफ से उसे एक मुश्‍त राशि मिल जाता हैं जिस वजह से उसके परिवार वालों को बहुत ही सहायता मिल जाता हैं परिवार के लोगों को किसी के आगे हाथ नहीं फैलाना पढ़ता हैं  इसलिए मेरा मानना हैं कि हर व्यक्ति को Life Insurance अपने जीवन को प्रोटेक्शन देने के लिए जरूर कराना चाहिए.

बीमा कराने के लिए कई कंपनियां हैं तो जिसको जिस कंपनी पर भरोसा हैं अपने अनुसार किसी से भी किसी भी कंपनी से करा सकता हैं. इस लेख में जीवन बीमा क्या हैं यानी कि लाईफ इंश्योरेन्स के बारे में Life Insurance कितने प्रकार का होता हैं Life Insurance से क्या लाभ हैं.

यह सारी जानकारी दी गई हैं फिर भी अगर इस लेख से जुड़े कोई सवाल या सुझाव आपके मन में हैं तो कमेंट करके जरूर पूछें और यह लेख आप लोगों को कैसा लगा कृपया हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्त मित्रों को और अन्य सोशल साइट्स पर शेयर जरूर करें ताकि यह जानकारी और भी लोगों तक पहुंच सके.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment