मंगलवार और शनिवार को करे ये उपाय, होगी हनुमान जी की कृपा । सभी मनोकामना होगी पूरी

हनुमान जी उपाय। Mangalwar Remedies Hanuman ji upay, भगवान के परम भक्त हनुमान जी की आशीर्वाद पाना चाहते हैं। हनुमान जी की कृपा दृष्टि अपने आप पर पाना चाहते हैं, तो मंगलवार शनिवार को हनुमान जी की कृपा प्राप्त करने के लिए कुछ जरूरी उपाय करना होगा।

हनुमान जी की सबसे प्रिय दिन मंगलवार और शनिवार को माना जाता है। हनुमान जी की कृपा पाने के लिए मंगलवार या शनिवार को विशेषकर के हनुमान जी का पूजा करना चाहिए।

वैसे लोग जिनके कुंडली में शनि का प्रभाव है जिसके कारण उनका दिनचर्या या उनके जीवन में कठिनाई आ रही है। उन लोगों के लिए विशेष करके हनुमान जी का आराधना पूजा करना चाहिए।

Mangalwar Remedies Hanuman ji upay

Mangalwar Remedies: धार्मिक मान्यताओं के अनुसार हनुमान जी अष्ट सिद्धि के दाता हैं। हनुमान जी को भगवान का रूप माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि रामअवतार और द्वापर के बाद भी भगवान हनुमान जी ही ऐसे हैं, जो कि अभी भी कलयुग में धरती पर निवास करते हैं।

Mangalwar Remedies Hanuman ji upay

वैसे भगवान हनुमान जी की वंदना यदि मंगलवार और शनिवार को करते हैं, तो जितने भी शनि से संबंधित प्रकोप कुंडली में हुए सभी समाप्त हो जाते हैं।

वैसे हनुमान जी की पूजा तो नियमित रूप से करना चाहिए तथा विशेष करके मंगलवार को तो अवश्य ही करना चाहिए। मंगलवार को यदि आप हनुमान जी का व्रत करते हैं और शाम में पूजा करके हनुमान जी का स्तुति करते हैं। सुंदरकांड का पाठ करते हैं। हनुमान चालीसा का पाठ किसी भी हनुमान मंदिर में जाकर के करते हैं, तो इससे विशेष लाभ प्राप्त होता है।

रामचरितमानस के सुंदरकांड का पाठ करने से शनि का दोष समाप्त हो जाता है तथा हनुमान जी की कृपा होती है।

वैसे नियमित रूप से अगर प्रत्येक मंगलवार और शनिवार को सुंदरकांड का पाठ करते हैं तो आपके जीवन में जो भी परेशानियां हैं वह समाप्त हो जाएंगी।

रामचरितमानस के आठों कांड में प्रमुख सुंदरकांड में भगवान श्री राम के परम भक्त हनुमान जी के बारे में प्रकाश डाला गया है। जिसमें हनुमान जी की शक्ति एवं साहस का व्याख्या किया गया है। कैसे हनुमान जी ने लंका में रावण को ज्ञान दिया और किस तरह से लंका दहन किया। इसके बारे में आप सुंदरकांड में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। जिससे आपके जीवन में जो भी परेशानी और कष्ट है भगवान के परम भक्त हनुमान जी की कृपा से सुंदरकांड के पाठ करने से वह सभी परेशानियां समाप्त हो जाता है।

मंगलवार को करें यह उपाय

मंगलवार को सुबह जगने के बाद स्‍नान ध्यान करने के बाद हनुमान जी का विशेष तरह से पूजा करें। सुंदरकांड का पाठ करें। पाठ करते समय मिट्टी के दीपक में दीप जलाएं। तब तक दीप जलाकर रखें जब तक आप सुंदरकांड का पाठ करते हैं।

यदि आपके कार्यक्षेत्र में किसी प्रकार की बाधा आ रही है और आप परेशानियों में है तो आप मंगलवार के दिन हनुमान जी का इस तरह से पूजा करें। हो सके तो मंगलवार के दिन पूरा दिन व्रत भी रखें।

मंगलबार और शनिवार के दिन यदि आपकी किसी प्रकार की मनोकामना है जो पूरी नहीं हो रही है, तो आप विशेष करके मंगलवार और शनिवार को 11 पीपल के पत्ते सुबह से पानी में साफ करके रख ले। उसके बाद चंदन से उन पत्‍तों पर श्री राम का नाम लिखें। उसके बाद किसी भी हनुमान मंदिर में जाकर के हनुमानजी को अर्पित करें। इससे आपकी जो भी मनोकामना है वह जल्द पूरी हो जाएगी।

मंगलवार और शनिवार को किसी भी हनुमान मंदिर में इन चीजों को अर्पित करने से भी लाभ होता है। जैसे 11 काले उड़द के दाने, चमेली का तेल, फूल, सिंदूर इत्यादि को हनुमानजी को अर्पित करते हैं तो इससे भी आपका मनोकामना पूर्ण होगा। विशेष करके नियमित रूप से सुंदरकांड का पाठ हनुमान चालीसा का पाठ यदि आप करते हैं तो इससे आपके सारे दुख कष्ट दूर हो जाएंगे।

यदि आपकी कुंडली में अशुभ ग्रहों का प्रभाव है। जिसके कारण आपके जीवन में कठिनाई आ रही हैं, तो आप मंगलवार के दिन सरसों के कच्ची घानी का तेल का दीपक लॉन्ग डालकर जला सकते हैं। उससे हनुमान जी का आरती कर सकते हैं। इससे भी आपके जीवन में आ रही कठिनाई परेशानियां दूर होगी और आपके जीवन में सुख समृद्धि की प्राप्ति होगी।

यदि आपकी कुंडली में अनेक प्रकार के ग्रहों का उल्टा प्रभाव पड़ रहा है, तो आप इन सभी प्रभावों से बचने के लिए पीपल के नीचे बैठ कर के भी हनुमान चालीसा या सुंदरकांड का पाठ करते हैं तो इससे भी आपको विशेष लाभ होगा।

रामचरितमानस संदेश – Ramcharitmanas in hindi

Leave a Comment