NCC ka Full Form – एनसीसी का फुल फॉर्म क्या होता हैं

एनसीसी क्या हैं Ncc ka full form kya hai in hindi एनसीसी का स्थापना कब हुआ। एनसीसी को हिंदी में क्या कहते हैं। एनसीसी के बारे में पूरी जानकारी आप लोगों को इस लेख में मिलेगा।देश के युवाओं के लिए सेना में भर्ती होने के लिए तैयारी करने के लिए एनसीसी से बेहतर कोई विकल्प नहीं हैं।

आजकल के बहुत बच्चे हैं जो कि चाहते हैं कि वह सेना में भर्ती हो जाए। उसकी तैयारी अच्छे से कर सके उसके लिए ट्रेनिंग क्लास शुरू करें सेना में कैसे अनुशासन सिखाया जाता हैं। कैसे हथियार चलाना सिखाया जाता हैं। युवाओं में भाईचारा का गुण बढ़ाने के लिए यह सारी जानकारी लेने के लिए एनसीसी ज्वाइन करना सबसे अच्छा हैं।

लेकिन उससे पहले एनसीसी के बारे में जानना सबसे जरूरी हैं। इस लेख में आप लोगों को एनसीसी के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त होगी। आइए नीचे जानते हैं एनसीसी का फुल फॉर्म क्या होता हैं और एनसीसी कैसे अपना काम करते हैं।

Ncc ka full form kya hai in hindi

NCC में सेना में भर्ती होने के लिए ट्रेनिंग दिया जाता हैं। एनसीसी फ्यूचर फोर्स बनाता हैं। वह छात्रों को ट्रेंड करके आगे चलकर सेना में भर्ती होने के लायक तैयार कर देता हैं। एनसीसी में तीनों सेनाओं के लिए ट्रेनिंग दिया जाता हैं।

जो भी सेना में भर्ती होने के लिए पर्सनालिटी होती हैं। फोर्स में जिस चीज की जरूरत होती हैं। उन सारी चीजों की ट्रेनिंग एनसीसी में दिया जाता हैं। ncc ka full form नेशनल कैडेट कॉर्प्स होता हैं।

  • N:-national
  • C:-cadet
  • C:-corps

ncc ka full form

NCC kya hai

एनसीसी एक तरह का यूनिट हैं। जिसमें बच्चों का भविष्य सुनहरा और संवारने का काम किया जाता हैं। इसमें बच्चों में देशभक्ति, एकता, अनुशासन के भावनाओं को जागृत करने का एक बहुत ही अच्छा कार्य किया जाता हैं।

एनसीसी में देश के तीनों सेनाओं जल सेना, थल सेना और वायु सेना सभी के लिए ट्रेनिंग दिया जाता हैं। बच्चों को फोर्स में जाने के लिए पूरी तरह से तैयार किया जाता हैं।

एनसीसी किसी भी स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी के छात्रों को सैन्य प्रशिक्षण और एकता, देशभक्ति, अनुशासन सिखाया जाता हैं। यह आर्मी, नेवी और एयरफोर्स के लिए अगर कोई बच्चा आगे चलकर जाना चाहता हैं तो उसके लिए बहुत ही अच्छा ट्रेनिंग सेंटर हैं।

एनसीसी को ट्रायंगल सर्विस ऑर्गेनाइजेशन भी कहा जाता हैं। इस ऑर्गेनाइजेशन को कोई भी स्टूडेंट अगर चाहें तो अपनी इच्छा के अनुसार ज्वाइन करके ट्रेनिंग ले सकता हैं।

NCC का ट्रेनिंग कई बार गांव में भी ट्रेनिंग कैंप लगाकर बच्चों को ट्रेनिंग दिया जाता हैं। इसमें जो भी बच्चा रुचि रखते हैं वह जाकर इसमें ट्रेनिंग ले सकते हैं। एनसीसी को त्रिकोणीय सेवा संगठन कहा जाता हैं क्योंकि इसमें तीनों सेनाओं के लिए ट्रेनिंग दिया जाता हैं।

NCC ki sthapna kab hui

NCC का स्थापना 15 जुलाई 1948 में हुआ था। लेकिन इसके बारे में 16 अप्रैल को पंडित हरा दयाल नाथ कुंजरू के अगुवाई में तय किया गया था। और इसे 15 जुलाई को स्थापित किया गया। एनसीसी में बेसिक मिलिट्री ट्रेनिंग दिया जाता हैं।

एनसीसी के विकास लिए में पंडित जवाहरलाल नेहरू ने बहुत कार्य किया था। उन्होंने ही एनसीसी के सभी सिलेबस को चेंज किया था। एनसीसी में हर तरह के अस्त्र-शस्त्र चलाने का प्रशिक्षण छात्रों को दिया जाता हैं। ।

1950 में वायु सेना को भी एनसीसी से जोड़ा गया। NCC का मुख्यालय दिल्ली में हैं। एनसीसी का झंडा तीन रंग का होता हैं। लाल, नीला और आसमानी और झंडे में नीचे की तरफ एकता और अनुशासन लिखा रहता हैं। एकता और अनुशासन एनसीसी का अपना एक टैगलाइन हैं।

एनसीसी का क्या लक्ष्य हैं 

एनसीसी एक तरह का स्‍टूडेंट में फोर्स के प्रति लगाव और देश भक्ति बढ़ाने का एक जरिया हैं। इसमें जो आजकल के युवा पीढ़ी हैं उनमें अपने देश के प्रति भक्ति अनुशासन और एकता को जागृत किया जाता हैं।

एनसीसी का सबसे जो मुख्य लक्ष्य हैं वह देश के युवाओं के जरिए सेना की सहायता करना हैं। एनसीसी का टैगलाइन ही एकता और अनुशासन हैं। इसी से पता लगाया जा सकता हैं कि इसमें छात्रों में एकता और अनुशासन को सिखाया जाता हैं।

NCC का लक्ष्य नए युवा पीढ़ी को चरित्र भाईचारा सिखाना भी हैं। इसमें ट्रेनिंग लेकर बहुत छात्र सैन्य बलों में शामिल हो रहे हैं।

NCC full form in hindi

NCC को हिंदी में राष्ट्रीय सैनिक छात्र दल कहा जाता हैं। क्योंकि इसमें स्कूल कालेज यूनिवर्सिटी के छात्र छात्राओं को ही बुनियादी सैन्य प्रशिक्षण दिया जाता हैं।

एनसीसी का फुल फॉर्म इंग्लिश में नेशनल कैडेट कॉर्प्स कहा जाता हैं। एनसीसी के माध्‍यम से पूरे देश भर में बेसिक मिलिट्री ट्रेनिंग प्रदान किए जाते हैं।

एनसीसी में क्या सिखाया जाता हैं

NCC में जिस तरह से फोर्स में ट्रेनिंग दिया जाता हैं। उसी तरह से इसमें भी ट्रेनिंग दिया जाता हैं। दुश्मन से कैसे सामना करना हैं। फोर्स में भर्ती होने के बाद आपको वहां कैसे रहना हैं। यह सारे गुण सिखाए जाते हैं।

एनसीसी एक त्रिकोणीय सेवा संगठन हैं। जिसमें थल सेना, जल सेना और वायु सेना तीनों की ट्रेनिंग बहुत ही बेहतर तरीके से दिया जाता हैं। इसमें छात्रों को छोटे छोटे हथियार चलाना सिखाया जाता हैं।

26 जनवरी या 15 अगस्त को जब लाल किला पर झंडा फहराया जाता हैं। उस समय एनसीसी कैडेट परेड में जरूर शामिल होते हैं और यह परेड लोगों के बीच एक आकर्षण का केंद्र रहता हैं।

एनसीसी का निदेशालय भारत के लगभग हर राज्य में हैं और एनसीसी का अपना एक अधिकारिक गीत हैं। हम सब भारत हैं। एनसीसी का लक्ष्‍य से यही हैं कि भारत के युवाओं को बहुत ही अनुशासित और अपने देश के प्रति जागरूक होकर उनका फ्यूचर संवर जाए।

एनसीसी कैसे जॉइन करें

एनसीसी का ट्रेनिंग कैंप कभी-कभी गांव में भी लगता हैं। जिसमें बच्चों को ट्रेनिंग दिया जाता हैं उसमें भी जाकर जो बच्चे इस में रुचि रखते हैं ट्रेनिंग ले सकते हैं। कई स्कूल कॉलेज और यूनिवर्सिटी में एनसीसी का ट्रेनिंग दिया जाता हैं।

अगर एनसीसी में ज्वाइन करना हैं तो अपने आसपास के किसी भी स्कूल कालेज में पता करके ज्वाइन कर सकते हैं। एनसीसी के जो सदस्य होते हैं वह किसी न किसी स्कूल के स्टूडेंट होते हैं।

उन्हीं के संपर्क से किसी भी स्कूल कालेज यूनिवर्सिटी के शिक्षक से संपर्क करके एनसीसी ज्वाइन किया जा सकता हैं। उसमें जो शिक्षक होते हैं

वह ज्वाइन करने में बहुत हेल्प करते हैं। इसमें ज्वाइन करने के लिए फिजिकल टेस्ट दिया जाता हैं और इसमें फॉर्म भरना पड़ता हैं। फॉर्म भरने के बाद एनसीसी ट्रेनिंग का क्लास शुरू हो जाएगा।

एनसीसी में ए सर्टिफिकेट पाने के लिए 2 वर्षों के लिए ट्रेनिंग लेना पड़ता हैं। इसमें 13 से 17 वर्ष का उम्र होना चाहिए। बी और सी सर्टिफिकेट लेने के लिए 3 वर्षों का ट्रेनिंग होता हैं और इसमें 19 से 24 साल तक का उम्र होना आवश्यक हैं।

एनसीसी से क्या फायदा होता हैं

एनसीसी राष्ट्रीय स्तर पर रक्षा मंत्रालय के अधीन काम करता हैं। और राज्य में शिक्षा मंत्रालय के अधीन काम करता हैं।एनसीसी जॉइन करने के बहुत सारे फायदे हैं। इसे फ्यूचर फोर्स भी कहा जाता हैं।

इसमें छात्रों को भविष्य में सेना में जाने के लिए ट्रेंड किया जाता हैं। इसका एक लक्ष्य ही बच्चों में एकता देशभक्ति और ट्रेंड फ्यूचर मैन पावर बनाना हैं। एनसीसी का सर्टिफिकेट जिनके पास रहता हैं। उन्हें इंडियन मिलिट्री एकेडमी में आराम से सीट मिल जाता हैं।

क्योंकि इसमें एनसीसी के लिए सीट रिजर्व होता हैं। नेवी में हर कोर्स में 6 वैकेंसी एनसीसी के लिए होता हैं। वायु सेना में एनसीसी कैडेट्स के लिए 10 परसेंट की छूट मिलती हैं।

सारांश

जिन बच्चों को आगे चलकर फोर्स में शामिल होना हैं। जिन्हें सेना में रुचि हैं। उनके लिए NCC बहुत ही बेहतर ट्रेनिंग सेंटर हैं। इसमें सेना में भर्ती होने के लिए पूरी तरह से ट्रेनिंग दिया जाता हैं।

इस लेख में एनसीसी का फुल फॉर्म क्या हैं एनसीसी क्या हैं और NCC में क्या सिखाया जाता हैं। इसका लक्ष्य क्या हैं यह सारी जानकारी दी गई हैं इस लेख से जुड़े अगर सवाल आपके मन में हैं तो कमेंट करके पूछें।

इस लेख में NCC का फुल फॉर्म क्या होता हैं से संबंधित कोई सवाल मन हैं तो कमेंट करके जरूर पुछें आप लोगों को यह जानकारी कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्त मित्रों को शेयर जरूर करें।

 

Leave a Comment