एनटीए  का फुल फॉर्म |NTA Full Form In Hindi

भारत में उच्च एजुकेशन प्राप्त करने के लिए छात्र कड़ी से कड़ी मेहनत करते हैं और एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करके एडमिशन प्राप्त करते हैं। जैसे कि नीट, आईआईटी, एनआईटी, इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट और फार्मेसी कोर्स में प्रवेश लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम अनिवार्य है। यह सारे डिग्री प्राप्त करने के लिए जो प्रवेश परीक्षा होता है उसका मैनेजमेंट संचालन और आयोजन एनटीए  जैसी संस्था के द्वारा किया जाता है। तो एनटीए का NTA Full Form In Hindi फुल फॉर्म क्या होता है इस लेख में जानेंगे। आज के समय में सभी माता पिता अपने बच्चे को उच्च शिक्षा दिलाना चाहते हैं।

सभी बच्चे 12वीं या ग्रेजुएशन करने के बाद अधिकतर उच्‍च डिग्री प्राप्त करना चाहते हैं ताकि आगे चलकर अपना फ्यूचर सेटल कर सके। जैसे कि इंजीनियरिंग, मेडिकल, मैनेजमेंट आदि। आज के समय में इंजीनियरिंग और मेडिकल दो ऐसे क्षेत्र हो गए हैं जहां पर डिग्री प्राप्त करने के बाद नौकरी के लिए कई प्लेटफार्म मिल जाएंगे। पहले इन सभी कोर्स को करने के लिए जो एंट्रेंस एग्जाम दिया जाता था उसमें कभी सेशन में देर हो जाता था, कभी परीक्षा लीक जाता था या कई तरह के घोटाले बाजी भी होते थे। जिससे की अभ्यार्थियों के शिक्षा पर उनके मनोबल पर प्रभाव पड़ता था।

इसीलिए केंद्र सरकार के द्वारा एनटीए का स्थापना करके हर एक एंट्रेंस एग्जाम को सुचारू रूप से आयोजित करने का कार्य किया जाने लगा। जिससे अभ्यार्थियों को सही समय पर सही एग्जाम देकर अपने कोर्स को कंप्लीट कर सकते हैं। अपने फ्यूचर को आगे बढ़ाने में आसानी से सोच सकते हैं। आइए नीचे एनटीए  का फुल फॉर्म NTA का गठन कब और किस मंत्रालय के द्वारा किया गया, इसका संचालन किस मंत्रालय के द्वारा होता है, और एनटीए का क्या क्या कार्य है के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं।

एनटीए  का फुल फॉर्म NTA Full Form In Hindi

भारत में इंजीनियरिंग मेडिकल मैनेजमेंट आदि का एग्जाम आयोजित करने के लिए एक ऐसी संस्था का गठन किया गया, जिसके द्वारा पूरे अनुशासन और सही तरीके से एंट्रेंस एग्जाम कराया जाए। NTA भारत में उच्च एजुकेशन संस्थान में प्रवेश प्राप्त करने से पहले एग्जाम कराने वाली एक स्वतंत्र संगठन है।एनटीए  का फुल फॉर्म National Testing Agency होता है।

NNationalराष्ट्रीय
TTestingपरीक्षण
AAgencyएजेंसी

भारत में टेंथ और 12वीं का एग्जाम सीबीएसई के द्वारा कराया जाता है। लेकिन साथ ही सीबीएसई के द्वारा पहले इंजीनियरिंग मेडिकल अदि का प्रवेश परीक्षा भी कराया जाता था।लेकिन अब भारत के मानव संसाधन मंत्रालय के द्वारा एनटीए का स्थापना करके इन सभी एंट्रेंस एग्जाम का कार्यभार सौंप दिया गया है।

जिससे सीबीएसई का भी कार्यभार हल्‍का हो गया हैं।परीक्षा का संचालन परीक्षा के लिए संस्थान का परीक्षण आदि की जिम्मेदारी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी पर ही है। जिससे सभी एग्जाम समय पर कदाचार मुक्त और पूरी तरह से अनुशासन के साथ किया जाने लगा है।

NTA का गठन

भारत में जब पहले उच्च एजुकेशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम कराया जाता था उसमें कभी एग्जाम में देरी हो जाता था या कभी एग्जाम से पहले ही पेपर लीक हो जाता था, जिससे परीक्षा की तैयारी करने वाले सभी अभ्यर्थियों के एजुकेशन पर हानिकारक प्रभाव पड़ता था।

लेकिन शिक्षा को सुचारू रूप से आगे बढ़ाने के लिए छात्रों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए भारत के मानव संसाधन मंत्रालय के द्वारा नेशनल टेस्टिंग एजेंसी का गठन किया गया। 2017 में केंद्रीय कैबिनेट के द्वारा स्वीकृति मिलने के बाद नवंबर महीने में एनटीए संस्था का स्थापना किया गया।

जिसके द्वारा शिक्षा व्यवस्था में बेहतर तरीके से सुधार और शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास किया जाने लगा है। NTA  के द्वारा आयोजित किया जाने वाला हर एग्जाम ऑनलाइन कराया जाता है।

इसके जो अध्यक्ष का नियुक्ति होता हैं वह शिक्षा मंत्रालय के द्वारा किया जाता है। वह अध्यक्ष भारत के प्रख्यात शिक्षाविद को ही बनाया जाता है। NTA के मुख्य कार्यकारी अधिकारी का नियुक्ति केंद्र सरकार के द्वारा किया जाता है।

एनटीए  के द्वारा आयोजित होने वाला एग्जाम

भारत में हायर एजुकेशन में एडमिशन लेने से पहले एनटीए के द्वारा एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया जाता है। उस एंट्रेंस एग्जाम को ऑनलाइन तरीके से कराया जाता है। NTA के द्वारा मोबाइल ऐप भी शुरू किया गया है।

जिससे अभ्यार्थी अपने परीक्षा के पहले की तैयारी का आकलन करने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। परीक्षा के लिए जो भी सिलेबस और पैटर्न होते हैं, उसका आकलन करने के लिए इस स्मार्टफोन ऐप पर मॉक टेस्ट देकर अपनी तैयारी का परीक्षण कर सकते हैं। एनटीए के द्वारा कई एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया जाता है।

  • NEET UG
  • JEE Main
  • JI PET
  • UGC NET
  • Common Management Come Admission Test(CMAT)
  • Graduate Pharmacy Aptitude Test(GPAT)
  • CUET
  • AIAPGET

इसके साथ ही एनटीए  के द्वारा इग्नू यूनिवर्सिटी में जो भी एमबीए के लिए एडमिशन होता है उसका भी एंट्रेंस एग्जाम कराया जाता है। दिल्ली यूनिवर्सिटी के कई कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा का आयोजन भी NTA द्वारा कराया जाता है। वैसे तो यह सभी परीक्षाएं एनटीए द्वारा साल में एक बार आयोजित किया जाता है, लेकिन जेईई मेन और यूजीसी नेट का परीक्षा साल में 2 बार आयोजित किया जाता है।

एनटीए का कार्य

  • भारत में हायर एजुकेशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करना।
  • एंट्रेंस एग्जाम के लिए सिलेबस पैटर्न, सैंपल, पेपर और एग्जाम के लिए संस्थान का आयोजन करना।
  • प्रवेश परीक्षा के साथ-साथ छात्रवृत्ति के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करना।
  • वैसे संस्थान का आयोजन करना जहां पर एग्जाम के लिए ऑनलाइन व्यवस्था सुचारू रूप से प्राप्त हो।
  • भारत के केंद्र सरकार के अन्य विभागों या मंत्रालयों के द्वारा जो भी एग्जाम का आयोजन करने का दायित्व एनटीए को दिया जाता है उसको बेहतर रूप से संचालित करना।
  • एग्जाम अनुशासन कदाचार मुक्त तरीके से करवाना।
  • जो भी प्रवेश परीक्षा होते हैं उसके बारे में पहले से ही परीक्षण करना समय-समय पर उसका जांच करवाना स्कूल और बोर्ड तथा अन्य प्रशिक्षण के जो भी निकाय है उसमें बेहतर तरीके से सुधार करवाना।
  • एग्जाम को ऑनलाइन मोड में कराने के लिए हर तरह के बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराना।
  • एग्‍जाम में जो प्रश्‍न आते हैं उस प्रश्‍न का चयन करने के लिए विशेषज्ञों का चयन NTA करती हैं।
  • परीक्षा के लिए आवेदन पत्र और अधिकारीक सूचना जारी करना।
  • हर परीक्षार्थी के योग्‍यता को जांचने के लिए अंतरराष्‍ट्रीय मानकों और क्लियर  एग्‍जाम आयोजित करना।
  • भारत के कई शिक्षण संस्‍थान में परीक्षण्‍ भी प्रदान करना।
  • भारत के बेस्‍ट शिक्षण संस्‍थान में सलाहकार सेवा प्रदान कराना।

एनटीए का उद्देश्य

पहले कई बार ऐसा सुना जाता था कि किसी भी एग्जाम में एग्जाम होने से पहले ही पेपर लीक हो जाता था। जो एग्जाम होता था उसमें छात्र कदाचार के साथ उस एग्जाम को देते थे। किसी भी तरह का अनुशासन नहीं रहता था, जिससे बच्चों के एजुकेशन पर प्रभाव पड़ता था।

उन्हें बेहतर एजुकेशन प्राप्त नहीं हो पाता था। इसीलिए NTA के द्वारा बेहतर तरीके से और ऑनलाइन माध्यम से एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन किया जाने लगा। एनटीए का यह खास उद्देश्य है कि प्रवेश परीक्षा के लिए जो भी उम्मीदवार आते हैं उनके योग्यता का सही तरीके से आकलन हो।

वह जो भी एग्जाम क्लियर करें वह अपनी योग्यता के बल पर अपने शिक्षा के बल पर क्लियर करें। ताकि वह आगे चलकर फ्यूचर में किसी भी क्षेत्र में कार्य करें तो अपने योग्यता अपने कुशल शिक्षण आदि के द्वारा बेहतर तरीके से कर पाए। NTA एक स्वायत्त संस्थान है जो कि भारत में प्रतियोगी परीक्षा को सही तरीके से संपन्न कराने का कार्य करती है।

NTA की टीम

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी में एग्जाम को सही तरीके से कराने के लिए कई जानकार और शिक्षा विशेषज्ञों को भी भर्ती किया जाता है। इसमें कई टीम है. उस टीम के द्वारा एग्जाम कराने से लेकर एग्जाम के हर तौर-तरीके को देखरेख करने के लिए संचालित किया जाता है।

  • टेस्ट आइटम राइटर्स
  • मनोचिकित्सक
  • शिक्षा विशेषज्ञ
  • शोधकर्ता
  • शिक्षा प्रशासक

FAQ

एनटीए  के डायरेक्टर जनरल कौन है?

एनटीए के वर्तमान में डायरेक्टर जनरल विनीत जोशी है।

एनटीए  का फुल फॉर्म क्या होता है?

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी NTA  का फुल फॉर्म होता है।

एनटीए का फुल फॉर्म हिंदी में क्या होता है?

राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी का अध्‍यक्ष कौन हैं?

एनटीए के अध्यक्ष एम एस अनंत है जोकि आईआईटी मद्रास के पूर्व चेयर पर्सन है।एनटीए के अध्‍यक्ष का नियुक्ति केन्‍द्र के शिक्षा मंत्रालय के द्वारा किया जाता हैं।

एनटीए  का मुख्यालय कहां है?

राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी का मुख्यालय नोएडा में स्थित है

NTA का स्थापना किसने किया?

नवंबर 2017 में भारत सरकार के मानव संसाधन मंत्रालय के द्वारा एनटीए का स्थापना किया गया।

सारांश

NTA Full Form In Hindi भारत में इंजीनियरिंग मेडिकल फार्मेसी कोर्स के लिए एंट्रेंस एग्जाम देने के लिए जिस संस्था के द्वारा आयोजन किया जाता है उसका नाम एनटीए है। जिसके बारे में इस लेख में ऊपर विस्तार से जानकारी दिया गया है। इस लेख में एनटीए से संबंधित दिए गए जानकारी से अगर किसी तरह का सवाल या सुझाव है तो कृपया कमेंट करके जरूर बताएं।

Leave a Comment