Satya ki Khoj – सत्य की खोज

सत्य की खोज Satya ki Khoj इस लेख में हम लोग सत्य क्या हैं असत्य क्या हैं इसके बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे हर एक इंसान के लिए जरूरी हैं कि इस ब्रह्मांड में मानव एवं मानवीय जीवों के लिए सत्यता का क्या महत्व हैं।

इस मानव जीवन को सत्य के साथ जीना चाहिए या नहीं यह जानना भी बहुत जरूरी हैं। इस पृथ्वी पर बहुत से लोग सत्य की खोज में लगे रखते हैं।

सत्य क्या हैं। यह जानने के लिए तरह-तरह के यज्ञ तप एवं साधना करते हैं सत्य का मतलब जानना किसी एक इंसान के लिए बहुत ही जरूरी हैं।

सत्य की खोज

Satya कोई वस्तु सामान या संसार में खोजने वाला कोई चीज आदि नहीं हैं Satya को महसूस किया जा सकता हैं और इसको महसूस करने के लिए ज्ञान के साथ-साथ संस्कार सभ्यता संस्कृति को जानना पड़ता हैं

अब सवाल यह आता हैं की ज्ञान को प्राप्त करना आसान नहीं हैं संस्कार संस्कृति सभ्यता को जानना भी आसान नहीं हैं तो सत्य की खोज हम अपने आप में कैसे कर सकते हैं

satya ki khoj

तो सत्य को खोजने के लिए किसी प्रकार की बहुत बड़ी शिक्षा या ज्ञान की भी आवश्यकता नहीं हैं एक कम पढ़े लिखे व्यक्ति को भी Satya का परिचय होता हैं लेकिन वह उस परिचय से भी विमुख रहता हैं जैसे घर में आईना हो लेकिन जब आप आईने के सामने नहीं होते हैं।

तब तक वह आपके चेहरे की सच्‍चाई को नहीं दिखाता हैं ठीक वैसे ही सत्य को समझने के लिए जो आईना रूपी वस्तु हैं उस आईने रूपी वस्तु को आप अपने मन रूपी तन को आईना के सामने लेकर जाएं तो आप सत्य की खोज कर सकते हैं।

सत्य क्या हैं  

Satya का मतलब हैं कि जो सही में हैं वही सत्य हैं अब सवाल आता हैं कि जो सही में हैं वह क्या हैं तो उदाहरण के तौर पर हम लोग दिन और रात और साक्षात सूर्य को हम लोग लेते हैं जो हम लोग Satya में देखते हैं वह सत्य हैं

साधारण भाषा में अभी Satya क्या मतलब हम लोग समझे तो सत्य जन्म लेना हैं सत्य मृत्यु का होना हैं। सत्य इस बात का संदेश हम लोगों को देता हैं कि जीवन में जो भी काम को करें हो जीवन मृत्यु के सत्यता रूपी पहचान को याद करते हुए अपने कार्यों को सत्यता के साथ करते हुए अपना जीवन को आगे बढ़ाएं।

असत्य क्या हैं

असत्य का मतलब हैं सत्य को ना जानना ना समझना ना उसके बारे में जानने की कोशिश करना यदि सत्य को जानते समझते हुए भी असत्य के मार्ग पर आगे बढ़ते हैं तो जीवन का जो मार्ग होगा अंधकार मय हो जाएगा।

Asatya का मतलब होता हैं जीवन में जो चीज के बारे में सही जानकारी होते हुए भी सही मार्ग का रास्ता जानते हुए भी गलत रास्ते पर चलना असत्य का सबसे बड़ा पहचान हैं।

इस संसार में असत्य के बारे में ज्यादा लोगों को बताया जाता हैं जागरूक किया जाता हैं भ्रम फैलाया जाता हैं लेकिन एक मानव के लिए यह जरूरी हैं की सत्य को पहचाने सत्य को जाने और असत्य को फैलाने वाले लोगों के बहकावे में ना आते हुए सत्य के पथ पर आगे बढ़े।

सत्य को कैसे प्राप्त करें

Satya को प्राप्त करने के लिए किसी मंदिर मस्जिद गुरुद्वारा तो जाना ही चाहिए लेकिन सत्य का पहचान आपके जन्म से हैं आपके मरण से हैं सत्य का पहचान रात से हैं सत्य का पहचान दिन से हैं सत्य का पहचान सूर्य से हैं सत्य का पहचान चंद्रमा से हैं

सत्य का पहचान सत्य से हैं। जैसे जीवन में किसी भी जीव का जन्म लेना सत्य हैं जैसे जीवन में किसी भी जीव का मरना सत्य हैं वैसे ही सत्य का सत्य होना भी सत्य हैं।

सारांश

 इस लेख में सत्य की खोज के बारे में जानकारी दी गई हैं जिसमें सत्य की खोज Satya ki Khoj कैसे करें सत्य क्या हैं सत्यता का प्रमाण आदि के बारे में जानकारी दी गई हैं।

यह जानकारी आप लोगों को कैसा लगा कृपया कमेंट करके अपना राय जरूर दें और इस जानकारी को और लोगों के साथ शेयर भी करें।

Leave a Comment