Teachers day kyu manaya jata hai शिक्षक दिवस क्यों मनाते हैं

Teachers Day क्यों मनाते हैं Teachers Day कब मनाया जाता हैं टीचर्स डे किसके जन्मदिन के उपलक्ष में मनाया जाता हैं और कैसे मनाया जाता हैं Teachers day kyu manaya jata hai के बारे में जानना चाहते हैं और टीचर्स Teachers day kyu मनाते हैं सर्च करते हुए इस पोस्ट पर आए हैं.

तो यहां पर आप लोगों को पूरी जानकारी मिलेगी ताकि किसी दूसरे वेबसाइट पर Teachers day kyu मनाते हैं के बारे में जानने के लिए आपको नहीं जाना पड़े इसलिए इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें.

एक Teacher ही होता हैं जो कि अपने छात्रों का भविष्य उज्जवल बनाता हैं Teacher को ही किसी भी बच्चे के जीवन का भविष्य मूल्यवान बनाने का श्रेय जाता हैं. जिस तरह किसी भी बच्चे के जीवन में सबसे पहली गुरु मां होती हैं जो कि बच्चों को संसार में किसके साथ किस तरह व्यवहार करना हैं किसके साथ कैसे रहना हैं यह सारी बातें बताती हैं उसी तरह एक Teacher हैं छात्र के जीवन का महत्व बताते हैं.

शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता हैं

टीचर्स डे हर साल भारत में 5 सितंबर को मनाया जाता हैं 5 सितंबर हमारे आजाद भारत देश के पहले उपराष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन के उपलक्ष में मनाया जाता हैं क्योंकि डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन एक बहुत ही अच्छे Teacher थे.

उन्होंने 40 साल तक Teacher के रूप में कई स्कूलों और कालेजों में कार्यरत रहे और उन्होंने कई किताबें भी लिखी हैं डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन एक अच्छे Teacher होने के साथ ही एक बहुत बड़े महान दार्शनिक भी थे उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में बहुत सारे कार्य की उन्हें शिक्षा से बहुत ही ज्यादा लगाव था इसलिए उनके छात्र उनका बहुत ही सम्मान करते थे.

Teachers day kyu manaya jata hai

Teachers Day मनाने के संबंध में कहा जाता हैं कि जब डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी राष्ट्रपति बने उसके बाद उनके कुछ जो छात्र थे जो उनका बहुत ज्यादा सम्मान करते थे उन्होंने डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन से उनके जन्मदिन मनाने के बारे में पूछा कि उनका जन्मदिन कब हैं.

तब डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने अपने छात्रों से कहा कि मेरे जन्मदिन को आप लोग Teachers Day के रूप में मनाएंगे तो हमें बहुत खुशी होगी और हमें गर्व भी होगा उसके बाद उनके छात्रों ने 5 सितंबर को Teachers Day के रूप में मनाना शुरू किया और आज भी यह परंपरा चली आ रही हैं.

टीचर्स डे कब मनाया जाता हैं

Teachers Day 5 सितंबर को मनाया जाता हैं जोकि सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के जन्मदिन के खुशी में इसे मनाया जाता हैं. टीचर्स डे जितने भी Teacher हैं जो कि बच्चों के भविष्य उज्जवल बनाते हैं उनको सम्मानित करने के लिए और उनके कार्य को उनके उत्साह को बढ़ाने के लिए मनाते हैं हर किसी के जीवन में एक Teacher का बहुत ही महत्व होता हैं.

क्योंकि एक Teacher ही होता हैं जो कि अपने छात्र को आगे चलकर सही रास्ता पर चलने का ज्ञान देता हैं जो कि उस छात्र के जीवन को मूल्यवान और अनमोल बना देता हैं. एक Teacher को ही अपने छात्रों के भविष्य को उज्जवल बनाने का श्रेय जाता हैं.

टीचर्स डे कैसे मनाया जाता हैं

शिक्षक दिवस हर स्कूल कॉलेज में या कोई कोचिंग सेंटर हो जहां भी बच्चों को शिक्षा दिया जाता हैं वहां पर हर साल 5 सितंबर को जरूर मनाया जाता हैं. इस दिन सभी Student अपने टीचर के सम्मान के लिए उन्हें धन्यवाद देते हैं अपने Teacher को तरह तरह के गिफ्ट देते हैं.

टीचर के जो भी अच्छे गुण होते हैं गुड क्वालिटी होते हैं उनके बारे में छात्र बताते हैं.हर School और College में कई तरह के कार्यक्रम होते हैं जिसमें की Student अपने Teacher को फूल देकर सम्मानित करते हैं.

आजकल तो डिजिटल जमाना हो गया हैं तो हर कोई सोशल मीडिया पर हमेशा एक्टिव रहता हैं तो कई लोग अपने टीचर्स के लिए कई तरह के अच्छे-अच्छे पोस्ट लिखकर शेयर करते  हैं Facebook पर Whatsapp पर Status लगाते हैं.

शिक्षक दिवस का महत्व 

शिक्षक दिवस का महत्व छात्र के जीवन में बहुत ही अनमोल होता हैं महत्वपूर्ण होता हैं क्योंकि किसी भी छात्र के भविष्य को संवारने में सबसे बड़ा हाथ एक Teachers का ही होता हैं क्योंकि किसी भी बच्चे के भविष्य को सही बनाना भविष्य में आगे चलकर क्या करना हैं.

कैसे करना हैं एक Teacher ही बताता हैं इसीलिए Teachers को गुरु कहा जाता हैं और भगवान का दर्जा दिया जाता हैं इस पर महान कवि कबीर दास ने एक दोहा लिखा हैं कि

  • गुरु गोविंद दोऊ खड़े काको लागूं पाय
  • बलिहारी गुरु आपने गोविंद दियो बताए

तो कबीर दास जी ने इसमें एक गुरु का महत्व बताया हैं उन्होंने बताया हैं कि जब गुरु और गोविंद यानी भगवान एक साथ खड़े हो जाएंगे तो पहले किसका पैर छूना चाहिए तो कबीर दास जी ने यहां पर गुरु का दर्जा भगवान से भी ऊपर रखा हैं.

क्योंकि उन्होंने कहा हैं कि गुरु ने ही गोविंद से हमारा परिचय कराया हैं गुरु ने ही यह बताया हैं कि भगवान को कैसे पूजते हैं भगवान कौन हैं इसलिए गुरु का स्थान सबसे ऊंचा हैं.

सर्वपल्ली राधाकृष्णन के बारे में 

सर्वपल्ली राधाकृष्णन स्वतंत्र भारत के पहले उपराष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति थे उन्होंने हिंदू धर्म को चारों तरफ फैलाने का कार्य किया था उनका व्यक्तित्व बहुत ही उत्तम और श्रेष्ठ गुणों का था सर्वपल्ली राधा कृष्ण जी का जन्म 5 सितंबर उन्हें 1888 को तमिलनाडु के तिरुत्तनी गांव में हुआ था.

वह एक ब्राम्हण परिवार से थे सर्वपल्ली राधाकृष्णन मैसूर यूनिवर्सिटी में दर्शनशास्त्र के प्रोफेसर के पद पर कई वर्षों तक कार्य किया कई यूनिवर्सिटी में और कॉलेज में उन्होंने Teacher के पद पर कार्य किया कई उन्होंने पुस्तक भी लिखे हैं.

उसके बाद उन्होंने राजनीतिक जीवन में भी अपना एक अलग ही छाप लोगों पर छोड़ दिया. 1954 में सर्वपल्ली राधाकृष्णन को भारत का जो सर्वश्रेष्ठ सम्मान हैं उनके अच्छे व्यक्तित्व को देखते हुए भारत रत्न से सम्मानित किया गया था.डॉक्‍टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के बारे में पूरी जानकारी पाने के लिए यहां क्लिक करें.

World Teachers Day कब मनाया जाता है

वर्ल्ड टीचर्स डे 5 अक्टूबर को मनाया जाता हैं. 1966 में वर्ल्ड टीचर्स डे मनाने के लिए पेरिस में एक सम्मेलन का आयोजन किया गया था और इसमें एक संधि जिसका नाम टीचिंग इन फ्रीडम था उस पर हस्ताक्षर करके वर्ल्ड टीचर्स डे मनाने के लिए शुरू किया गया.

1994 में यूनेस्को की सिफारिश पर 100 देशों के समर्थन पर विश्व Teachers Day अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मनाना शुरू किया गया और उसी समय से 5 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय Teachers Day हर साल मनाया जाता है. वर्ल्ड टीचर्स डे विश्व में जितने भी टीचर हैं उनके छात्रों के प्रति जिम्मेदारियां और भूमिका को समझाने के लिए मनाते हैं.

विश्व शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है

अंतर्राष्ट्रीय Teachers Day और उन शिक्षकों की जिम्मेदारी उनके अधिकार छात्रों के प्रति उनका योगदान अपने हर एक Student के प्रति और टीचर का समर्पण भाव कर्तव्यनिष्ठा को प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता हैं.

अंतर्राष्ट्रीय Teachers Day के दिन हर एक Teacher को जो कि विश्व में शिक्षा क्षेत्र से जुड़े हुए हैं उनको अपने Student के प्रति अधिकारों के प्रति जागरूक होने के लिए उनके श्रम संगठन आदि को प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता हैं.

वैसे तो भारत में 5 सितंबर को Teachers Day नाया जाता है लेकिन 5 अक्टूबर को पूरे विश्व में अंतर्राष्ट्रीय Teachers Day यानी कि वर्ल्ड टीचर्स डे हर कोई मनाता हैं.

ये भी पढ़े

सारांश

Teachers Day हर साल छात्रों के लिए एक त्यौहार की तरह होता हैं अपने Teacher को खुश करने के लिए उन्हें सम्मानित करने के लिए या Teacher ने जो भी कार्य किया उसको  बताकर उनको उत्साहित करने के लिए बहुत ही छात्रों के लिए बेहतर और एक अच्छा त्यौहार हैं.

इस लेख में टीचर्स डे कब मनाया जाता हैं शिक्षक डिवस का क्या महत्व हैं सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवन के बारे में पूरी जानकारी दी गई हैं यह लेख आप लोगों को कैसा लगा कृपया हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्त मित्रों को शेयर जरूर करें.

Leave a Comment