स्वामी विवेकानंद एक बहुत बड़े सन्यासी धर्मात्मा और समाज सुधारक थे

रामकृष्ण मिशन का स्थापना 1885 करके उन्होंने देश में गरीबों पीड़ितों का सहायता किया।

स्वामी विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी 1863 में कोलकाता में हुआ था

स्वामी विवेकानंद बचपन से ही श्रीमद्भागवत गीता रामायण महाभारत वेद पुराण आदि धार्मिक किताबें पढ़ते थे।

स्वामी विवेकानंद ने अपने देश के धर्म और संस्कृति का प्रचार प्रसार करने के लिए भारत में पैदल भ्रमण किया था।

11 सितंबर 1893 में शिकागो के विश्व धर्म सम्मेलन में विवेकानंद ने अपनी संस्कृति और धर्म का व्याख्या किया।

विवेकानंद ने भारत के युवाओं को नई राह दिखाने के लिए कई ग्रंथ का भी रचना किया था।

20 जून 1899 में विवेकानंद ने न्‍यूयार्क में वेदांत सोसाइटी का स्थापना किया।

स्वामी विवेकानंद हिंदी भाषा को अपनी मां की तरह सम्मान करते थे।

 4 जुलाई 1902 में स्वामी विवेकानंद का मृत्यु हुआ था।

स्वामी विवेकानंद को कई भाषाओं का ज्ञान था जैसे कि अंग्रेजी बांग्ला हिंदी आदि। www.gyanitechnews.com