अकाउंटेंट कैसे बनें 12+तरीके,योग्‍यता, कार्य एवं फायदे

किसी भी कंपनी में या किसी बड़े व्यवसाय के हर एक लाभ हानि को मैनेज करने के लिए एक Accountant की जरूरत होती है. एक अनुभवी Accountant के द्वारा किसी भी कंपनी के लेखा-जोखा को सही तरीके से लिखा जा सकता है.

जिससे उस कंपनी या व्यवसाय में हानि होने की चांस नहीं रहती है तो Accountant कैसे बने Accountant kaise bane इसके बारे में पहले जानकारी रखनी जरूरी है. तभी Accountant बनने के लिए जो भी स्किल है तरीके हैं कोर्स है कर सकते हैं.

एक Accountant के रूप में कैरियर बनाने के लिए बहुत ही ज्यादा मेहनत करना पड़ता है अपने कार्य के प्रति जिम्मेदार होना जरूरी होता है. अपना हर काम समय से करना जरूरी है और जिम्मेदारी पूर्वक करना आवश्यक होता है तो एक Accountant बनने के लिए कौन-कौन से कोर्स है एकाउंटिंग सीखने के क्या फायदे होते हैं से संबंधित पूरी जानकारी नीचे विस्तार से जानते हैं.बीकॉम के बाद क्या करें 

अकाउंटेंट कैसे बनें

आज के समय में हर कोई अपना व्यवसाय करके ज्यादा से ज्यादा फायदा कमाना चाहता है. हर कंपनी कुछ बेहतर करके दूसरी कंपनियों से आगे बढ़ना चाहती है. जिसके लिए एक Accountant की जरूरत होती है.

वर्तमान समय में हर क्षेत्र में Accountant की मांग बढ़ने लगी है. इस क्षेत्र में ज्यादातर लोग कार्य करके ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाना चाहते हैं और हर कोई अपने व्यवसाय अपने कंपनी को टॉप लेवल पर लेकर जाना चाहते हैं.

Accountant kaise bane

एक Accountant के द्वारा कंपनी के सभी लेखा-जोखा विधि संबंधी कार्य को व्यवस्थित तरीके से एक जगह रखना होता है. उस कंपनी में कितना लाभ और कितना हानि हो रहा है व्यवसाय के हर लेखा-जोखा को एक डाटा के रूप में मेंटेन करना एक Accountant का ही कार्य होता है. लेकिन Accountant बनने के लिए उस व्यक्ति में जरूरी स्किल होना चाहिए उसे टैली का ज्ञान होना चाहिए.

गणित का जानकारी होना चाहिए तभी वह व्यक्ति एक सफल Accountant बन कर ज्यादा से ज्यादा पैसा कमा सकते है साथ ही जिस कंपनी में या व्यवसाय में वह कार्य करेगा उसका भी ज्यादा से ज्यादा मुनाफा करा सकता है. Accountant बनने के लिए जरूरी गुण या जानकारी क्या होना चाहिए जानने से पहले आइए जानते हैं कि एकाउंटिंग मतलब क्या होता है.

एकाउंटिंग क्या होता है

किसी भी कंपनी में या बड़े-बड़े व्यवसाय में हर रोज होने वाले लाभ हानि आयात निर्यात से होने वाले लेखा-जोखा को सही तरीके से व्यवस्थित ढंग से मेंटेन करना ही एकाउंटिंग होता है. एकाउंटिंग को हिंदी में लेखांकन कहा जाता है. 

किसी भी कंपनी में कितना प्रॉफिट हो रहा है उस कंपनी का कैश फ्लो स्टेटमेंट क्या है वह कंपनी या व्यवसाय का अन्य कंपनी या व्यवसाय के मुकाबले फिनेंशियल पोजीशन क्या है आदि को एक व्यवस्थित तरीके से तैयार करके डाटा के रूप में जो व्यक्ति रखते हैं

यह कार्य करने वाले व्‍यक्ति को एकाउंटेंट कहा जाता हैं.Accountant को हिंदी में मुनिम या लेखपाल कहते हैं. तो आइए नीचे विस्तार से जानते हैं कि एक Accountant बनने के लिए कौन-कौन से तरीके हैं.

ट्वेल्थ पास करें

अगर किसी छात्र को Accountant बनने में रुचि है किसी भी कंपनी या व्यवसाय में एकाउंटिंग का कार्य करके बहुत ज्यादा पैसा कमाना चाहते हैं तो उन्हें सबसे पहले ट्वेल्थ पास करना जरूरी है उसके बाद ही आगे कोई भी कोर्स कर सकते हैं.

ग्रेजुएशन कंप्लीट करें

ट्वेल्थ पास करने के बाद ग्रेजुएशन पास करना जरूरी है. ग्रेजुएशन में अगर कॉमर्स सब्जेक्ट से बीकॉम करते हैं तो एक सफल Accountant बनने के लिए यह पहला सीढ़ी होता है. बीकॉम में कई ऐसे कोर्स होते हैं जिनमें एकाउंटिंग के गुण सिखाए जाते हैं. इसके हर एक तौर तरीके हर एक जानकारी को बताया जाता है.

टैली की जानकारी

आज के समय में किसी भी कंपनी बड़े-बड़े व्यवसाय या बड़े-बड़े दुकान हो कोई भी बड़े मेडिकल स्टोर हो हर जगह पर टैली के द्वारा ही उस व्यवसाय का लेखा-जोखा तैयार किया जाता है.

एक सफल Accountant बनने के लिए टैली की जानकारी सबसे जरूरी है. टैली के कई कोर्स आते हैं जिसको करके पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और एकाउंटिंग के तौर तरीके सीख सकते हैं.बैचलर डिग्री क्या होती हैं, प्रकार और फायदे

कंप्यूटर की जानकारी

वर्तमान समय में किसी भी कार्य को करने के लिए सबसे जरूरी है कि कंप्यूटर का जानकारी होना आवश्यक है. कंप्यूटर में एमएस एक्सेल, एमएस वर्ड, इंटरनेट, पावरप्वाइंट, आउटलुक आदि सॉफ्टवेयर के बारे में अगर जानकारी रखेंगे तो किसी भी कंपनी या बड़े-बड़े व्यवसाय दुकान कहीं भी एक Accountant के रूप में कार्य कर सकते हैं.

अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर की जानकारी

टैली के साथ-साथ किसी अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर का बेसिक नॉलेज रखना भी आवश्यक है.

इंस्टिट्यूट्स ज्वाइन करें

आज के समय में हर क्षेत्र में एक प्रोफेशनल Accountant का मांग बढ़ गया है तो व्यवसाय के मैनेज करने के बारे में लेखा जोखा के बारे में जानकारी रखने के लिए किसी भी इंस्टीट्यूट कोचिंग आदि ज्वाइन करके एकाउंटिंग के हर एक गुण को और हर एक कौसल को आसानी से सीख सकते हैं.

प्रैक्टिकल ज्ञान

किसी भी क्षेत्र के बारे में बेसिक नॉलेज के साथ-साथ प्रैक्टिकल नॉलेज भी होना जरूरी है. जब तक प्रैक्टिकली कोई कार्य नहीं करेंगे तो उसके बारे में विस्तृत रूप से जानकारी प्राप्त नहीं हो सकती है.

इसीलिए अकाउंट से संबंधित हर एक जानकारी को जानने के लिए किसी अनुभवी Accountant के साथ रहकर प्रैक्टिकल ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं.

गणित की जानकारी

किसी भी बिजनेस के लेखा-जोखा टीडीएस, टैक्स रिटर्न फाइल या उस कंपनी के वित्तीय संबंधित कार्यों को करने के लिए मैथ सब्जेक्ट की जानकारी होना आवश्यक है. अगर गणित की जानकारी नहीं रहेगी तो किसी भी बिजनेस के लाभ हानि के बारे में हर रोज के होने वाले कार्यों के लेखा-जोखा को सही तरीके से हिसाब किताब नहीं कर सकते हैं.

सीनियर अकाउंटेंट से ट्रेनिंग

अगर किसी इंस्टीट्यूट कोचिंग में एडमिशन लेकर जानकारी हासिल करने का स्थिति या बजट नहीं है या किसी एकाउंटिंग से संबंधित कोर्स नहीं कर सकते हैं तो एक सीनियर Accountant के साथ रहकर हर नई-नई जानकारी को हासिल कर सकते हैं. कई बार किसी कार्य को अनुभव के द्वारा भी सीखा जा सकता है.

ऑनलाइन जानकारी

किसी भी तरह के कार्य को जानने के लिए आज के समय में ऑनलाइन कई ऐसी सुविधाएं हैं जिसको घर बैठे फ्री में सीख सकते हैं. मोबाइल लैपटॉप पर इंटरनेट के माध्यम से किसी भी तरह के ज्ञान को हासिल कर सकते हैं इसके कई तरीके हैं गूगल यूट्यूब ब्लॉग वेबसाइट आदि

गूगल:- Accountant कैसे बने के बारे में जानकारी रखना चाहते हैं तो गूगल एक ऐसा प्लेटफार्म है जिस पर दुनिया के किसी भी जानकारी को हासिल करने के लिए बेहतरीन माना जाता है. दुनिया का नंबर वन सर्च इंजन वेबसाइट गूगल है.

यूट्यूब:- गूगल के बाद सबसे ज्यादा सर्च किया जाने वाला सर्च इंजन वेबसाइट यूट्यूब है. यूट्यूब पर वीडियो के माध्यम से किसी भी तरह के जानकारी को हासिल किया जा सकता है. कई लोग Accountant से संबंधित जानकारी को यूट्यूब पर वीडियो के माध्यम से देते हैं.

सबसे फायदा यह है कि यूट्यूब पर किसी भी जानकारी को हासिल करने के लिए एक पैसा भी खर्च नहीं करना पड़ता है. बस आपके मोबाइल या लैपटॉप में इंटरनेट की सुविधा होनी चाहिए.

जीएसटी रिटर्न फाइल की जानकारी

एक प्रोफेशनल Accountant बनने के लिए जीएसटी रिटर्न के बारे में जानकारी रखना जरूरी होता है. जीएसटी, टीडीएस, टीसीएस और इनकम टैक्स रिटर्न जैसे कार्य ज्यादातर लोग एक Accountant से ही करवाते हैं. अगर इसके बारे में जानकारी होगी तो किसी कंपनी के साथ-साथ अन्य लोगों के जीएसटी रिटर्न फाइल कर के भी पैसे कमा सकते हैं.

फिनेंशियल स्टेटमेंट रिपोर्ट तैयार करना

एक Accountant का सबसे जरूरी कार्य किसी भी कंपनी व्यवसाय का फिनेंशियल स्टेटमेंट रिपोर्ट तैयार करना होता है. ताकि उस कंपनी में लाभ हानि के बारे में जान सके उस कंपनी में रोज कितना प्रॉफिट होता है कितना हानि होता है उस कंपनी का फिनेंशियल स्टेटमेंट क्या है.

अन्य कंपनी के तुलना में उस कंपनी को कैसे आगे बढ़ाया जा सकता है के बारे में अगर जानकारी रखेंगे तभी एक प्रोफेशनल Accountant के रूप में कहीं किसी भी क्षेत्र में कार्य कर सकते हैं.

अकाउंटेंट के लिए योग्यता

किसी भी क्षेत्र में कार्य करने के लिए सबसे जरूरी है कि उस व्यक्ति का एलिजिबिलिटी क्या है. बिना योग्यता के वह उस क्षेत्र में कार्य नहीं कर सकते है. एक सफल Accountant बनने के लिए कुछ जरूरी योग्यता होनी चाहिए.

  • ट्वेल्थ पास होना जरूरी है
  • ट्वेल्थ के बाद ग्रेजुएशन कंप्लीट करें ग्रेजुएशन में कॉमर्स सब्जेक्ट से अगर पास करते हैं तो एक सफल Accountant जरूर बन सकते हैं.
  • टैली सॉफ्टवेयर, कंप्यूटर, मैथ आदि की जानकारी के साथ-साथ कोई अन्‍य अकाउंट सॉफ्टवेयर के बारे में नॉलेज होना जरूरी है.
  • किसी भी सीनियर Accountant के साथ कार्य करके अनुभव प्राप्त कर सकते हैं.
  • जीएसटी रिटर्न, टैक्स रिटर्न फाइल, टीडीएस फाइलिंग, बैलेंस शीट को मैनेज करने की जानकारी होनी चाहिए.बैंक में जॉब कैसे पाए 10+ तरीके कोर्स शिक्षा कार्य एवं पद

Accountant kaise bane 2

अकाउंटिंग कोर्स

अकाउंटिंग के बारे में जानकारी रखने के लिए ऊपर कई तरीके बताए गए हैं लेकिन उसके साथ ही कई ऐसे कोर्स हैं जिसको करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. किसी भी व्यवसाय में ग्रॉस प्रॉफिट, नेट प्रॉफिट उसका फिनेंशियल पोजीशन के बारे में बेहतर तरीके से ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं. अगर चाहते हैं कि ट्वेल्थ पास करने के बाद ही एक प्रोफेशनल Accountant बनकर किसी भी कंपनी में कार्य करके अच्छी कमाई किया जा सके तो उसके लिए कई कोर्स है.

  • बीबीए अकाउंटिंग एंड फाइनेंशियल
  • बीकॉम एडवांस अकाउंटेंसी
  • बीकॉम कारपोरेट अकाउंटेंसी
  • बीकॉम अकाउंटिंग एंड फाइनेंस 
  • बीकॉम अकाउंटिंग एंड टैक्सेशन
  • B com Tax procedure and practice

ग्रेजुएशन के बाद मास्टर कोर्स

  • एमकॉम कारपोरेट अकाउंटेंसी
  • एमकॉम अकाउंटिंग एंड ऑडिटिंग
  • एमकॉम अकाउंटिंग एंड फाइनेंस
  • एमकॉम अकाउंटिंग एंड टैक्सेशन 
  • एमकॉम अकाउंटेंसी
  • एमकॉम अकाउंटेंसी एंड बिजनेस स्टैटिक्स

अकाउंटस के डिप्लोमा कोर्स

  • डिप्लोमा इन टैली सॉफ्टवेयर एडवांस 
  • डिप्लोमा इन टैक्सेशन एडवांस 
  • डिप्लोमा इन फाइनेंशियल अकाउंटिंग एंड टैक्सेशन 
  • डिप्लोमा इन एडवांस अकाउंटिंग 
  • डिप्लोमा इन फाइनेंशियल अकाउंटिंग एंड टैक्सेशन 
  • डिप्लोमा इन अकाउंटिंग एंड ऑडिटिंग 
  • पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन टैक्सेशन 
  • पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर 
  • डिप्लोमा इन कॉस्ट अकाउंटिंग प्रोफेशनल 
  • डिप्लोमा इन अकाउंटिंग

अकाउंटेंट का कार्य

कोई भी कंपनी हो या किसी का पर्सनल बिजनेस हो उसका लेखा-जोखा या वित्तीय संबंधी कार्यों को करने के लिए एक Accountant की जरूरत होती है. इसके साथ ही और भी कई कार्य होते हैं

  • जीएसटी रिटर्न फाइल करना टैक्स रिटर्न फाइल करना टीडीएस फाइलिंग आदि.
  • किसी भी कंपनी या व्यवसाय के जोखिमों का अच्छे से जानकारी रखना.
  • वित्तीय संबंधित कार्यों को सही तरीके से डाटा के रूप में तैयार करके रखना.
  • फिनेंशियल स्टेटमेंट रिपोर्ट तैयार करना
  • जिस कंपनी में Accountant के रूप में कार्य कर रहे हैं वहां पर उस विभाग के बैलेंस शीट को सही तरीके से मैनेज करना.
  • अगर किसी बड़े बड़े दुकान पर मेडिकल स्टोर आदि जगहों पर अकाउंट के रूप में कार्य कर रहे है या किसी कंपनी में कार्य करते हैं तो वहां हर रोज कितना सेल हो रहा है कितना पर्चेज हो रहा है उसका रिकॉर्ड बना कर रखना.
  • कंपनी में कितने कर्मचारी है उन सभी का पैरोल पर सैलरी प्रोसेस करना.
  • हानि और लाभ का जानकारी रखना

अकाउंटेंट के लिए जॉब

कई क्षेत्रों में Accountant के नौकरी के लिए अवसर मिल रहे हैं. एक सफल एक प्रोफेशनल Accountant की मांग ज्यादा बढ़ रही है तो इस जॉब को करने के लिए जरूरी नहीं है कि किसी एक ही जगह पर कार्य करें. इसके लिए और भी कई क्षेत्र हैं जहां पर कार्य करके ज्यादा से ज्यादा पैसा कमा सकते हैं.

  • मैनेजमेंट अकाउंटिंग
  • सर्टिफिकेट पब्लिक Accountant 
  • जूनियर Accountant 
  • फिनेंशियल डायरेक्टर 
  • सीनियर Accountant एडवाइजर 
  • फाइनेंस मैनेजर 
  • रियल स्टेट फाइनेंस 
  • टैक्स बजट एनालिसिस 
  • पब्लिक Accountant
  • कंपनी सेक्रेटरी
  • फाइनेंस कंट्रोलर
  • चार्टेड मैनेजमेंट अकांटेंट बीकॉम का फुल फॉर्म क्‍या होता हैं

एकाउंटिंग करने के फायदे

अगर एकाउंटिंग का कोर्स किए हैं या किसी इंस्टीट्यूट कोचिंग में ज्वाइन करके अकाउंटिंग के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त किए हैं Accountant के रूप में कहीं कार्य कर रहे हैं तो इससे बहुत ही ज्यादा पैसा कमा सकते हैं साथ ही अकाउंटिंग के बारे में जानकारी रखने के और भी कई फायदे हो सकते हैं 

  • अगर अपना खुद का बिजनेस कर रहे हैं तो उस व्यवसाय में फाइनेंशियल पोजिशन के बारे में खुद ही विस्तार से जानकारी रख सकते हैं.
  • यह एक बहुत ही सम्‍मानित जॉब होता हैं.
  • किसी का जीएसटी रिटर्न फाइल करना है तो करके ज्यादा से ज्यादा पैसा कमा सकते हैं.
  • किसी बड़े-बड़े कंपनी में Accountant के रूप में कार्य करके अपने भविष्य को सुनहरा बना सकते.
  • अगर किसी जगह पर कार्य कर रहे हैं और वहां पर व्यवसाय में कई तरह की गलतियां हो रही है. ज्यादा से ज्यादा हानि हो रही है तो अकाउंटिंग की जानकारी अगर रहेगी तो हर एक गलतियों को सुधार सकते हैं. प्रतिदिन डेट वाइज हो रहे हैं हर एक लाभ और हानि को लिखकर उस कंपनी का फिनेंशियल पोजीशन को सही बना सकते हैं.
  • अगर किसी बैंक से लोन लेना है तो किसी दूसरे व्यक्ति के द्वारा लोन के बारे में जानकारी प्राप्त करना जरूरी नहीं है. अगर आप अकाउंटिंग जानते हैं तो खुद ही सभी कार्य सही तरीके से कर सकते हैं.
  • किसी व्यवसाय में आगे चलकर किसी तरह का प्रॉब्लम होता है कानूनी प्रक्रिया होता है तो एक Accountant के द्वारा उस व्यवसाय के हर एक दस्तावेजों को दिखाकर कंपनी को विवादों से बचाया जा सकता है.
  • किसी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में बेहतर से बेहतर नौकरी प्राप्त कर सकते हैं.

सारांश

ऊपर बताए गए एक सफल Accountant बनने के लिए कई बेहतर तरीके हैं उसको सीख कर अकाउंटिंग का कोर्स करके एक प्रोफेशनल Accountant के रूप में किसी भी क्षेत्र में कार्य कर सकते हैं. इस लेख में दिए गए जानकारी से अगर किसी तरह का सवाल है या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में कमेंट के द्वारा पूछ सकते हैं और अन्य लोगों को भी इस जानकारी को शेयर करें.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment