जॉर्नलिस्‍ट कैसे बनें/ न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बनें

देश-दुनिया की खबरों को जानने के लिए हर रोज टीवी पर न्यूज़ देखते हैं उस पर कई तरह के न्यूज़ रिपोर्टर को देखते हैं हर न्यूज़ रिपोर्टर का बोलने का अंदाज अलग अलग होता है. कई लोगों का सपना होता है कि वह एक बेहतरीन न्यूज़ रिपोर्टर बने टीवी पर आए लोगों के सामने देश दुनिया की खबरें न्यूज़ चैनल के माध्यम से बताएं लेकिन यह मालूम नहीं होता है कि जॉर्नलिस्‍ट कैसे बनें Journalist kaise bane न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बने.

न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए कौन-कौन से कोर्स है उनमें क्या-क्या काबिलियत होना चाहिए तो अगर न्यूज़ रिपोर्टर बनकर देश दुनिया में हर किसी के पास अपनी आवाज पहुंचाना चाहते हैं न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए हर एक महत्वपूर्ण बातों को जानना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें. टीवी न्यूज़ चैनल पर जो भी न्यूज़ देता है जो भी बिजनेस से जुड़े पॉलिटिक्स से जुड़े फिल्मी जगत से जुड़े हर एक खबरें हम लोग जान पाते हैं उसमें सबसे मुख्य रोल सबसे अहम रोल एक न्यूज़ रिपोर्टर का होता है.

अगर एक न्यूज़ रिपोर्टर सही तरीके से बोल कर लोगों को समझाएं उनके बोलने का अंदाज अलग हो देश दुनिया का हर एक खबरें लोगों को सुनाएं उसके आवाज में आकर्षण हो तो लोग ज्यादा वहीं न्यूज़ देखना चाहते हैं. वैसे आज के समय में कई न्यूज़ चैनल आ गए हैं और उस पर कई न्यूज़ रिपोर्टर भी आते हैं तो न्यूज़ रिपोर्टर के पद के लिए भी चुनौती बहुत ही बड़ा हो गया है इसमें भी कंपटीशन हो गया है तो आइए नीचे विस्तार से जानकारी प्राप्त करते हैं. न्यूज का फुल फॉर्म क्या हैं

Contents

जॉर्नलिस्‍ट कैसे बनें

हर किसी का यह सपना होता है कि वह टीवी पर दिखाई दे लोग उन्हें पहचाने उनका एक अलग पहचान बने तो उनके लिए जॉर्नलिस्‍ट के रूप में अपना कैरियर का चुनाव करना बहुत ही फायदेमंद होगा लेकिन जॉर्नलिस्‍ट कैसे बने इसके बारे में भी जानकारी रखना जरूरी है तभी वह आगे चलकर एक सफल जॉर्नलिस्‍ट बन सकते हैं.

न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए सबसे जरूरी है कि मीडिया कोर्स करें. आज के समय में कई ऐसे भारत में या विदेशों में भी कॉलेज हैं यूनिवर्सिटी है जहां की मीडिया कोर्स कराए जाते हैं. जिनमें कई ग्रेजुएशन कोर्स है मास्टर्स कोर्स है. कोर्स को करने के बाद हर एक पत्रकार को न्यूज़ चैनल पर इंटर्नशिप करना पड़ता है ताकि उन्हें उस फील्ड के बारे में हर जानकारी पता चले.

जॉर्नलिस्‍ट को हिंदी में पत्रकार कहा जाता है. जॉर्नलिस्‍ट बनने के लिए उस व्यक्ति में एक अलग स्किल होना चाहिए लोगों तक अपनी आवाज को पहुंचा सके जो भी न्यूज़ चैनल पर बताएं वह लोगों को समझ में आए और जो भी न्यूज़ वह बोले उसका एक-एक करके डिटेल से जानकारी लोगों तक पहुंचा सके. यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण फील्ड होता है इसलिए ज्यादातर लोग जॉर्नलिस्‍ट के फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं.

Journalist kaise bane

जॉर्नलिस्‍ट किसे कहते हैं

जॉर्नलिस्‍ट को हिंदी में पत्रकार कहा जाता हैं. टीवी पर जो पत्रकार हमें देश दुनिया की होने वाली हर एक घटनाओं से अवगत कराते हैं जनता के पास हर एक न्यूज़ को समाचार को पहुंचाते हैं उन्हें न्यूज़ रिपोर्टर कहते हैं जॉर्नलिस्‍ट कहते हैं. एक सफल जॉर्नलिस्‍ट के अंदर ईमानदारी साहस निडर निर्भयता आदि होना जरूरी है.

ताकि वह किसी के सामने बोलने में हिचके या डरे नहीं क्योंकि एक न्यूज़ रिपोर्टर को कई तरह के मुश्किलें उठानी पड़ती है. कई चुनौतियों का सामना उन्हें करना पड़ता है तो ऐसे में उन्हें समझदारी से विश्वास से धैर्य से अपना कार्य करना चाहिए.टीवी का फुल फॉर्म क्या होता है

न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बनें

जॉर्नलिस्‍ट को न्यूज़ रिपोर्टर भी कहते हैं न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए और भी कई तरह के उनमें काबिलियत होना चाहिए गुण होना चाहिए आइए नीचे जानते हैं.

जनरल नॉलेज की जानकारी

एक टीवी पत्रकार को जनरलिस्ट को जनरल नॉलेज के बारे में पूरी जानकारी होना चाहिए तभी वह जो भी न्यूज़ बताएं व विस्तार से सही तरीके से बता सके इसके साथ ही वह हर एक समाचार पत्र हर एक न्यूज़ चैनल के बारे में अपडेट रहना चाहिए तभी वह जब न्यूज़ रिपोर्टर बनेंगे तो हर तरह के न्यूज़ बता पाएंगे.

करंट और अफेयर्स की जानकारी

कभी-कभी हम लोग न्यूज़ चैनल पर न्यूज़ देखते हैं किसी चीज का इतिहास कोई न्यूज़ रिपोर्टर बताते हैं तो ऐसे में एक बेहतरीन जॉर्नलिस्‍ट बनने के लिए करंट अफेयर्स के बारे में भी जानकारी रखना आवश्यक है. हर एक न्यूज़ चैनल पर किस तरह का न्यूज़ दिखाया जाता है

उससे अपडेट रहना पड़ता है नहीं तो कभी किसी इतिहास के बारे में कोई बात होगा उन्हें पता ही नहीं होगा तो वह नहीं बता पाएंगे जब उन्हें इतिहास के बारे में पता रहेगा तभी हर एक जानकारी को सही-सही देंगे तभी वह एक अच्छे पत्रकार बन सकते हैं लोग उनसे आकर्षित हो सकते हैं.

धैर्य और विश्वास

एक टीवी पत्रकार को न्यूज़ के बारे में पता करने के लिए समाचार के हर एक पहलू को खंगालने के लिए उसके तह तक जाने के लिए जगह जगह पर जाना पड़ता है. कभी-कभी ऐसी जगह पर भी जाना पड़ता है जहां कि बहुत तेज धूप रहता है कहीं ज्यादा बर्फ पड़ा रहता है

कहीं बरसात होते रहता है तो ऐसे समय में जब धैर्य से रहेंगे विश्वास से रहेंगे तो अपने काम को मन लगाकर करेंगे जो भी न्यूज़ के बारे में रिपोर्टिंग करने गए हैं उसको विस्तार से जान पाएंगे और लोगों के सामने भी उसको अच्छे से हर एक जानकारी को रख पाएंगे.

बात करने का तरीका

एक टीवी पत्रकार में सबसे बड़ा गुण सबसे बड़ा काबिलियत उसके बात करने का तरीका होता है जब एक पत्रकार का बात करने का तरीका सही रहेगा तो वह किसी से भी अच्छे से बात करेंगे. न्यूज़ चैनल पर हर एक जानकारी को अच्छे से लोगों को समझा पाएंगे क्योंकि एक रिपोर्टर को नेता, अभिनेता, विधायक, मंत्री, बिजनेसमैन या कभी-कभी पब्लिक के बीच में भी बात करना पड़ता है

तो ऐसे समय में उनका बात करने का तरीका उनका कम्युनिकेशन स्किल अच्छा रहेगा तो आसानी से उनसे बात कर पाएंगे और जॉर्नलिस्‍ट के तौर पर अपना कैरियर भी ज्यादा समय तक बना कर रख सकते हैं.

समझने की शक्ति

अक्सर हम लोग देखते हैं कि न्यूज़ चैनल पर डिबेट होता है तो उस डिबेट में कौन-कौन व्यक्ति किस तरह का सवाल पत्रकार से पूछ देते हैं कहीं पब्लिक के बीच में जाकर रिपोर्टिंग करते हैं उस समय कोई पब्लिक किसी भी तरह का सवाल पूछ सकते और उस सवाल को सुनकर पत्रकार को अपने दिमाग से समझ कर जवाब देना चाहिए

उसके लिए उसके पास सोचने समझने की शक्ति होनी चाहिए नहीं तो वह जनता के सवालों के घेरे में आ जाते हैं और इससे उनकी पर्सनालिटी पर उनके कैरियर पर भी असर पड़ता है.

तेज आवाज

एक रिपोर्टर का आवाज कड़क तेज होना चाहिए लोगों से जब भी बात करें जो भी न्यूज़ सुनाएं वह तेज आवाज में निडर होकर निर्भय होकर बात करें. ऐसे रिपोर्टर को जनता ज्यादा पसंद करती है जो अपना हर एक न्यूज़ लोगों के सामने बेझिझक होकर निडर होकर रखती हो.

फर्राटेदार बोलना

एक जॉर्नलिस्‍ट चाहे वह इंग्लिश न्यूज़ चैनल का रिपोर्टर हो या एक हिंदी न्यूज़ चैनल का जॉर्नलिस्‍ट हो उसे फर्राटेदार बोलना जरूरी है. अगर कोई रिपोर्टर हिचककर बीच-बीच में रुक कर बोलते है तो लोग उनका न्यूज़ देखना पसंद नहीं करते हैं ऐसा लगता है कि उसे कुछ भी मालूम नहीं है उसे बोलना नहीं आता है.

समझाने का तरीका

जब भी किसी न्यूज़ चैनल पर न्यूज़ देखते हैं और उसमें जो टीवी रिपोर्टर होते हैं हर एक न्यूज़ बहुत ही अच्छे तरीके से बारीकी से एक-एक करके लोगों को समझाते हैं उनका न्यूज़ देखना ज्यादा लोग पसंद करते हैं. उस जॉर्नलिस्‍ट को लोग ज्यादा पसंद करते हैं तो ऐसे में एक रिपोर्टर के अंदर समझाने की कला होनी चाहिए समझाने का तरीका होना चाहिए.

ज्यादा भाषाओं का ज्ञान

जब भी अगर कोई न्यूज़ रिपोर्टर बनना चाहे जॉर्नलिस्‍ट बनने का उनका सपना हो तो उन उस व्यक्ति को उस छात्र को एक से अधिक लैंग्वेज का नॉलेज का जानकारी होना चाहिए क्‍योंकि न्यूज़ रिपोर्टिंग करने के लिए एक राज्य से दूसरे राज्य कभी-कभी एक देश से दूसरे देश में भी जाना पड़ता है तो ऐसे में अगर उन्हें वहां का भाषा का जानकारी नहीं रहेगा तो वह वहां रिपोर्टिंग नहीं कर पाएंगे लोगों से बातचीत नहीं कर पाएंगे.

कभी-कभी हिंदी न्यूज़ चैनल पर कोई बात लोगों को बताने के लिए इंग्लिश में बोलना पड़ता है या किसी व्यक्ति से बात करने के लिए इंग्लिश में बात करना पड़ता है तो ऐसे में उन्हें अगर हर भाषा का ज्ञान रहेगा तो आसानी से न्यूज़ का रिपोर्टिंग कर सकते हैं.

कंप्यूटर नॉलेज

एक न्यूज़ जॉर्नलिस्‍ट के पास कंप्यूटर की अच्छी नॉलेज होनी चाहिए क्योंकि आज के समय में हर एक कार्य कंप्यूटर के द्वारा ही किया जा रहा है तो ऐसे में अगर किसी न्यूज़ का एडिटिंग करना है राइटिंग करना है टाइपिंग करना है तो अगर कंप्यूटर के बारे में जानकारी होगी तभी कार्य कर सकते हैं.

ईमानदार

एक टीवी रिपोर्टर को ईमानदार भी होना चाहिए क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि कोई सही खबर किसी नेता मंत्री के खिलाफ कोई खबर टीवी पर दिखाना होता है और वह पत्रकार पैसा लेकर वह न्यूज़ नहीं दिखाते हैं तो ऐसे में एक बेईमान न्यूज़ रिपोर्टर के वजह से किसी व्यक्ति का मनोबल बढ़ेगा आम जनता का उससे हानी होगा और अगर कोई इमानदारी से किसी के खिलाफ कोई न्यूज़ दिखाएगा तो आम जनता का भी विकास होगा.

समय का सदुपयोग

हर किसी के लिए समय का बहुत महत्व होता है तो एक टीवी पत्रकार को भी समय का पाबंद होना चाहिए समय का सदुपयोग करना चाहिए तभी वह समय से अपने कार्य पर पहुंच पाएंगे और न्यूज़ दिखा पाएंगे.

न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए कोर्स करें

इंडिया में या दुनिया में कई ऐसे कॉलेज और यूनिवर्सिटी है जहां की मीडिया कोर्स कराया जाता है तो अगर एक न्यूज़ रिपोर्टर बनना चाहते हैं तो सबसे पहले कोर्स करना पड़ता है उस कोर्स में एक जॉर्नलिस्‍ट के लिए क्या जरूरी है उसमें क्या काबिलियत होना चाहिए कि बारे में हर एक बात बताया जाता है तो एक रिपोर्टर बनने के लिए सबसे जरूरी है कि पहले कोर्स करें और उसके बाद जितने भी स्किल काबिलियत बताए गए हैं वह सभी जरूर होने चाहिए.

जॉर्नलिस्‍ट बनने के लिए कोर्स

12वीं के बाद या ग्रेजुएशन के बाद अगर किसी को जॉर्नलिस्‍ट बनना है न्यूज़ रिपोर्टर बनना है तो उनके लिए कई तरह के कोर्स है जिनको करने के बाद एक सफल एक बेहतरीन न्यूज़ रिपोर्टर बन सकते हैं.

ट्वेल्थ के बाद मीडिया कोर्स

  • बीए इन मास मीडिया
  • बैचलर ऑफ साइंस एनीमेशन एंड मल्टीमीडिया
  • बीएससी इन मास कम्युनिकेशन जनरलिज्म एंड एडवरटाइजिंग
  • बैचलर ऑफ जर्नलिज्म
  • बीए इन जनरलिज्म
  • बीएसई इन मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
  • बैचलर ऑफ आर्ट जनरलिज्म
  • b.a. जनरलिज्म इन इंग्लिश
  • बैचलर इन ब्रॉडकास्ट जनरलिज्म
  • बीए ऑनर्स जनरलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन

डिप्लोमा मीडिया कोर्स

  • डिप्लोमा इन टीवी न्यूज रिर्पोटिंग एंड एंकरिंग
  • डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन
  • डिप्लोमा जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन
  • डिप्लोमा इन मीडिया स्टडीज

मीडिया कोर्स के मास्टर डिग्री

  • मास्टर ऑफ आर्ट मास कम्युनिकेशन
  • मास्टर ऑफ आर्ट जनरलिज्म
  • मास्टर इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन
  • मास्टर इन कम्युनिकेशन
  • एमएससी इन मास कम्युनिकेशन
  • एमएसजी इन मास कम्युनिकेशन एडवरटाइजिंग एंड जनरलिज्म
  • एडिटोरियल राइटिंग
  • एक्सक्यूटिव डिप्लोमा इन जर्नलिज्म
  • पीजी डिप्लोमा इन रेडियो एंड टीवी जनरलिज्म
  • पीजी डिप्लोमा इन प्रिंट एंड ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म
  • पीजी डिप्लोमा ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म
  • स्पोर्ट्स जनरलिज्म
  • एक्सक्यूटिव डिप्लोमा इन जर्नलिज्म
  • इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिज्म
  • फोटोजर्नलिज्म
  • फैशन जनरलिज्म
  • पीजी डिप्लोमा इन टेलिविजन
  • पीजी डिप्लोमा इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन
  • बिजनेस एंड फिनेंशियल जनरलिज्म
  • एमएससी इन मास कम्युनिकेशन एडवरटाइजिंग एंड जनरलिज्म
  • पीजी डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक जनरलिज्म
  • पीजी डिप्लोमा इन न्यूज रिर्पोटिंग एंड एंकरिंग

मीडिया कोर्स करने के लिए कॉलेज

मीडिया कोर्स करने के लिए कई भारत में या दुनिया में बेस्ट कॉलेज है जिसमें पत्रकारिता का कोर्स कराया जाता है. लेकिन किसी भी कॉलेज यूनिवर्सिटी में एडमिशन कराने से पहले उस कॉलेज के बारे में पूरी जानकारी जरूर रखें कि किस कॉलेज में किस तरह का एडमिशन होता है उसमें डिग्री प्राप्त करने के बाद उसका प्लेसमेंट कैसा होता है उसके बाद ही एडमिशन कराना सही रहता है.

भारत की बेहतरीन पत्रकारिता कोर्स कॉलेज

  • भारतीय जनसंचार संस्थान दिल्ली
  • जागरण इंस्टीट्यूट आफ मास कम्युनिकेशन दिल्ली
  • छत्रपति शाहुजी महाराज यूनिवर्सिटी कानपुर
  • माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय भोपाल 
  • मनोरमा स्कूल आफ कम्युनिकेशन केरल 
  • आरके फिल्म एंड मीडिया अकैडमी दिल्ली 
  • एशियन अकैडमी आफ फिल्म एंड टेलिविजन नोएडा 
  • एपीजे विश्वविद्यालय 
  • एमजेपी रोहिलखंड 
  • विश्वविद्यालय बरेली 
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय 
  • जामिया मिलिया इस्लामिया दिल्ली 
  • गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर 
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन दिल्ली 
  • इलाहाबाद विश्वविद्यालय 
  • लेडी श्रीराम कॉलेज नई दिल्ली 
  • मणिपाल विश्वविद्यालय 
  • सिंबायोसिस इंस्टिट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन पुणे 
  • गुरु घासीदास विश्वविद्यालय बिलासपुर छत्तीसगढ़ 
  • चंडीगढ़ विश्वविद्यालय 
  • एमिटी विश्वविद्यालय 
  • लखनऊ विश्वविद्यालय 
  • इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी 
  • आईएसओएमईएसई स्ट्रीट ऑफ मास कम्युनिकेशन दिल्ली 
  • व्हिसलिंग वुड्स इंटरनेशनल मुंबई 
  • आंध्र यूनिवर्सिटी 
  • हैदराबाद यूनिवर्सिटी

जॉर्नलिस्‍ट बनने के लिए योग्यता

न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए कई कोर्स है लेकिन उन कोर्स के लिए कुछ योग्यता होना चाहिए एजुकेशनल क्वालीफिकेशन होना चाहिए तभी मीडिया कोर्स कर सकते हैं.

  • 12वीं के बाद कोई भी बैचलर कोर्स अगर टीवी पत्रकार बनने के लिए करना चाहते हैं तो उसके लिए 12वीं क्लास में 50 परसेंट अंक के साथ 12 वीं पास होना चाहिए. 
  • 12वीं साइंस, आर्ट्स, कॉमर्स आदि किसी भी सब्जेक्ट से किए हो तो आगे चलकर मीडिया कोर्स कर सकते हैं.
  • अगर कोई मीडिया कोर्स का बैचलर डिग्री प्राप्त करना चाहते हैं तो वह 3 साल का कोर्स होता है.
  • अगर ग्रेजुएशन के बाद मास्टर डिग्री प्राप्त करना चाहते हैं तो उसके लिए किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड के द्वारा बैचलर डिग्री प्राप्त होनी चाहिए और उसमें कम से कम 50 परसेंट मार्क्स होना चाहिए.

जॉर्नलिस्‍ट का क्या काम होता है

एक जॉर्नलिस्‍ट एक पत्रकार का मुख्य कार्य जनता का विकास करने के लिए आवाज उठाना है. कई बार ऐसा होता है कि जनता को किसी तरह की समस्या होती हैं वह सरकार के पास पहुंचाने में असमर्थ होती है तो ऐसे में किसी न्यूज़ चैनल के द्वारा किसी न्यूज़ रिपोर्टर के द्वारा आम जनता अपनी हर एक बात सरकार तक पहुंचाने में सक्षम होती है न्यूज़ रिपोर्टर जनता से सरकार के बीच की एक कड़ी होती है इनका मुख्य कार्य और क्या-क्या होना चाहिए जानते हैं.

  • किसी भी टीवी पत्रकार का यह मुख्य कार्य होता है कि वह अपने न्यूज़ चैनल पर किसी भी तरह के अफवाह या गलत न्यूज़ ना चलाएं.
  • आम जनता के बीच भेदभाव न करें और किसी भी तरह के गलत न्यूज़ दिखा कर के लोगों में असुरक्षा की भावना उत्पन्न न करें.
  • अपने न्यूज़ चैनल पर जो भी न्यूज़ जनता तक पहुंचाएं वह सही सटीक और विस्तृत रूप से जानकारी हो.
  • अगर कोई आम जनता का बात सरकार तक पहुंचाना जरूरी है तो वह एक टीवी पत्रकार का कार्य होता है वह आम जनता की आवाज सरकार तक पहुंचा सके. मीडिया का आवाज बने.
  • सरकार का वह बात पहुंचा कर आम जनता का विकास करने में सहायक हो.
  • लोकतंत्र के चार स्तंभ में पत्रकारिता को एक स्तंभ माना जाता है.
  • जब भी न्यूज़ चैनल पर कोई नेता अभिनेता मंत्री या कोई भी आए तो उनकी भी बात न्यूज़ रिपोर्टर सुने अगर वह अपनी ही बात बोलते रहेंगे दूसरे की बात नहीं सुनेंगे तो इससे उनका लोगों पर गलत इंप्रेशन पड़ता है.

Journalist kaise bane

जॉर्नलिस्‍ट का प्रकार

टीवी पर कई प्रकार के न्यूज़ चैनल देखते हैं जैसे कोई बिजनेस का न्यूज़ चैनल होता है कोई फैशन का न्यूज़ चैनल होता है किसी न्यूज़ चैनल पर सिर्फ क्राइम का समाचार दिखाता है तो किसी पर सिर्फ खेल से संबंधित समाचार दिखाए जाते हैं किसी पर सिर्फ फिल्मी जगत से ही समाचार दिखाए जाते हैं तो ऐसे में कई तरह के न्यूज़ रिपोर्टर भी होते हैं.

बिजनेस रिपोर्टर

एक बिजनेस रिपोर्टर सिर्फ बिजनेस व्यापार इकनोमिक से जुड़ी हर तरह के खबरों को जनता के पास पहुंचाते हैं. देश की आर्थिक गतिविधि कैसी है देश का सेंसेक्स कितना बढ़ा है कितना घटा है किस व्यापार में कितना छूट मिल रहा है.

पॉलिटिकल रिपोर्टर

जब भी किसी मंत्री का प्रेस कॉन्फ्रेंस होता है प्रधानमंत्री का मुख्यमंत्री का विधानसभा किसी भी राजनीतिक पार्टियों के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना होता है तो किसी पॉलिटिकल रिपोर्टर के द्वारा है यह सारी जानकारी मिल सकती है संसद में किस चीज पर बहस चल रहा है हर एक मंत्रालय में किस तरह का बदलाव हो रहा है

किस राजनीतिक पार्टी का हर एक समाचार किस तरह का है पॉलिटिकल रिपोर्टर का ही कार्य होता है की पॉलिटिक्स से जुड़ी हर एक खबरों का रिपोर्टिंग करें उस पर नजर रखें और उसे आम जनता के पास पहुंचाये.

स्पोर्ट्स रिपोर्टर

देश दुनिया के हर एक खेल जगत से जुड़ी जानकारियों को एक स्पोर्ट्स रिपोर्टर के द्वारा ही जाना जा सकता है. भारत में या दुनिया में कई तरह के खेल है जैसे कि क्रिकेट, फुटबॉल, टेनिस, हॉकी, टेबल टेनिस, बैडमिंटन, चैस आदि इन सारे खेलों का विस्तृत रूप से जानकारी एक स्पोर्ट्स रिपोर्टर के द्वारा ही मिलता है. भारत में या दुनिया में जब भी क्रिकेट का विश्वकप होता है हॉकी का चैंपियनशिप होता है या कॉमन वेल्थ गेम, ओलंपिक होता है तो हर एक न्यूज़ स्पोर्ट्स रिपोर्टर के द्वारा ही हमें पता चलता है.

हेल्थ रिपोर्टर

टीवी पर कई हेल्थ न्यूज़ चैनल भी होता है जिसमें हेल्थ से जुड़ी हर तरह के जानकारियों को दिया जाता है और इस तरह की news हेल्थ रिपोर्टर के द्वारा ही रिपोर्टिंग किया जाता है. लोगों को हर एक मौसम में किस तरह का खाना का सेवन करना चाहिए किस तरह से अपने परिवार का अपने शरीर का ख्याल रखना चाहिए वहीं बताते हैं.

क्राइम रिपोर्टर

देश दुनिया में किस जगह पर किस तरह का क्राइम हो रहा है अपराध हो रहा है इसके बारे में जानकारी एक क्राइम रिपोर्टर के द्वारा ही न्यूज़ चैनल पर दिखाया जाता है. क्राइम या अपराध से संबंधित हर तरह के समाचार देना क्राइम रिपोर्टर का मुख्य कार्य होता है ताकि उस अपराध पर सरकार प्रशासन कार्य कर सके आम जनता की सहायता कर सकें.

फैशन रिपोर्टर

टीवी फिल्म और फैशन जगत से जुड़े हर तरह की समाचार को एक फैशन रिपोर्टर एक फिल्म रिपोर्टर या कल्चर रिपोर्टर ही हमें जानकारी देते हैं.

इंटरटेनमेंट रिपोर्टर

अक्‍सर टीवी पर धारावाहिक टीवी सीरियल के बारे में हर एक जानकारी को देखा जाता है. वह एक इंटरटेनमेंट रिपोर्टर के द्वारा ही दिखाया जाता है सास बहू और साजिश से संबंधित बॉलीवुड, संगीत, एक्टर, एक्ट्रेस के हर एक जीवन के बारे में जानकारी सीरियल खेल मनोरंजन आदि के बारे में इस पर जानकारी दिया जाता है.फिल्म डायरेक्टर कैसे बने

जॉर्नलिस्‍ट में क्या गुण होना चाहिए

एक न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए कई तरह के गुण होना चाहिए काबिलियत होना चाहिए तभी वह आगे चलकर एक सफल रिपोर्टर बन सकता है उसका कैरियर न्यूज़ रिपोर्टिंग में ज्यादा दिनों तक बना रह सकता है.

भाषा का ज्ञान:- एक टीवी पत्रकार को हर एक भाषा का ज्ञान होना चाहिए अगर वह इंग्लिश में न्यूज़ रिपोर्टर बनना चाहता है तो इंग्लिश भाषा का अच्‍छे से ज्ञान होना चाहिए अगर हिंदी में बनना चाहते थे हिंदी भाषा का ज्ञान अच्छा से होना चाहिए ताकि वह हर क्षेत्र में अच्छे से अपना कार्य कर सकें.

निडर :- कई लोग ऐसे होते हैं कि अपने न्यूज़ को टीवी पर नहीं चलाने के लिए न्यूज रिपोर्टर को डराते हैं धमकाते हैं उन्हें जान से मारने की भी धमकी देते हैं लेकिन एक रिपोर्टर को निडर निर्भय होकर अपना कार्य करना चाहिए किसी व्यक्ति से डरकर न्यूज़ को चैनल पर बंद नहीं करना चाहिए कई बार कई बार ऐसी जगह पर एक रिपोर्टर को रिपोर्टिंग करने जाना पड़ता है जहां पर जाने से कोई भी व्यक्ति डरता है.

फोटोग्राफी :- कभी-कभी कोई न्यूज़ लाइव दिखाना पड़ता है और अगर वहां फोटोग्राफर नहीं पहुंच पाया या साथ में फोटोग्राफर नहीं है और कोई न्यूज़ दिखाना जरूरी है तो ऐसे में अगर एक न्यूज़ रिपोर्टर को फोटोग्राफी की गुण पता होगी फोटोग्राफी अच्छे से करनी आती है तो वह रिपोर्ट वह खबर लाइव जनता को दिखा सकते हैं.

किसी भी न्यूज़ के लिए एक्टिव :- एक पत्रकार को हमेशा किसी भी न्यूज़ को दिखाने के लिए तैयार रहना चाहिए एक्टिव रहना चाहिए अगर कहीं किसी भी तरह का घटना हो कोई खास न्यूज़ हो और उसको जब पत्रकार एक्टिव रहेगा तो अन्य न्यूज़ चैनल से पहले अपने चैनल पर दिखा देंगे.

बोलने की कला :- एक टीवी पत्रकार को बोलने की कला होनी चाहिए वह किस तरह का भाषा प्रयोग कर रहे हैं इसका ध्‍यान देना चाहिए. लोगों के सामने हर एक न्यूज़ को शुद्ध भाषा में लगातार बोल कर सुनाएं अपनी जबान पर संयम रखकर बोले.

आत्म विश्वास :- अपने आप में आत्मविश्वास रखकर सत्य और असत्य जो भी न्यूज़ है सही सही जनता के पास पहुंचाये.

राइटिंग :- एक रिपोर्टर को अपनी राइटिंग भी सही रखनी चाहिए क्योंकि जब वह न्यूज़ लिखकर के बेहतर तरीके से रखेंगे तभी जब चैनल पर न्यूज़ सुनाना होगा तो अच्छे से बोल पाएंगे.

हर न्यूज़ की समझ :- अगर किसी रिपोर्टर को चैनल पर न्यूज़ दिखाना है और उस न्यूज़ के बारे में पूरी जानकारी नहीं है तो उसका असर उनके कैरियर पर पड़ता है तो एक न्यूज़ रिपोर्टर को न्यूज़ के अच्छे से समझ होनी चाहिए किस तरह के न्यूज़ बनाना है किस न्यूज़ को किस तरह से लोगों को सुनाना है ताकि लोगों को फायदा हो आम जनता का विकास.टेलीविजन का आविष्कार किसने किया

मीडिया कोर्स के बाद कैरियर ऑप्शन

मीडिया कोर्स करने के बाद एक न्यूज़ रिपोर्टर एक जॉर्नलिस्ट के तौर पर तो कार्य कर ही सकते हैं लेकिन इसके साथ ही अगर चाहे तो और भी कई क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते हैं कई क्षेत्रों में एक मास कम्युनिकेशन कोर्स किए हुए व्यक्ति की मांग है उसमें कैरियर ऑप्शन कई मिल जाएंगे.

  • प्रिंट जर्नलिज्म
  • वेब पत्रकारिता
  • इलेक्ट्रॉनिक जर्नलिज्म
  • पब्लिक रिलेशन जॉब
  • रेडियो जॉकी
  • एडवरटाइजिंग
  • शिक्षण
  • क्लाइंट रिलेशनशिप मैनेजर

भारत की बेस्ट महिला न्यूज़ रिपोर्टर

  • अंजना ओम कश्यप 
  • श्वेता सिंह 
  • बरखा दत्त 
  • श्वेता झा 
  • रिचा अनिरुद्ध 
  • मेनका दोषी 
  • तनवीर गिल 
  • निधि राजदान 
  • शैरीन भान 
  • मिनी मेनन 
  • शैली चोपड़ा 
  • चित्रा त्रिपाठी 
  • अर्पिता आर्य 
  • नेहा बाथम

भारत के बेस्ट पुरुष न्यूज़ रिपोर्टर

  • सुधीर चौधरी 
  • आशुतोष चतुर्वेदी 
  • रवीश कुमार 
  • रजत शर्मा 
  • विक्रम चंद्र 
  • राजदीप सरदेसाई 
  • अर्णब गोस्वामी 
  • विक्रांत गुप्ता 
  • सचिन अरोड़ा
  • अभिषेक कात्‍यायन

भारत के प्रमुख न्यूज़ चैनल

  • आज तक 
  • दूरदर्शन 
  • ज़ी न्यूज़ 
  • एबीपी न्यूज़ 
  • रिपब्लिक भारत 
  • इंडिया टीवी 
  • एनडीटीवी 
  • इंडिया टुडे 
  • जी बिहार झारखंड 
  • डीडी न्यूज़ 
  • बीबीसी न्यूज़

FAQ

पत्रकार कैसे बने

एक पत्रकार बनने के लिए एक मीडिया रिपोर्टर बनने के लिए एक जॉर्नलिस्‍ट बनने के लिए कई कोर्स है जो ऊपर बताया गया है और इसके साथ ही उनमें कई तरह के गुण होना चाहिए कई तरह के काबिलियत होना चाहिए तभी वह एक न्यूज़ पत्रकार बन सकते हैं.

न्यूज़ रिपोर्टर की सैलरी कितनी होती

एक न्यूज़ रिपोर्टर की सैलरी उनके काबिलियत के हिसाब से उनके गुण के हिसाब से दिया जाता है. जब वह काम करना शुरू करते हैं तो लगभग 15000 से 30,000 तक से उनका शुरुआत होता.

न्यूज़ रिपोर्टर के प्रकार

न्यूज़ रिपोर्टर कई प्रकार के होते हैं जैसे कि बिजनेस रिपोर्टर, स्पोर्ट्स रिपोर्टर, पॉलीटिकल रिपोर्टर, क्राइम रिपोर्टर, फिल्‍म एंड कल्चर रिपोर्टर, इंटरटेनमेंट रिपोर्टर आदि.

निष्कर्ष

इस लेख में एक पत्रकार बनने के लिए जॉनलिस्ट बनने के लिए एक न्यूज रिपोर्टर बनने के लिए हर एक जानकारियों को साझा किया गया है. जॉनलिस्ट कैसे बने से जुड़े अगर को किसी भी तरह का सवाल या सुझाव है तो कृपया कमेंट करके जरूर पूछें.टीचर कैसे बने, योग्यता, कोर्स एवं कार्य 

Leave a Comment