हवाई जहाज का अविष्कार किसने और कैसे किया

Hawai jahaj ka avishkar kisne kiya in hindi सबसे पहले hawai jahaj का अविष्कार कब हुआ hawai jahaj का अविष्कार कैसे हुआ हवाई जहाज के अविष्कारक के बारे में यह सारी जानकारी हम लोग इस लेख में जानने वाले हैं.हवाई जहाज का अविष्कार कोई छोटा-मोटा अविष्कार नहीं था यह बहुत बड़ी उपलब्धि थी

क्योंकि हम लोगों को ट्रेन से या कार से कहीं जाने में 2 दिनों या 3 दिनों का समय लगता हैं वहीं पर हवाई जहाज से कुछ ही घंटों में हम लोग आराम से पहुंच जाते हैं इसलिए हवाई जहाज से कहीं भी सफर करने में समय का बचत हो जाता हैं.

तो हम लोग इस लेख में हवाई जहाज का अविष्कार के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे की हवाई जहाज का अविष्कार कब हुआ आइए नीचे विस्तार से जानते हैं.

Hawai jahaj ka avishkar kisne kiya 

हवाई जहाज का अविष्कार तो बहुत पहले से ही करने के लिए बहुत सारे वैज्ञानिकों ने कोशिश की थी लेकिन कोई भी वैज्ञानिक सही और सुरक्षित हवाई जहाज नहीं बना पाए थे

लेकिन इस अनोखे अविष्कार का श्रेय अमेरिका के दो भाइयों विल्बर राइट और ओरविल राइट को जाता हैं इन्हें राइट बंधु भी कहा जाता हैं सबसे पहले दुनिया में राइट बंधुओं ने ही सफलतापूर्वक हवाई जहाज का अविष्कार भी किया और सफलतापूर्वक उसको उड़ाया भी था.

Hawai jahaj ka avishkar kisne kiya in hindi

सबसे पहले जब उन्होंने उड़ान भरी तब उन्होंने 10 फुट की ऊंचाई तक ग्लाइडर को हवा में उड़ाया फिर नीचे गिर गया लेकिन फिर से दोबारा उन्होंने कोशिश करके ग्लाइडर को ऊपर उठाकर हवा में उड़ाया. हेलीकॉप्टर का अविष्कार किसने किया

तब 120 फुट उड़कर ग्लाइडर नीचे गिर गया लेकिन यह उड़ान उन्होंने 12 सेकंड में पूरा किया था इसी के बाद हवाई जहाज उड़ाने का जो सपना मनुष्य के मन में था वह लगभग पूरा हो गया और दुनिया में कई वर्षों तक हवाई जहाज का अविष्कारक के रूप में राइट बंधुओं को याद किया जाता रहेगा.

हवाई जहाज का अविष्कार कब हुआ

हवाई जहाज उड़ाने के लिए राइट बंधुओं ने कई वर्षों से इस काम में कार्यरत थे लेकिन उन्हें 17 दिसंबर 1903 को यह सफलता मिला

उन्होंने सबसे पहला ग्लाइडर का उड़ान भरा और लोगों को दिखाकर उन्होंने यह साबित कर दिया की बरसों से जो मनुष्य के मन में पक्षियों की तरह उड़ने की जो लालसा थी वह पूरा हो जाएगा .

हवाई जहाज का अविष्कार कैसेे हुआ 

राइट बंधुओं ने जो ग्लाइडर सबसे पहले बनाया था उसका आकार एक पतंग की तरह था. जिसे एक रस्सी से बांधकर हवा में उड़ाया जाता था जब उन्होंने यह ग्लाइडर तैयार कर लिया

तो उन्होंने एक ऐसी जगह की खोज की जहां पर बहुत दूर में कोई घर या कोई चीज नहीं हो जिससे कि उन्हें ग्लाइडर उड़ाने में कोई परेशानी न हो और उस जगह पर हवा अच्छे से प्रवाहित होती हो.

फिर राइट बंधुओं ने एक भाई ने रस्सी पकड़ा और दूसरे भाई ने ग्लाइडर में बैठकर उसे संतुलित करने लगे और इस तरह से उन्होंने ग्लाइडर को हवा में उड़ाना शुरू किया .

इस ग्लाइडर को सही तरीके से बनाने में राइट बंधुओं को लगभग 7 वर्षों का समय लगा उसके बाद ही उन्होंने यह उड़न मशीन बनाया जिस पर की एक आदमी बैठ कर उसे उड़ा सके.

हवाई जहाज का अविष्कार कैसे हुआ

विल्बर राइट और ओरविल राइट दोनों जब छोटे थे तब उनके पिताजी एक खिलौना लाए थे जो कि वह उड़ता था उसी को देख कर उन दोनों के मन में यह इच्छा जागी कि

वह भी वैसा ही उड़ने वाला एक मशीन बनाएंगे जिसमें कि बैठकर पक्षियों की तरह जहां मन करे वहां उड़ा जा सकता हैं. वह खिलौना हवाई जहाज की तरह ही था जिसके ऊपर पंखा जैसा लगा हुआ था.

वह खिलौना फ्रांस के किसी आदमी का बनाया हुआ था उस समय विल्बर राइट का उम्र 11 साल था और ओरविल राइट का उम्र 7 साल था. विल्‍बर राइट तो बड़े थे

लेकिन ओरविल राइट अभी बहुत छोटे थे फिर भी वह अपने भाई के साथ उस काम में मदद करते थे. दोनों भाइयों ने कई वर्षों तक प्रयास करते करते ग्लाइडर का अविष्कार किया

जो कि हवा में एक आदमी बैठा कर आराम से उड़ाता था और वह सबसे पहला उड़ान उन्होंने किटीहाट जगह पर जहां की भूमि एकदम निर्जन थी वहीं पर उन्होंने पहला उड़ान भरा था. मोटर साइकिल का आविष्कार किसने किया

हवाई जहाज का अविष्कारक के बारे में 

वायुयान के जन्मदाता विलबर राइट और ओरविल राइट अमेरिका के रहने वाले थे उनके पिता का नाम मिल्टन राइट था और उनकी माता का नाम सूसन कैथराइन था उनके पिता एक चर्च के पादरी थे.

 विल्‍बर राइट का जन्‍म 1867 में हुआ था और ओरविल राइट का जन्म 1871 में हुआ था. इन दोनों राइट बंधुओं ने अपने पिता के लाए हुए एक खिलौने को देखकर हवाई जहाज बनाने के कार्य में लग गए.

हवाई जहाज का अविष्कार उन्होंने कई वर्षों के मेहनत के फलस्वरुप किया इस बीच उन्होंने कई तरह के काम भी किए जैसे कि उन्होंने अखबार छापने का काम किया साइकिल बनाने का दुकान खोलें

और कई तरह के उन्होंने काम करते हुए हवाई जहाज के अविष्कार में लगे रहे अंतिम समय तक इनके पास एक भी पैसा नहीं था जिससे कि वह अपना गुजारा कर सके.

राइट बंधुओं का ऐतिहासिक काम

लेकिन जब उन्होंने दुनिया का ऐतिहासिक काम हवाई जहाज बनाकर किया उसके बाद उनका नाम पूरी दुनिया में मशहूर हो गया. पहले जब राइट बंधुओं ने हवाई जहाज उड़ाना शुरू किया तो कुछ ही दूरी पर से उड़कर हवाई जहाज नीचे गिर जाया करता था

उसके बाद लोग उन दोनों का मजाक उड़ाने लगे थे कोई भी उन पर विश्वास नहीं कर रहा था कि वह हवाई जहाज उड़ा सकते हैं लेकिन जब उन्होंने सफलतापूर्वक और सही ढंग से ग्लाइडर उड़ाया उसके बाद लोगों को उन पर विश्वास हो गया.

जब उन्होंने हवाई जहाज बना लिया उसके बाद वह फ्रांस गए. फ्रांस के एक समाचार पत्र में दोनों को लंबी गर्दन वाले पक्षी के रूप में दिखाया गया और उनका मजाक भी उड़ाया गया लेकिन जब विल्बर  राइट ने 91 मिनट में 52 मील की दूरी पर ग्लाइडर उड़ाया

उसके बाद वहां के लोग उनका नाम लेते नहीं थकते थे इसके बाद राइट बंधुओं को फ्रांस सरकार से 200000 का पुरस्कार भी मिला और फ्रांस के सरकार ने 30 इंजन बनाने का और आर्डर राइट बंधुओं को  दिया. साइकिल का आविष्कार किसने किया

 

सारांश  

इस लेख में हमने दुनिया में सबसे पहले हवाई जहाज का अविष्कार किसने किया हावाई जहाज का अविष्कार कब हुआ हवाई जहाज का अविष्कार कैसे हुआ सारी जानकारी विस्तृत रूप से देने का कोशिश किया हैं

हवाई जहाज का अविष्कार किसने किया आप लोग इस लेख को जरूर पढ़ें और इस लेख से जुड़े अगर कोई सवाल हैं तो हमें कमेंट करके जरूर पूछें.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment