पेट्रोल पंप कैसे खोले

पेट्रोल पंप कैसे खोले? पेट्रोल पंप खोलना सबसे जरूरी है कि किसी भी प्राइवेट या गवर्नमेंट पेट्रोलियम कंपनी द्वारा लाइसेंस के लिए अप्रूवल प्राप्‍त करें. बिना लाइसेंस का आपके पास भले ही बजट हो जगह हो, तब भी पेट्रोल पंप नहीं खोल पाएंगे.

आज के दौर में हर किसी का जीवन भागदौड़ से भरा हुआ है. इसलिए हर कोई कहीं भी आने-जाने के लिए अपने लिए खुद का यातायात का साधन उपयोग कर रहा है. किसी भी वाहन को चलाने के लिए उसमें पेट्रोल और डीजल की आवश्यकता होती है.

जो कि किसी भी पेट्रोल पंप पर जाकर भरवाते हैं. तो ऐसे में एक बहुत ही बड़ा स्वरोजगार का जरिया भी है. पेट्रोल पंप अपना कैसे खोले इस तरह का जानकारी कई लोग प्राप्त करना चाहेंगे. क्योंकि इसके माध्यम से बहुत ही अच्छी खासी कमाई हो जाती हैं. क्योंकि पेट्रोल और डीजल की आवश्यकता सबसे ज्यादा लोगों को अपना गाड़ी चलाने के हेतु है.

पेट्रोल पंप कैसे खोले

हर किसी के पास अपना यातायात साधन है. जिससे लोगों को पेट्रोल और डीजल का बड़े पैमाने पर आवश्यकता है. अगर 1 दिन भी लोगों को पेट्रोल-डीजल नहीं मिले, तो उनका जनजीवन प्रभावित होने लगता है. किसी भी जगह पर जाने,आने के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ेगा.

Petrol Pump Kaise Khole पेट्रोल पंप कैसे खोले

आजकल पेट्रोल पंप द्वारा कई लोग बेहतर कमाई कर रहे हैं. क्योंकि यह एक बहुत ही बड़ा मुनाफे का बिजनेस होता है. गवर्नमेंट सरकार या प्राइवेट भी कई ऐसे पेट्रोलियम कंपनी है जिनका लाइसेंस उपलब्ध कराते हैं.

लेकिन एक पेट्रोल पंप खोलने के लिए कुछ महत्वपूर्ण चीजों की आवश्यकता है, जिसके बिना कहीं भी खोलकर बिजनेस नहीं कर सकते हैं सीएससी सेंटर कैसे खोले

1. आवश्यक बजट

सबसे पहला आवश्यक बजट होता है. इसमें लगभग 3000000 से लेकर करोड़ों रुपए तक भी लग सकता है. वैसे यह एक अनुमानित आंकड़ा बताया गया है. किस जगह पर आप पेट्रोल पंप खोलना चाहेंगे। ग्रामीण इलाका है या शहरी इलाका है। उसी अनुसार निर्धारित किया जाता है कम पैसे में बिजनेस कैसे करें

2. रोड किनारे जमीन

अक्सर हम कहीं भी जाते हैं वहां अधिकतर पेट्रोल पंप सड़क किनारे ही देखते हैं. इसलिए अगर इस बिजनेस द्वारा कमाई करना हैं, तो सबसे पहले कहीं सड़क किनारे खुद का जमीन होना चाहिए. इसमें जमीन अगर किसी नेशनल हाईवे हाईवे किनारे खोलना चाहते हैं, तो वहां पर लगभग मिनिमम 1200 से 1600 वर्ग मीटर और अगर कहीं ग्रामीण इलाके में या कहीं और खोलना हैं तो कम से कम 800 वर्ग मीटर होना चाहिए.

तभी सरकार या किसी भी पेट्रोलियम कंपनी से अप्रूवल ले पाएंगे. जिस जमीन पर खोलना होगा, उसका सभी जरूरी दस्तावेज आपके पास होना चाहिए. अगर किसी दूसरे व्यक्ति से जमीन किराए पर लेकर भी खोलना है, तो उस व्यक्ति से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (NOC) लेना जरूरी है.

सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ-साथ उस व्यक्ति का लीज एग्रीमेंट कराने के बाद ही उस जमीन पर पेट्रोल पंप खोले. वह जमीन कृषि लायक नहीं होना चाहिए और साथ ही वहां पर बिजली का व्यवस्था 24 घंटे होनी चाहिए.

3. लाइसेंस अप्लाई करें

अगर आपके पास आवश्यक बजट और मेन रोड किनारे जमीन है, तो लाइसेंस अप्लाई करे. भारत में कई सरकारी और प्राइवेट ऑयल मार्केटिंग कंपनियां है, जिसके द्वारा लाइसेंस प्राप्त होगा.

जैसे कि इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड, भारतीय पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड, रिलायंस पैट्रोलियम लिमिटेड, हिंदुस्तान पैट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड, एस्सार ऑयल लिमिटेड, इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड आयल और नेचुरल गैस कॉरपोरेशन लिमिटेड आदि.

इन कंपनियों द्वारा लाइसेंस जारी करने के लिए विज्ञापन जारी किया जाता है. वह विज्ञापन ऑनलाइन माध्यम से या रोजगार समाचार पत्र में समय समय से जारी किया जाता है. इन विज्ञापनों की जानकारी रखें और उसके अनुसार लाइसेंस अप्लाई करें.

वैसे तो लाइसेंस के लिए बहुत लोग अप्लाई करते हैं लेकिन उसमें लॉटरी सिस्टम द्वारा लाइसेंस प्राप्त किया जाता है. वैसे तो जिस क्षेत्र में पेट्रोल पंप पहले से न हो वहां पर हो सकता हैं कि अप्लाई करने पर लाइसेंस आसानी से प्राप्त हो जाए.

लेकिन एक ही क्षेत्र से कई लोग आवेदन करते हैं, तो वहां पर लॉटरी सिस्टम द्वारा लाइसेंस प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाता है. लेकिन जिन क्षेत्रों में कंपनी अपना सहमति प्रदान की हैं।

उन क्षेत्रों में यदि सीमित संख्या में आवेदन हैं तो वहां पर आसानी से बिना लॉटरी भी अप्रूवल लेकर पेट्रोल पंप खोले। मेडिकल स्‍टोर कैसे खोले

4. अप्लाई करने का तरीका

वैसे तो हर चीज अधिकतर ऑनलाइन प्लेटफार्म के माध्‍यम ही किया जा रहा हैं. वैसे ही पेट्रोल पंप लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन करें। अगर  चाहे तो ऑफलानइ भी आवेदन कर पाएंगे.

जिस पेट्रोलियम कंपनी का लाइसेंस प्राप्त करना हैं उसके अधिकारीक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई करें। जो भी प्रक्रिया हैं, उसको सबमिट करके करें. उसके बाद अकाउंट क्रिएट करके आईडी पासवर्ड प्राप्त कर पाएंगे.

जिससे उस ऑयल मार्केटिंग कंपनी का विज्ञापन को देख पाएंगे. उस विज्ञापन के माध्‍यम यह जानकारी प्राप्त होगा कि वह कंपनी किन-किन जगहों पर अपना Petrol Pump खोलना चाहते हैं. अगर उन जगहों पर आपका जमीन हैं उस क्षेत्र में आप आसानी से बिजनेस कर पाएंगे। वहां पर अप्लाई करके अपना खुद का पेट्रोल पंप खोले।

5. आवश्यक डॉक्यूमेंट

जिस व्यक्ति के नाम से लाइसेंस लेना हैं उसका कुछ आवश्यक डॉक्यूमेंट भी होना जरूरी हैं. जिसके आधार पर उस व्यक्ति के बारे में हर तरह का प्रूफ मिलता हैं.

  • आधार कार्ड 
  • मूल निवास प्रमाण पत्र 
  • केवाईसी के लिए पैन कार्ड
  • ड्राइवरी लाइसेंस 
  • बैंक खाता के पीछे के 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट
  • जाति प्रमाण पत्र
  • जिस जमीन का सभी दस्तावेज और नक्शा
  • अगर जमीन किराए पर हैं तो उसका लीज एग्रीमेंट और आवश्यक दस्तावेज

6. बिजनेस स्टार्ट करें

ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करने के बाद सभी जरूरी दस्तावेजों का कंपनी के द्वारा वेरिफिकेशन किया जाता हैं. अगर सभी दस्तावेज लीगल हैं और जमीन भी पेट्रोल पंप खोलने के लायक बेहतर है, तो उसके बाद लाइसेंस के लिए अप्रूवल मिले जाएगा.

सभी जमीन और दस्तावेजों का वेरीफाई करने के बाद लाइसेंस आवेदक को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा. सही तरीके से इंटरव्यू होने के बाद लाइसेंस पेट्रोलियम कंपनी से अप्रूव कर दिया जाएगा. जिसके बाद अपने बिजनेस को स्टार्ट करें इलेक्‍ट्रोनिक शॉप कैसे खोले

पेट्रोल पंप खोलने के लिए योग्यता

किसी भी जगह पर Petrol Pump खोलने के लिए लाइसेंस के लिए अगर अप्लाई करते हैं, तो वहां पर कुछ जरूरी योग्यता और शर्तें भी मान्य होती है. जिसके आधार पर सभी योग्यताएं आवश्यक दस्तावेज आदि उपलब्ध है अप्रूवल ले पाएंगे.

  • आवेदक भारतीय नागरिक होना चाहिए.
  • अगर जनरल कैटेगरी से हैं तो 12वीं पास होना चाहिए.
  • एससी एसटी ओबीसी कैटेगरी आवेदक के लिए एजुकेशन टेंथ होना जरूरी है.
  • अगर शहरी क्षेत्रों में खोलते हैं तो क्‍वालिफिकेशन ग्रेजुएशन होना चाहिए.
  • उम्र सीमा 21 साल और ज्यादा से ज्यादा 55 साल आवश्यक है.
  • जिस जमीन पर खोलेंगे वह जमीन मेन रोड किनारे होना चाहिए.
  • जमीन अगर ग्रामीण इलाके में हैं तो उसका माप 800 वर्ग मीटर हो और अगर शहरी क्षेत्र में जमीन हो तो उसका माप 1200 से 1600 वर्ग मीटर रहना जरूरी है.
  • जमीन का सभी जरूरी दस्तावेज लीगल होना चाहिए.
  • अगर जमीन रेंट पर लेकर खोलना हैं तो उसके लिए उस जमीन मालिक का नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट और लीज एग्रीमेंट रहना चाहिए.
  • जिस जमीन पर खोलने के लिए लाइसेंस के लिए अप्लाई कर रहे हैं वह जमीन कृषि के लायक नहीं होना चाहिए.
  • इन सभी चीजों के होने के बाद सबसे जरूरी हैं कि जितना खर्चा लगेगा उतना आवश्यक बजट होना चाहिए.
  • उस जमीन पर बिजली की व्यवस्था 24 घंटे उपयुक्त होना चाहिए.

पेट्रोल पंप खोलने में कितना खर्चा होता हैं

खर्चा क्षेत्र के मुताबिक अलग-अलग होता होता है. शहरी इलाके में डीलरशिप प्राप्त करने के लिए ज्यादा बजट की जरूरत है. वहीं अगर ग्रामीण क्षेत्रों में खोलना हैं, तो शहरी इलाके के मुताबिक कम ही बजट में खोल पाएंगे।

डीलरशिप के लिए लगभग 15 से 20 लाख और अधिक से अधिक करोड़ रुपए भी लग सकता हैं. वैसे यह बजट एक अनुमान के आधार पर बताया गया हैं. इसमें अगर किसी नेशनल हाईवे किनारे खोलते हैं तो वहां पर ज्यादा से ज्यादा बजट की जरूरत होती है.

इसमें पैसे कम या ज्यादा लग सकते हैं. किस कंपनी का डीलरशिप लेना हैं, किस जगह पर खोलना चाहते हैं। उसी अनुसार अपने बजट का जानकारी पहले प्राप्त कर लें। उसके बाद ही अपने कारोबार को सेटअप करने के लिए तैयारी करें.

पेट्रोल पंप से कमाई कैसे होता है

वैसे पेट्रोल पंप से कमाई का जरिया जितना मात्रा में पेट्रोल और डीजल का बिक्री होगा उसी अनुसार मिलता है. इसमें किसी नौकरी की तरह पेट्राेलियम द्वारा सैलरी फिक्स नहीं होता हैं. 1 लीटर पेट्रोल बिक्री करने पर उस पर 2रू से 3रू तक कमीशन पेट्रोलियम कंपनी से प्राप्त होता हैं.

वहीं अगर डीजल बेचेंगे, उस पर प्रति लीटर 2रू का कमीशन मिल सकता है. 1 दिन में जितना पेट्रोल और डीजल बेचते हैं उसी अनुसार प्रॉफिट प्राप्त हो सकता हैं. उसमें से सभी खर्चों को काट कर जो भी कमाई होता है वही प्रॉफिट है.

सारांश

पेट्रोल पंप से सबसे ज्यादा कमाई कर सकते हैं. क्योंकि यह एक ऐसा व्यवसाय है जिसका कभी मंदी नहीं हो सकता है. हर रोज लोगों को कहीं भी जाने के लिए यातायत साधन की आवश्यकता है और उस साधन को चलाने के लिए पेट्रोल और डीजल जरूरी हैं.

इसलिए अगर इस व्यवसाय को शुरू करते हैं तो इसमें हर महीने लाखों की कमाई करेंगे. लेकिन पेट्रोल पंप कहां और कैसे खोले की जानकारी अनुसार ऊपर बताए गए आवश्यक बजट, जमीन, दस्तावेज और जरूरी योग्यता अगर है। उसके बाद लाइसेंस प्राप्त करके अपने इस व्यवसाय को स्टार्ट करें.

इसमें ज्यादा से ज्यादा कमाई भी होगा. इस लेख में दी गई जानकारी से अगर किसी तरह का सवाल या सुझाव है तो कमेंट द्वारा पूछ सकते हैं. इस लेख को अपने दोस्त मित्रों को सोशल मीडिया द्वारा शेयर भी जरूर करें ताकि अगर किसी को पेट्रोल पंप खोलकर कमाई करना हैं तो जानकारी मिल सके.

FAQ

Q1.दो पेट्रोल पंप के बीच की दूरी कितनी होनी चाहिए?

किसी भी क्षेत्र में 7 मीटर ऊंचाई और दोनों तरफ का एरिया 3 मीटर तक होना चाहिए. फिलिंग स्टेशन लगाने के लिए और जो भी फोर व्हीलर या टू व्हीलर गाड़ी वहां आए उसको खड़ा करने के वास्‍ते लगभग 30 मीटर की जगह आवश्यक है.

जिस क्षेत्र में यह व्‍यवसाय करना हैंं, तो मिनिमम उससे 300 मीटर की दूरी पर ही नया पेट्रोल पंप खोले बिना पैसे का बिजनेस कैसे करे

Q2. पेट्रोल पंप खोलने के फायदे?

जितना ज्यादा से ज्यादा पेट्रोल और डीजल का बिक्री होगा उसी अनुसार प्रति लीटर पर दो से तीन रुपया पेट्रोलियम कंपनी से कमीशन प्राप्त होता है.

Q3. पेट्रोल पंप कहां खोले?

कहीं भी घनी आबादी में नहीं खोल सकते हैं. इसको खोलने के लिए ग्रामीण या शहरी क्षेत्रों में मेन रोड के किनारे जमीन होना चाहिए और वह जमीन कृषि लायक नहीं होना चाहिए.

Q4. खुद का पेट्रोल पंप कैसे खोले?

अगर आपके पास आवश्‍यक बजट हैं, तो पेट्रोल पंप आसानी से खोल पाएंगे। लेकिन उसके लिए मेन रोड किनारे शहरी क्षेत्रों में 12 से 16 वर्ग मीटर जमीन जरूरी है और ग्रामीण इलाके में खोलने के लिए 800 वर्ग मीटर तक जमीन होना चाहिए। अगर आवश्‍यक बजट नहीं हैं, तो लोन लेकर यह व्‍यवसा

Leave a Comment