सब इंस्पेक्टर कैसे बनें | Sub Inspector Kaise Bane

Sub Inspector Kaise Bane सब इंस्पेक्टर पुलिस विभाग का एक पद होता है जिसे एसआई के नाम से भी जानते हैं. Sub Inspector को दरोगा भी कहा जाता है. कई युवाओं का एसआई बनने का सपना होता है इसके लिए वह कड़ी मेहनत और लगन से पढ़ाई करते हैं. लेकिन सब इंस्पेक्टर कैसे बने के बारे में पूरी जानकारी नहीं होने की वजह से कई बार असफल भी हो जाते हैं.

तो इस लेख में Sub Inspector के लिए योग्यता चयन प्रक्रिया SI Kaise Bane आदि जानकारी विस्तार से नीचे मिलेगी. पुलिस बल का सब इंस्पेक्टर एक ऐसा पद होता है जो कि पुलिस स्टेशन का कमान उनके हाथों में होता है. अदालत में अगर किसी केस से संबंधित चार्जसीट दायर करना होता है तो एसआई कर सकते हैं.

राज्य में एसआई बनने के लिए हर साल एग्जाम आयोजित किया जाता है इसके बाद कई प्रोसेस होते हैं जिसके बाद Sub Inspector पद के लिए नियुक्त किए जाते हैं विस्तार से जानने के लिए इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें. एएसआई का फुल फॉर्म क्या होता हैं

Sub Inspector Kaise Bane

सब इंस्पेक्टर को हिंदी में उप निरीक्षक कहते हैं. एसआई का पद एएसआई के ऊपर का रैंक होता है. एक Sub Inspector के वर्दी के उपर दो सितारे कंधे के पट्टी पर प्रतीक चीन्‍ह के रूप में होता है.

उसके आगे एक लाल और नीले रंग का धारीदार रिबन होता है. इसी पट्टी की वजह से एक एसआई पहचाने जाते हैं. Sub Inspector बनने के लिए पहले ग्रेजुएशन पास करना पड़ता है.

Sub Inspector Kaise Bane

क्योंकि कोई भी गवर्नमेंट जॉब अप्लाई करने के लिए एजुकेशन क्वालीफिकेशन ग्रेजुएट होना जरूरी है. ग्रेजुएशन करने के बाद राज्य सरकार के द्वारा एसआई का एग्जाम आयोजन किया जाता है उसका फॉर्म फिल्प करके एसआई का एग्जाम पास कर सकते हैं.

एग्जाम पास करने के बाद डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन, फिजिकल टेस्ट, मेडिकल टेस्ट भी क्वालीफाई करना पड़ता है. जिसके बाद एसआई नियुक्त किए जाते हैं.

उनके कार्यों को समझने के लिए कुछ दिनों के लिए उन्हें ट्रेनिंग भी दिया जाता है. जब ट्रेनिंग पूरा हो जाता है तो राज्‍य के किसी भी थाने में एसआई के पद पर नियुक्त कर दिया जाता है.

सब इंस्पेक्टर एक जांच अधिकारी के रूप में भी कार्य करते हैं किसी भी क्राइम एक्सीडेंट या कोई भी केस से संबंधित चार्जशीट अदालत में दाखिल करने के लिए इनके पास पावर होता है.

सब इंस्पेक्टर के लिए क्वालिफिकेशन

हर राज्य में Sub Inspector के लिए राज्य लेवल पर एग्जाम आयोजित किया जाता है. वैसे एसआई के लिए परीक्षा SSC या यूपीएससी के द्वारा आयोजित किया जाता है.

इस एग्जाम को क्वालीफाई करने के लिए पहले ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करना आवश्यक है. उसके बाद और भी कई तरह के शारीरिक परीक्षण आयु सीमा आदि होना आवश्‍यक है.

1. शैक्षिक योग्यता

  • एसआई के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन पास होना जरूरी है.
  • ग्रेजुएशन साइंस, कॉमर्स ,आर्ट्स किसी भी स्ट्रीम से पास करते हैं तो एसआई के लिए एग्जाम दे सकते हैं.
  • ग्रेजुएशन में मार्क्स भी निश्चित नहीं है बस ग्रेजुएशन अच्छे नंबर से पास होना आवश्यक है.

2. आयु सीमा

  • अगर Sub Inspector बनने के लिए एग्जाम देना चाहते हैं तो उसके लिए आयु सीमा कम से कम 21 साल और अधिक से अधिक 28 वर्ष होना चाहिए.
  • ओबीसी या एससी एसटी के लिए आयु सीमा में 5 साल और 3 साल की छूट दी जाती है.

3. हाइट

  • पुरुष के लिए हाइट 167.5 सेंटीमीटर होने चाहिए.
  • चेस्ट 81-86 होना चाहिए.
  • फीमेल के लिए हाइट 152.4 सेंटीमीटर निर्धारित किया गया है.

4. दौड़

  • सब इंस्पेक्टर बनने के लिए फिजिकल टेस्ट भी पास करना पड़ता है जिसमें पुरुष के लिए 28 मिनट में 4.8 किलोमीटर दौड़ परीक्षा पास करना पड़ता है.
  • महिला उम्मीदवार को 16 मिनट में 2.4 किलोमीटर दौड़ना आवश्यक है.

Sub Inspector के लिए सिलेक्शन प्रोसेस

सब इंस्पेक्टर को प्रथम जांच अधिकारी के रूप में भी जाना जाता है! एक एसआई बनने के लिए राज्य सरकार के द्वारा आयोजित होने वाला एग्जाम में पहले लिखित परीक्षा, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन और फिजिकल टेस्ट पास करना पड़ता है. उसके बाद एक सब इंस्पेक्टर के रूप में अपना कमान किसी भी थाने में संभालते हैं.

1. Written exam

एसआई बनने के लिए फॉर्म अप्लाई करने के बाद सबसे पहले रिटेन एग्जाम पास करना पड़ता है. लिखित परीक्षा में जो कैंडिडेट पास करते हैं वही आगे डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए बुलाए जाते हैं.

2. Document verification

रिटेन एग्जाम में जो कैंडिडेट पास करते हैं उनका डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होता है. उम्‍मीद्वार के पास जो भी डिग्री है उसक हर एक दस्तावेज का सत्यापन करने के बाद है उनका नियुक्ति किया जाता है.

3. Physical Test

जब दस्तावेज सत्यापन हो जाता है उसके बाद पास किए हुए सभी उम्मीदवारों का फिजिकल टेस्ट लिया जाता है. फिजिकल टेस्ट में दौड़, वजन, लंबाई, चेस्ट आदि टेस्ट पास करना पड़ता है. जो उम्मीदवार फिजिकल टेस्ट में पास कर जाते हैं वही अगले चयन प्रक्रिया के लिए बुलाये जाते हैं.

4. Medical Test

लिखित परीक्षा, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन, फिजिकल टेस्ट में जब उम्मीदवार पास हो जाते हैं तो उनका मेडिकल टेस्ट लिया जाता है. मेडिकल टेस्ट में उनके हर एक अंग का जांच किया जाता है.

उनके अंदर किसी भी तरह का कोई अंदरूनी बीमारी तो नहीं है इसका बेहतर तरीके से जांच होता है. अगर मेडिकल टेस्ट में पास कर जाते हैं तो उम्मीदवार को ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है.

5. ट्रेनिंग

सभी टेस्ट पास करने के बाद उम्मीदवारों को सब इंस्पेक्टर पद के लिए नियुक्त किया जाता है और उन्हें ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है. एक पुलिस का क्या क्या कार्य है Sub Inspector का क्या पावर होता है उन्हें हर तरह से ट्रेंड किया जाता है. ट्रेनिंग पूरा होने के बाद राज्य के किसी भी पुलिस थाने में सब इंस्पेक्टर के पद पर नियुक्ति किया जाता है.

Sub Inspector के लिए तैयारी

हर साल हर राज्य में Sub Inspector बनने के लिए राज्य सरकार के द्वारा परीक्षा आयोजित किया जाता है, जिसमें हजारों संख्या में अभ्यर्थी शामिल होते हैं. कई लोग उसमें सफल होते हैं कई असफल हो जाते हैं.

सब इंस्पेक्टर बनने के लिए हार्ड वर्क के साथ सही तरीके से पढ़ाई करना आवश्यक है. अगर अच्छे तरीके से एग्जाम का तैयारी नहीं होगा तो एग्जाम पास करना भी मुश्किल होता है.

1. कोचिंग ज्वाइन करें

हर छोटे या बड़े शहर में गवर्नमेंट जॉब की तैयारी के लिए कई कोचिंग सेंटर खुले हुए हैं. अगर Sub Inspector बनने के लिए बेहतर तैयारी करना चाहते हैं तो किसी कोचिंग सेंटर को ज्वाइन करें.

वहां पर अनुभवी टीचरों के द्वारा बेहतर तैयारी कराया जाता है. एसआई बनने के लिए एग्जाम में किस तरह का क्वेश्चन आ सकता है इसके लिए बेहतर गाइडेंस प्राप्त हो सकता है.

2. रोज रिवीजन करें

एग्जाम के लिए जो भी सब्जेक्ट जरूरी है उसका प्रतिदिन रिवीजन करें. हर रोज पढ़ने से क्वेश्चन आसानी से याद हो जाता है. इसके साथ ही हर रोज न्यूज़पेपर, टीवी न्यूज़ आदि के द्वारा करंट न्यूज़ पर ध्यान जरूर दें. जिस सब्जेक्ट में कमजोर है उस पर एक्स्ट्रा तैयारी करना आवश्यक होता है.

3. टाइम टेबल बनाएं

किसी भी एग्जाम को पास करने के लिए टाइम टेबल बनाकर अगर पढ़ाई करते हैं तो अच्छे तरीके से तैयारी हो पाता है. हर सब्जेक्ट के लिए अलग-अलग समय बनाकर तैयारी कर सकते हैं.

4. पिछले साल का क्वेश्चन पेपर देखें

एग्जाम देने से 1 साल या 2 साल पहले का जो भी सब इंस्पेक्टर के लिए एग्जाम का क्वेश्चन पेपर होता है उसको जरूर देखें. उस क्वेश्चन पेपर को देखकर हर एक क्वेश्चन के बारे में अनुमान लगाकर तैयारी कर सकते हैं.

5. पैटर्न और सिलेबस समझें

किसी भी एग्जाम को पास करने के लिए सबसे पहले उस एग्जाम के पेटर्न सिलेबस को समझना आवश्यक है. जब हर एक सब्जेक्ट के बारे में जानकारी हो जाएगा तो उस सब्जेक्ट का अच्छे तरीके से तैयारी कर सकते हैं.

6. ऑनलाइन तैयारी करें

एग्जाम पास करने के लिए ऑनलाइन भी घर बैठे तैयारी कर सकते हैं. ऑनलाइन तैयारी करने के लिए मोबाइल या लैपटॉप कंप्यूटर पर हर एक क्वेश्चन का आंसर देख सकते हैं.

वैसे ऑनलाइन तैयारी करने के लिए गूगल और यूट्यूब एक बेहतर प्लेटफार्म है. यूट्यूब पर वीडियो के माध्यम से भी कई अनुभवी टीचरों के द्वारा तैयारी करवाया जाता है. इस वीडियो के माध्यम से हर एक सिलेबस पेटर्न की अच्छी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

7. बुक खरीदें

Sub Inspector एग्जाम की तैयारी करने के लिए मार्केट में कई बुक भी मिलते हैं. उस किताब को खरीद कर हर एक क्वेश्चन के बारे में आंसर प्राप्त कर सकते हैं. एग्जाम में किस तरह का क्वेश्चन आ सकता है इसकी जानकारी कर सकते हैं.

सब इंस्पेक्टर की सैलरी

एक सब इंस्पेक्टर की सैलरी लगभग 45000 से 55000 तक हो सकती है. वैसे हर राज्य में सब इंस्पेक्टर का अलग-अलग वेतन होता है. इसके अलावा इन्हें सरकार की तरफ से कई तरह की सुविधा भी प्राप्त होती है जैसे आवास, महंगाई भत्ता, यात्रा भत्ता, फ्री बिजली बिल आदि.

सब इंस्पेक्टर का कार्य

पुलिस विभाग में हेड कांस्टेबल से ऊपर का पद Sub Inspector का होता है, तो किसी भी पुलिस थाने या चौकी का अधिकारी एक Sub Inspector होता है इनके कई कार्य होते हैं.

  • किसी भी केस से संबंधित चार्जशीट अदालत में दाखिल कर सकते हैं.
  • पुलिस चौकी का कमांड पूरी तरह से सब इंस्पेक्टर के हाथ में होता है.
  • किसी भी तरह के क्राइम का इन्वेस्टिगेशन सब इंस्पेक्टर कर सकते हैं इन्हें इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर के रूप में भी जाना जाता है.
  • जिस थाने में या पुलिस चौकी पर सब इंस्पेक्टर होते हैं वहां का हर एक विधि व्यवस्था बनाए रखना इनका कार्य होता है.
  • किसी भी क्राइम का जांच करना और अपराधियों को गिरफ्तार करना.
  • जनता को और जनता के संपति का सुरक्षा करना.
  • पुलिस स्टेशन में जो भी कांस्टेबल या हेड कांस्टेबल है उन पर नियंत्रण रखना और उनको अच्छे तरीके से लीड करना.
  • जिस थाने पर Sub Inspector है उस क्षेत्र में हर रोज हर एक विधि व्यवस्था को बनाए रखना और उस क्षेत्र में निगरानी रखना.

इसे भी पढ़ें

सारांश

Sub Inspector Kaise Bane सब इंस्पेक्टर बनने के लिए ऊपर जितने भी टिप्स दिए गए हैं उसमें योग्यता प्रोसेस तैयारी आदि हैं. उसके अलावा अपने स्वास्थ्य पर भी ध्यान रखना आवश्यक है.

क्योंकि लिखित परीक्षा के साथ-साथ फिजिकल टेस्ट भी पास करना होता है. जिसमें अगर पूरी तरह से स्वस्थ रहेंगे तो ही मेडिकल टेस्ट और फिजिकल टेस्ट में पास कर पाते हैं.

इस लेख में Sub Inspector कैसे बने से संबंधित हर तरह के जानकारी ऊपर दी गई है फिर भी अगर इससे संबंधित किसी तरह का सवाल या सुझाव है तो कृपया कमेंट करके जरूर बताएं.

Leave a Comment